आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

Home›  kavya›  Kavya Charcha

काव्‍य जगत से जुड़े हुए वैचारिक लेख, समकालीन विषयों पर कवियों के दृष्टिकोण और वैचारिक मंथन

कवि जानकी वल्लभ शास्त्री ने पद्मश्री सम्मान ठुकरा दिया था

  • काव्य डेस्क-अमर उजाला, नई दिल्ली
  • रविवार, 20 अगस्त 2017

छायावाद काल के सुविख्यात कवि आचार्य जानकीवल्लभ शास्त्री, जिन्हें उत्तर प्रदेश सरकार ने भारत भारती पुरस्कार से सम्मानित भी किया।

उर्दू शायरी को नया लबो-लहजा देता शायर विपुल कुमार

  • अकरम रज़ा हिंदी / अमर उजाला काव्य, नई दिल्ली
  • शनिवार, 19 अगस्त 2017

नौजवान शायर विपुल कुमार मुशायरों की दुनिया में रफ्ता-रफ्ता अपनी पहचान बना रहे हैं। शोर-शराबे से इतर मुशायरों में वो बहुत संजीदगी से अपना कलाम पेश करते हैं।

आज़ादी के तराने:...तख़्ते लंदन तक चलेगी तेग़ हिन्दुस्तान की

  • अमर शर्मा, नई दिल्ली
  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017

जब बहादुर शाह ज़फ़र को गिरफ़्तार किया गया तो उर्दू जानने वाले एक अंग्रेज़ अफ़सर ने एक शेर कहते हुए ज़फ़र पर तंज कसा था, तो जवाब में ज़फ़र ने भी एक शेर कहा जो उनके देश प्रेम को दिखाता है।

पाश: जो माशूक की नाभि का क्षेत्रफल नापती है...कविता नहीं होती

  • बल्ली सिंह चीमा, बाजपुर, उधमसिंह नगर
  • बुधवार, 16 अगस्त 2017

...हो कहीं भी आग लेकिन आग जलनी चाहिए

  • अभिनव सिद्धार्थ, जमशेदपुर
  • मंगलवार, 15 अगस्त 2017

आज़ादी स्पेशल: देशभक्ति के जज़्बे से भरे 10 गीत

  • मोहम्‍मद अकरम, नई दिल्ली
  • सोमवार, 14 अगस्त 2017

कवि नीरज... बेटे मृगांक की नज़र से

  • मृगांक प्रभाकर, आगरा
  • शनिवार, 12 अगस्त 2017

नीरज की कविताओं में श्रृंगार जिस्मानी नहीं बल्कि रूहानी है, वो बुद्ध का दर्शन है, शब्द तो शायद उनके आसमानी हैं।

जिन गीतों के लिए प्रसून जोशी को राष्ट्रीय पुरस्कार मिले...

  • काव्य डेस्क, नई दिल्ली
  • शनिवार, 12 अगस्त 2017

प्रसून एक उम्दा कवि, लेखक और गीतकार हैं। उन्होंने कई फ़िल्मों में सुपरहिट गाने लिखे। पेश हैं वो गाने जिनके लिए प्रसून को राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाज़ा गया।

मेरे देश की धरती सोना उगले, उगले हीरे मोती...

  • काव्य डेस्क, नई दिल्ली
  • शनिवार, 12 अगस्त 2017

फ़िल्म अभिनेता मनोज कुमार को जिन चुनिंदा फ़िल्मों की वजह से भारत कुमार कहा जाता था, उनमें उपकार भी थी।

ये हैं वो विदेशिनी जिन्हें याद करते थे रबीन्द्रनाथ टैगोर

  • पूजा मेहरोत्रा, नई दिल्ली
  • गुरुवार, 10 अगस्त 2017

आज़ादी स्पेशल: ऐ मेरे वतन के लोगों, ज़रा आंख में भर लो पानी...

  • काव्य डेस्क, नई दिल्ली
  • गुरुवार, 10 अगस्त 2017

दिन नहिं चैन रात नहिं निंदिया अबके सावन घर आ जा

  • अनूप ओझा/ अमर उजाला, वाराणसी
  • मंगलवार, 8 अगस्त 2017

सावन स्पेशल: झूला धीरे से झुलाओ बनवारी रे सांवरिया...

  • अनूप ओझा/ अमर उजाला, वाराणसी
  • मंगलवार, 8 अगस्त 2017
View More
अन्य
Top
Your Story has been saved!