आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

रॉकेट है या कार, पलक झपकते ही पहुंचेगी यहां से वहां

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क।

Updated Tue, 30 Oct 2012 10:20 AM IST
rocket car 42 feet lenth full speed supersonic car
लंबे रास्ते तय करने में समय तो लगता है और ऐसे में हम सोचते हैं कि काश रॉकेट में बैठते तो पलक झपकते ही गंतव्य तक पहुंच जाते। आपकी ये सोच पूरी होने जा रही है क्योंकि एक कार आ गई है जो आपके पलक झपकाने से पहले आपको एक शहर से दूसरे शहर में पहुंचा सकती है। सोचिए तो जरा, राजधानी दिल्ली में कार में बैठें और अगले घंटे बिहार, उत्तरप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र या किसी दूसरे राज्य के किसी दूरस्थ गांव में पहुंच जाएं?
ज्यादातर लोग इसे कल्पना की उडा़न कहेंगे लेकिन इस कल्पना की उड़ान को सच मान लीजिए। ब्रिटेन में इंजीनियरों की एक टीम ने ऐसी हाइब्रिड कार बनाने में काफी हद तक सफलता पा ली है, जो जमीन पर रॉकेट की रफ्तार से चलेगी।
बीबीसी में प्रकाशित खबर के अनुसार ब्लडहाउंड सुपर सोनिक कार 42 फीट लंबी है और इसकी रफ्तार 1,610 किलोमीटर प्रति घंटा है। इस कार में यूरोफाइटर के टाइफून जेट का इंजन लगाया गया है। साथ ही इसके साथ एक रॉकेट भी जोड़ दिया गया है। ये कार दुनिया भर की सड़कों पर हवा से बातें करने वाली तमाम कारों को पीछे छोड़ती नजर आएगी।

ब्लडहाउंड प्रोजेक्ट से जुड़े विंग कमांडर ग्रीन ने बीबीसी से इस ड्रीम कार पर विस्तार से बातचीत की। ग्रीन ने बताया कि इसी महीने ब्लडहाउंड टीम ने कार का फायरिंग टेस्ट तमाम देशों की मीडिया और प्रशंसकों से सामने किया।

सफल रहा रफ्तार का परीक्षण
ग्रीन बताते हैं ये परीक्षण सफल रहा और बिल्कुल वैसा ही था जैसा उन्होंने और उनकी टीम ने सोचा था। दरअसल, पहली बार इस हाइब्रीड कार का फायरिंग टेस्ट हुआ। जो अब तक हुए इस कार के परीक्षणों में से सबसे महत्वपूर्ण था।

पहली बार इंजीनियरों की टीम ने तेज रफ्तार पंप का सहारा लेकर फायरिंग को अंजाम दिया। इसके लिए कॉसवर्थ फार्मूला वन इंजन का इस्तेमाल किया गया।

ग्रीन कहते हैं कि इस काम का सबसे ज्यादा श्रेय इंजीनयरिंग टीम को दिया जाना चाहिए क्योंकि इससे आग उत्पन्न करने के लिए कम से कम 800 हॉर्स पावर की ताकत की जरूरत थी और ग्रीन इसे लेकर आश्वस्त नहीं थे लेकिन इंजीनियरों ने इसे संभव कर दिखाया।

ग्रीन मानते हैं कि फार्मूला-वन इंजन को गर्म कर पाना काफी कठिन काम था क्योंकि ये तब तक शुरू नहीं होता जब तक इंजन गर्म ना हो जबकि अक्तूबर महीने में ब्रिटेन का न्यूक्वे एयरपोर्ट काफी ठंडा रहता है। इंजन को गर्म करने के लिए 80 परतों वाली सिल्वर ऑक्साइड को हाइड्रोजन पैरा-ऑक्साइड के साथ मिलाया गया और फिर उसमें पानी और ऑक्सीजन की मिलावट की गई। कुछ सेकेंड पश्चात इसमें 600 हार्स पावर की ऊर्जा उत्पन्न होने लगी जिसने हाइब्रिड रॉकेट में आग पकड़ाने में मदद की।

रॉकेट में आग पकड़ते ही उससे चमकीली नारंगी रोशनी निकलनी शुरू हुई जिसने आस-पास तूफान ला दिया। 10 सेकेंड के इस समय में जब तक रॉकेट से आग निकलती रही वहां लगे तमाम कैमरे इधर-उधर हो गए। हल्की और कमजोर वस्तुएं 200 मीटर की दूरी तक उड़ कर चली गईं।


कैसा है कार का ढांचा

इस कार का ढांचा तैयार करने में पांच कंपनियां लगी हैं। जो महज एक टन का होगा। हालांकि इसे बनाने में छह टन कच्चा माल लगेगा। कार को ज्यादातर स्टील और एल्यूमीनियम से बनाया जाएगा। मेटल से बने ढांचे जेट इंजन से पैदा होने वाली तेज गर्मी, कंपन को बर्दाश्त करने और रेगिस्तान की धूल से कार के नीचे के हिस्सों को घिसने से बचाने के लिए उपयुक्त होंगे। रफ्तार अगर एक हज़ार मील प्रति घंटा होगी तो पहिए भी साधारण नहीं हो सकते। एक मिनट में दस हज़ार बार घूमने वाले ये पहिए ठोस एल्यूमीनियम से बनाए जाएंगे। इन पहियों को लगाने से पहले कार में कम गति पर चलने वाले पहिए लगाकर ब्रिटेन के एक रनवे पर उसकी जांच की जाएगी। यानी 2008 में शुरू हुए इस प्रोजेक्ट को सफल रूप में 2014 में देखने की उम्मीद की जा सकती है और कल्पना की दुनिया को साकार रूप दिया जा सकता है।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

सालों बाद मिला आमिर का ये को-स्टार, फिल्में छोड़ इस बड़ी कंपनी में बन गया मैनेजर

  • सोमवार, 24 जुलाई 2017
  • +

इस मानसून इन हीरोइनों से सीखें कैसा हो आपका 'ड्रेसिंग सेंस'

  • सोमवार, 24 जुलाई 2017
  • +

जब शूट के दौरान श्रीदेवी ने रजनीकांत के साथ कर दी थी ये हरकत

  • सोमवार, 24 जुलाई 2017
  • +

50 वर्षों बाद बना है इतना बड़ा संयोग, आज खरीदी गई हर चीज देगी फायदा

  • सोमवार, 24 जुलाई 2017
  • +

हिट फिल्म के बावजूद फ्लॉप हो गई थी ये हीरोइन, अब इस फील्ड में कमा रही है नाम

  • सोमवार, 24 जुलाई 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!