आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Book Review ›   review of novel Bisat written by Namapal prajapati
review of novel Bisat written by Namapal prajapati

इस हफ्ते की किताब

असुविधाओं के बीच कामयाबी की कहानी

काव्य डेस्क/ अमर उजाला

108 Views
लेखक नेमपाल प्रजापति का उपन्यास 'बिसात' एक गरीब परिवार में पैदा हुए नेकीराम की कहानी है, जो तमाम तरह की असुविधाओं के बीच खुद को खड़ा करता है। यह उपन्यास ग्रामीण पृष्ठभूमि पर है, जहां अभाव में कई महात्वाकांक्षाएं पूरी नहीं हो पातीं, लेकिन कई बार अगर चाह हो और इरादा बुलंद, तो रास्ते बनते चले जाते हैं। 

उपन्यास का नायक नेकीराम भी उन्हीं में से एक है, जो तमाम तरह की असुविधाओं के बावजूद अपनी शिक्षा पूरी करता है और धीरे-धीरे समाज में अपना एक स्थान बनाता हैं। उपन्यास की कहानी रोचक है, लेकिन पाठक उपन्यास के साथ बंध नहीं पाते। शायद इसकी वजह है घटनाओं का अंबार। ऐसे में किताब को पढ़ते हुए बार-बार घटनाओं को याद करना 

‌किताब- बिसात
लेखक- नेमपाल प्रजापति
प्रकाशक- सहज प्रकाशन, मुजफ्फरनगर (उ.प्र.)
मूल्य- 200 रुपये
Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!