आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

Home›  kavya›  Mere Azeez Filmi Nagme

बताएं किसी ऐसी फिल्मी गीत के बारे में जिसके बोल आपके दिल में बसते हैं

'या दिल की सुनो दुनियावालों'...टूटे दिल की मख़मली आह

  • आसिफ इकबाल, नई दिल्ली
  • बुधवार, 26 जुलाई 2017

ज़िंदगी एक ऐसी किताब है, जिसके हर सफ़े पर मुख़्तलिफ़ पल बिखरे होते हैं। ये पल सुख-दुख, ग़म-ख़ुशी, हंसना-रोना, पाना-खोना, जैसे अहसासों को समेटकर एक मुकम्मल वक़्त की तामीर करते हैं।

तुझसे नाराज़ नहीं...जीवन को समझने की कोशिश 

  • पूजा मेहरोत्रा, नई दिल्‍ली
  • बुधवार, 26 जुलाई 2017

ज़िंदगी मे कई बार ऐसा मौका आता है जब हम समझ नहीं पाते कि खुश हों, निराश हों या हैरान। कई बार हम दोराहे पर खड़े होते हैं, समझ नहीं पाते क्या सही है और क्या गलत?

अजनबी कौन हो तुम...इश्क़ की पहचान कराता यह गीत

  • शरद मिश्र / अमर उजाला, नई दिल्ली
  • मंगलवार, 25 जुलाई 2017

1983 में रिलीज़ फिल्म 'स्वीकार किया मैंने' में अभिनेत्री शबाना आजमी पर फिल्माया गीत 'अजनबी कौन हो तुम, जबसे तुम्हें देखा है' ज़िंदगी को इश्क़ की पहचान कराता है।

प्रेम में समर्पण की याद दिलाता ये दिलकश नग़मा

  • आनंद कश्यप, नई दिल्ली
  • सोमवार, 24 जुलाई 2017

हैप्पी बर्थडे मुकेश: सावन पर मुकेश का गाया एक गीत

  • मोहम्मद अकरम, नई दिल्ली
  • शनिवार, 22 जुलाई 2017

'दो नैना, इक कहानी...' दो बूंदों में बहती है कहानी

  • पूजा मेहरोत्रा, नई दिल्‍ली
  • शनिवार, 22 जुलाई 2017

अपनी तो जैसे तैसे...डफली पर दमदार थिरकन और लावारिस एहसास 

  • शरद मिश्र, नई दिल्‍ली
  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017

बॉलीवुड में अमिताभ बच्चन और प्रकाश मेहरा की जोड़ी ने कई यादगार फिल्में दीं। मुझे लगता है कि प्रकाश मेहरा अमिताभ बच्चन के लिए ही बने थे।

कस्मे वादे प्यार वफ़ा, देते हैं भगवान को धोखा...

  • विजय कुमार, नई दिल्‍ली
  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017

1967 में रिलीज फिल्म उपकार ने फिल्म कलाकार मनोज कुमार को भारत कुमार की संज्ञा दिलाई थी। लोकप्रिय फिल्म में एक से एक बेहतरीन गीत थे। सभी ने बॉलीवुड ने धूम मचाई थी।

खिज़ा के फूल पे आती कभी बहार नहीं...जब मजबूरी ने दिलों को तड़पाया

  • आनंद / अमर उजाला, नई दिल्ली
  • गुरुवार, 20 जुलाई 2017

ये नग़मा 1969 में रिलीज फिल्म 'दो रास्ते' का है। गीत गुजरे जमाने के सुपर स्टार राजेश खन्ना और मुमताज पर फिल्माया गया है।

इश्क़ की कश्मकश को बयां करता ये गीत

  • शरद मिश्र, नई दिल्‍ली
  • मंगलवार, 18 जुलाई 2017

मुश्किल पलों में साहस का पुंज बन रौशनी देता यह गीत   

  • शरद मिश्र, नई दिल्‍ली
  • शनिवार, 15 जुलाई 2017

दग़ाबाज़ दोस्त पर तोहमतें लगाता यह गीत हौसला भी देता है 

  • शरद मिश्र, नई दिल्‍ली
  • शनिवार, 15 जुलाई 2017
View More
पाठकों के द्वारा भेजे गए
अन्य
Top
Your Story has been saved!