आपका शहर Close

जब बकरा बन गया 'जनरल', मदद की अनोखी दास्तां

लैंसडौन।

Updated Tue, 30 Oct 2012 10:34 AM IST
bakra became general army praise him
फौजी अहसान नहीं भूलते। 1919 के एंग्लो-अफगान युद्ध में मोर्चे पर रॉयल अंग्रेजी सेना का हिस्सा रही गढ़वाल राइफल की एक टुकड़ी ने अपने मददगार बकरे का अहसान उसे ‘जनरल’ का दर्जा देकर चुकाया था। बकरे को लैंसडौन भी लाया गया था।
फरिश्ता बनकर आया था सामने
तीसरा एंग्लो-अफगान युद्ध कठिन हालात में हुआ था। इसमें अंग्रेजी फौज के लगभग 17 सौ लोग मारे गए थे। चित्राल (अफगानिस्तान सीमा) क्षेत्र में तैनाती के दौरान गढ़वाल राइफल्स की एक टुकड़ी भटक गई। फौजी भूख-प्यास से तड़प रहे थे। तभी झाड़ियों से एक बकरा रहमत का फरिश्ता बनकर सामने आया। बड़ी सींगें और दाढी़ वाले बकरे को पहले तो टुकड़ी ने मारना चाहा। फिर कुछ सोचकर उसके पीछे-पीछे चलने लगी। बकरे ने न सिर्फ टुकड़ी को राह दिखाई बल्कि वह एक ऐसी जमीन पर ले गया जहां बड़ी मात्रा में आलू दबे थे। उसे खाकर टुकड़ी ने जान बचाई। बकरे ने फौजियों को आगे की भी राह दिखाई।

कहीं भी जाने की थी आजादी
जनरल बकरे को लैंसडौन में पूरी आजादी थी। सैनिक बैरक में उसे एक कमरा दिया गया था। बाजार में जिस चीज को वह खाने लगता उसे कोई रोकता नहीं था। उसका बिल दुकानदार सेना को देते थे जहां से उसका भुगतान हो जाता था।

किताबों-किस्सों में बकरा जनरल का जिक्र
बकरा जनरल का जिक्र इतिहासकार डॉ. रणवीर सिंह चौहान ने प्रसिद्ध पुस्तक ‘लैंसडौन सभ्यता और संस्कृति’ और साहित्यकार योगेश पांथरी ने अपनी पुस्तक ‘कालौडांडा से लैंसडौन’ में किया है। लैंसडौन में सबसे पहले बसे परिवारों में से एक के वर्तमान मुखिया रामदास गुप्ता और लैंसडौन के पुराने निवासी रमेश चंद्र शर्मा का कहना है कि जनरल बकरा को उन्होंने तो नहीं देखा। अलबत्ता, परिजन उसके बारे में बताते थे।
Comments

स्पॉटलाइट

'पद्मावती' विवाद पर दीपिका का बड़ा बयान, 'कैसे मान लें हमने गलत फिल्म बनाई है'

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

'पद्मावती' विवाद: मेकर्स की इस हरकत से सेंसर बोर्ड अध्यक्ष प्रसून जोशी नाराज

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

कॉमेडी किंग बन बॉलीवुड पर राज करता था, अब कर्ज में डूबे इस एक्टर को नहीं मिल रहा काम

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

हफ्ते में एक फिल्म देखने का लिया फैसला, आज हॉलीवुड में कर रहीं नाम रोशन

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

SSC में निकली वैकेंसी, यहां जानें आवेदन की पूरी प्रक्रिया

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!