आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Mere Alfaz ›   meri kalam
meri kalam

मेरे अल्फाज़

पुष्प गेंदा

Yash Soni

21 कविताएं

9 Views
गेंदा गुल फूलों का राजा
हर ऋतु में मिल जाता ताजा ।

सुर नर मुनि सबके मन भाता
विविध रंग सुगंध विख्याता ।

निष्कंटक अतिशय मनभावन
रोग शोक भव व्याधि नसावन।

सहज सुलभ सुन्दर गुणखानी
काका कवि ने कीर्ति बखानी ।

☆☆☆☆☆☆☆☆
महाबली सोनी काका जलालपुरी
Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!