आपका शहर Close

क्या आप जानते हैं कहां गायब हो गए 'येति'

नई ‌दिल्ली

Updated Thu, 20 Sep 2012 03:45 PM IST
Do you know where disappeared Yeti
हिममानव यानी येति का रहस्य आज भी अनसुलझा है। इसके अस्तित्व को लेकर विश्व भर के वैज्ञानिक शोध में लगे हुए हैं। पिछले साल अक्तूबर महीने में रूस के केमेरोवा में अंतरराष्ट्रीय येति कॉन्फ्रेंस हुई थी। कॉन्फ्रेंस में वैज्ञानिकों ने साइबेरिया में येति के होने के एक नहीं कई सबूत पेश किए। जिसमें एक सबूत के तौर पर येति के बालों का गुच्छा पेश किया गया।
वैज्ञानिकों का तर्क था कि यह येति के बालों का गुच्छा है। 'ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय’ और ‘द लुसाने म्यूजियम ऑफ जूलॉजी’ ने मिलकर नए आनुवांशिक तकनीकों के जरिए उन जैविक अवशेषों की जांच करने की योजना बनाई जिनके बारे में कुछ लोगों का दावा है कि ये अवशेष हिममानव के हैं।

हिममानव यानी येति को देखने का दावा बहुत से लोगों ने किया है। लेकिन सभी ने यही कहा है कि येति कुछ क्षणों के लिए ही नजर आए और बर्फ के बीच कहीं लुप्त हो गये। जिन लोगों ने हिममानव को देखने का दावा किया है, उनके मुताबिक इनकी लंबाई 9 फीट है और इनका वजन तक़रीबन दो सौ किलो हो सकता है। इनकी आंखें लाल है और पूरे शरीर पर भूरे घने बाल हैं। यह इंसानों की तरह दो पैरों पर चलते हैं।

दुनिया को पहली बार 1832 ई. में येति के अस्तित्व का पता चला। पर्वतारोही बी.एच. होजसन उत्तरी नेपाल के पहाड़ी इलाके में ट्रैकिंग कर रहे थे। उसी दौरान उनके गाइड ने एक विशालकाय प्राणी को देखा। यह प्राणी इंसानों की तरह दो पैरों पर चल रहा था। इसके शरीर पर घने लंबे बाल थे। इस विचित्र पाणी को देखकर गाइड भाग गया।

होजसन ने एशियाटिक सोसाइटी के जर्नल में इस घटना का उल्लेख किया है। होजसन ने ही पहली पर इस विचित्र प्राणी को येति नाम दिया था। येति को अमेरिका में बिग फुट यानी बड़े पैरों वाला कहा जाता है। क्योंकि अब तक येति के जो भी साक्ष्य मिले हैं उसमें येति के बड़े-बड़े पांव होने की बात कही गयी है।

रॉयल ज्योग्रॉफिकल सोसाइटी के फोटोग्राफर एम.ए. टॉमजी ने सन् 1925 में जेमू ग्लेशियर के पास एक विचित्र प्राणी को देखने का दावा किया। इसके शरीर की बनावट इंसानों जैसी थी। इसके शरीर पर बहुत अधिक बाल थे। यह इंसानों की तरह चल रहा था। कुछ ही देर में वह बर्फ के बीच कहीं खो गया। जहां पर वह विचित्र प्राणी मौजूद था वहां जाने पर टॉमजी ने ऐसे पदचिह्न देखे जो सात इंच लंबे व चार इंच चौड़े थे।

येती के विषय में एक रोचक घटना 1938 में सुनने को मिली। कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल की देखरेख करने वाले कैप्टन ने बताया कि हिमालय की यात्रा के दौरान जब वो बर्फीली ढलान पर फिसल कर घायल हो गये तब प्रागैतिहासिक मानव जैसे दिखने वाले एक 9 फीट लंबे प्राणी ने उसे उठाया और अपनी गुफा में ले गया। इस प्राणी ने उसकी खूब सेवा की।

येति से जुड़ी एक बड़ी रोचक घटना है एवरेस्ट गांव की। एक शेरपा लड़की अपने याक चरा रही थी। उसने बंदर जैसे एक विशाल प्राणी को देखा। लड़की विशाल प्राणी को देखकर डर गयी। इस प्राणी ने लड़की का हाथ पकड़ा और खींच कर ले जाने लगा। लड़की के जोर-जोर से चिल्लाने पर उस प्राणी ने लड़की को छोड़ दिया और उसके याक को मार कर उसका मांस खाता हुआ चला गया। यह घटना 1974 की है।

इस घटना की पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करायी गयी। पुलिस को लड़की द्वारा बताये स्थान से विचित्र प्राणी के पदचिन्ह मिले। हाल-फिलहाल में 2008 में मेघालय के गारो हिल्स के आस-पास रहने वाले लोगों ने एक ऐसे प्राणी को देखने का दावा किया है जिसकी लंबाई 10 फीट थी। इसका वजन करीब 300 किलोग्राम रहा होगा। पर्वतारोही सर एडमंड हिलरी और तेनज़िंग नोर्गे ने भी 1953 में एवरेस्ट चढ़ाई के दौरान बड़े-बड़े पदचिह्न देखने की बात कही थी।
Comments

स्पॉटलाइट

मां ने बेटी को प्रेग्नेंसी टेस्ट करते पकड़ा, उसके बाद जो हुआ वो इस वीडियो में देखें

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

15 साल पहले जहां शाहरुख-रानी ने किया था रोमांस, वहीं टीवी की ये जोड़ी लेगी 7 फेरे

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

नहीं रहीं मीना कपूर, स्कूल टाइम में ही बना लिया बॉलीवुड में करियर, मौत के वक्त अकेलापन...

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

इसे कहते हैं 'Bang-Bang आविष्कार', कबाड़ से बना दी इतनी महंगी कार

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

स्विमसूट में ये क्या कर रही हैं ईशा गुप्ता, तस्वीर देख कह उठेंगे 'पोजिंग क्वीन'

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!