आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Main Inka Mureed ›   Come closer so close, meet you right
Come closer so close, meet you right

मैं इनका मुरीद

एक बार करीब तो आओ सही, मुलाकात करते हैं

Sant Prasad

5 कविताएं

32 Views
कभी क़रीब तो आओ, मुलाकात करते हैं 
बैठकर फिर सारी रात, बात करते हैं ।।

तुम मुझमें खोना, मैं तुझमें खो जाऊँगा 
आओ तो सही, ज़िन्दगी के सवालात करते हैं ।।

ना ख़ता तुम्हारी, और ना खतावार हम हैं 
हे प्रिये ! अपनों से दूर, तो हालात करते हैं ।।

ज़िन्दगी ज़द्दोज़हद में, गुजरती जा रही है
साथ आओ मेरे, एक दिलों के ज़ज़्बात करते हैं ।।

है वादा मेरा, जहां की रौनकें बख़्श दूंगा 
दिल की जमीं के,  तुम्हारे नाम कागज़ात करते हैं ।।

जी भरकर प्यार करने की चाहत हैं मेरी 
एक बार करीब आओ तो सही, मुलाकात करते हैं ।।

- संत प्रसाद 

हमें विश्वास है कि हमारे पाठक स्वरचित रचनाएं ही इस कॉलम के तहत प्रकाशित होने के लिए भेजते हैं। हमारे इस सम्मानित पाठक का भी दावा है कि यह रचना स्वरचित है। 

आपकी रचनात्मकता को अमर उजाला काव्य देगा नया मुक़ाम, रचना भेजने के लिए यहां क्लिक करें। 
 
Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!