आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Viral Kavya ›   viral shayari on whatsapp
viral shayari on whatsapp

वायरल

वायरल शायरी: जिंदगी तुझसे समझौता क्यूं किया जाए, शौक जीने का है मगर...

काव्य डेस्क-अमर उजाला, नई दिल्ली

1197 Views
1
जज़्बातों के खेल में मुहब्बत के सबूत न मांग हमसे
मैंने वो आंसू भी बहाए हैं जो मेरी आंखों में न थे

2
कौन कहता है कि आंसुओं में वज़न नहीं होता
एक भी छलक जाता है तो मन हल्का हो जाता है

3
कुछ लोग भूल के भी भुलाए नहीं जाते
ऐतबार इतना है कि आजमाए नहीं जाते

4
अब वहां यादों का बिखरा हुआ मलबा ही तो है 
जिस जगह इश्क ने बुनियाद-ए-मकां रखी थी

5
झूठ बोलकर तो मैं भी दरिया पार कर जाता
मगर डुबो दिया मुझे सच बोलने की आदत ने

6
नुमाइश करने से मुहब्बत बढ़ नहीं जाती
मुहब्बत वो भी करते है जो इजहार नहीं करते

7
सुना है एक निगाह से कत्ल होते हैं लोग
एक नजर हमको भी देख लो जिंदगी अच्छी नहीं लगती

8
है कोई मेरे ख़्वाब की ताबीर बताने वाला
मैंने देखा है, अपनी लाश पे रोते खुद को

9
एक शख्स है जो मेरा होना नहीं चाहता
और दिल है कि उसे खोना नहीं चाहता

10
जिंदगी तुझसे समझौता क्यूं किया जाए
शौक जीने का है मगर इतना भी नहीं
कि मर-मर कर जिया जाए


(ये शायरी इंटरनेट की दुनिया में लोकप्रिय है। इनके रचनाकार का नाम पता नहीं चल सका। अगर आपको लेखक का नाम मालूम हो तो ज़रूर बताएं। शायरी के साथ शायर का नाम लिखने में हमें ख़ुशी होगी।)
Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!