आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Mere Alfaz ›   ग़ज़ल
ग़ज़ल

मेरे अल्फाज़

खूबसूरत हसीं रात होगी

Rakesh Jain

3 कविताएं

28 Views
कहीं दिन हुआ है कही रात होगी,
खयालों में उनसे मेरी बात होगी।

जमीं आसमां प्यार से जब मिलेंगे,
समां खूबसूरत हसीं रात होगी। 

सनम जिंदगी में यूं ही साथ देना,
कि सबसे बड़ी ये ही सौग़ात होगी। 

सनम बेवफा छोड़ कर क्यूं गए हो,
कि आँखों से अब मेरी बरसात होगी। 

सुनो बात राकेश कहता खरी है,
नहीँ जो सुनोगे बुरी बात होगी। 

- आर के जैन " राकेश "


हमें विश्वास है कि हमारे पाठक स्वरचित रचनाएं ही इस कॉलम के तहत प्रकाशित होने के लिए भेजते हैं। हमारे इस सम्मानित पाठक का भी दावा है कि यह रचना स्वरचित है। 

आपकी रचनात्मकता को अमर उजाला काव्य देगा नया मुक़ाम, रचना भेजने के लिए यहां क्लिक करें।
Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!