आपका शहर Close

ये मैं किससे जा टकराई कॉलेज में!

इंटरनेट डेस्क

Updated Mon, 10 Dec 2012 01:56 PM IST
आज सुबह कॉलेज में एक लड़का मुझे देखकर अजीब सी स्माइल दे रहा था उसने पूछा- मैं यहाँ बैठ जाऊं? पूछकर वो खुद ही मेरे बाजू में बैठ गया, गधे ने मेरी ब्यूटी स्लीप बर्बाद कर दी। इससे पहले कि मैं कुछ कहती या पूछती उसने खुद ही बोलना शुरू कर दिया- तुम पिंकी हो ना? सिविल लाइन्स वाली गायत्री आंटी की बेटी? मैंने सोचा- हे भगवान् क्या मेरी माँ ने मेरे पीछे जासूस छोड़ रखे हैं, इसे मेरे बारे में कैसे पता है?
उसने फिर से अपना सवाल दोहराया। मैंने हाँ में सर हिला दिया। मैं जानता था, देखो मैंने तुम्हे पहचान लिया पर तुम मुझे नहीं पहचान पाई- ये कहते हुए गधा ऐसे खुश हो रहा था मानो कौन बनेगा करोड़पति जीत लिया हो। साला कहीं का प्राइम मिनिस्टर है क्या जो लोग उसको पहचानेंगे। उसने कहा- मैं प्रतीक, प्रतीक अग्रवाल, अरे बी-168 वाला, याद नहीं बचपन में तुम मेरे ही खिलौनों से खेलती थी और मैं कोने में खड़ा तुम्हे देखता रहता था। :(
अरे प्रतीक, वो ही प्रतीक जो पूरे वक़्त अपनी निक्कर पकड़ के घूमता था कि कहीं उतर ना जाए। इस गधे की याददाश्त तो हाथी जैसी तेज़ निकली। मैंने पूछा- तुमने मुझे पहचाना कैसे? तुम्हारी फॅमिली तो बचपन में ही वहां से शिफ्ट हो गयी थी। उसने बताया कि अभी भी वो हमारे एरिया में आता जाता रहता है, और वहीँ उसने मुझे देखा है। और 'आई मिस्ड यू यार!" बोल के मुझे हग करने लगा। अब वो मौके का फायदा उठा रहा था या लड़के-लडकियां आजकल कॉलेज में यूँ ही हग करते हैं, मैं मुई कैसे समझती, आज तक किसी लड़के से हाथ तक नहीं मिलाया, गले लगना तो फिर दूर की बात है। बुड्ढा जा चुका था और अब ये मियाँ भी सी यू बोल कर निकल लिए।
तभी हमारी क्लास की हीरोइन कमर मटकाती और जानबूझ कर कुछ ज्यादा ही उछलते हुए आई, फिर क्या होना था सारे लड़के उसी को घूरने लगे। उनकी तो आज चांदी थी, अपनी गिरी हुई पेन उठाने के लिए जैसे ही वो झुकी, सारे लड़कों का क्लास में बैठना सार्थक हो गया। अब तो शायद ही कोई लेक्चर वो मिस करना चाहें, इस इंतज़ार में कि कि शायद दोबारा पेन गिर जाए।
अब कोई लड़की लड़कों को तो धोखा दे सकती है, पर हमे तो सच्चाई पता है। अभी पिछले हफ्ते ही जब पिया के साथ मार्किट गयी थी, तो सेल्सगर्ल ने मुझे भी पुशअप ब्रा दिखाई थी। लेना तो मैं भी चाहती थी, पर पैसे कहाँ से आते। मेरी माँ तो 100 रुपये वाला पैक खरीदती हैं वो भी साल में एक बार, और जितने की ये एक आएगी, उतने में तो वो अपना जीवन काट दें।
खैर, कॉलेज खत्म होने की बैल बज चुकी थी और अब दो दिनों की छुट्टी। और इन छुट्टियों के लिए मेरा एक स्पेशल प्लान है...।
Comments

स्पॉटलाइट

'पद्मावती' विवाद पर दीपिका का बड़ा बयान, 'कैसे मान लें हमने गलत फिल्म बनाई है'

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

'पद्मावती' विवाद: मेकर्स की इस हरकत से सेंसर बोर्ड अध्यक्ष प्रसून जोशी नाराज

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

कॉमेडी किंग बन बॉलीवुड पर राज करता था, अब कर्ज में डूबे इस एक्टर को नहीं मिल रहा काम

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

हफ्ते में एक फिल्म देखने का लिया फैसला, आज हॉलीवुड में कर रहीं नाम रोशन

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

SSC में निकली वैकेंसी, यहां जानें आवेदन की पूरी प्रक्रिया

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

Most Read

खतरा

Ramganga water level up, hazard hazard
  • गुरुवार, 13 जुलाई 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!