आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

नोटबंदी से  प्लेसमेंट पर लगी अस्थाई रोक, आईआईटी भी परेशान

अमर उजाला ब्यूरो/ नई दिल्ली

Updated Thu, 01 Dec 2016 03:01 AM IST
demontiezation hits placement season in college even in iits
नोटबंदी के बाद देश के आर्थिक बाजार में आई अस्थायी सुस्ती से परेशान कंपनियों ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) जैसे चोटी की तकनीकी शिक्षा देने वाले संस्थानों से फिलहाल प्लेसमेंट में हिस्सा नहीं लेने की सूचना देना शुरू कर दिया है। साथ ही इन कंपनियों ने यह भी कहा है कि उन्हें इसके लिए ब्लैकलिस्ट नहीं किया जाए क्योंकि अर्थव्यवस्था की सुस्त चाल की वजह से अभी नई भर्ती पर अस्थायी रोक लगाई गई है। जैसे ही स्थिति ठीक होगी, फिर से प्लेसमेंट चालू हो जाएगा।
एक मशहूर आईआईटी के प्लेसमेंट सेल में तैनात एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें कई मशहूर कंपनियों की तरफ से इस आशय का पत्र मिला है कि उन्हें ब्लैकलिस्ट नहीं किया जाए। उन्होंने अपनी मजबूरी जताते हुए लिखा है कि इस समय पूरे देश में नोटबंदी की वजह से स्थिति सामान्य नहीं है। इसलिए स्टार्टअप ही नहीं बल्कि जमी जमाई कंपनियों की भी हालत खराब है। इसलिए नई भर्ती पर अस्थायी रूप से रोक लगा दी गई है। जैसे ही स्थिति ठीक होगी, एक बार फिर से प्लेसमेंट के जरिये भर्ती चालू हो जाएगी। उल्लेखनीय है कि दिसंबर की पहली तारीख से कई आईआईटी में प्लेसमेंट शुरू हो रहा है।

आईआईटी खड़गपुर कर चुका है 8 स्टार्टअप को ब्लैकलिस्ट
यह भी गौरतलब है कि आईआईटी खड़गपुर ने इसी महीने की शुरूआत में कैंपस प्लेसमेंट के  लिए 8 स्टार्टअप को ब्लैकलिस्ट कर दिया था। ब्लैकलिस्ट करने की वजह पिछले साल प्लेसमेंट प्रक्रिया के दौरान चुने गए आईआईटी के छात्रों से  जॉब ऑफर वापस लेना था। आईआईटी के हवाले से मीडिया में आई रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल के प्लेसमेंट के दौरान छात्रों को दिए जाने वाले जॉब ऑफर को इन कंपनियों ने कैंसिल कर  दिया था। 

इसी वजह से इस साल इन कंपनियों को कैंपस प्लेसमेंट में शामिल होने  से रोक दिया गया है। संस्थान का कहना है कि छात्रों से जॉब ऑफर वापस लेने पर न केवल छात्रों को  नुकसान हुआ है, बल्कि इससे संस्थान की सार्वजनिक और मार्केट छवि को भी  नुकसान पहुंचा है। इस साल देश के कई आईआईटी ने 30 से भी ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों को कैंपस प्लेसमेंट के लिए ब्लैकलिस्ट किया है।  
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

Nokia 3310 की कीमत का हुआ खुलासा, 17 मई से शुरू होगी डिलीवरी

  • मंगलवार, 25 अप्रैल 2017
  • +

फॉक्सवैगन पोलो जीटी का लिमिटेड स्पोर्ट वर्जन हुआ लॉन्च

  • मंगलवार, 25 अप्रैल 2017
  • +

सलमान की इस हीरोइन ने शेयर की ऐसी फोटो, पार हुईं सारी हदें

  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

इस बी-ग्रेड फिल्म के चक्कर में दिवालिया हो गए थे जैकी श्रॉफ, घर तक रखना पड़ा था गिरवी

  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

विराट की दाढ़ी पर ये क्या बोल गईं अनुष्का

  • मंगलवार, 25 अप्रैल 2017
  • +

Most Read

2 साल में पस्त हुई आम आदमी पार्टी, अब ये 4 रास्ते लगाएंगे केजरीवाल की नैया पार

After MCD Elections debacle What next for aam aadmi party chief Arvind Kejriwal
  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

'मैंने केजरीवाल को गिफ्ट में 2 ईंट भेज दी हैं, घर बैठ कर बजाते रहें।'

social media on Delhi MCD Elections 2017
  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

प.बंगाल: बांग्लादेश सीमा पर 100 मीटर लंबी सुरंग मिली, BSF जवानों में हड़कंप

 BSF has detected a 100 metre-long tunnel at India-Bangladesh border in West Bengal
  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

सोचा नहीं था कि दुर्गा पूजा के लिए हाई कोर्ट से इजाजत लेनी होगी- अमित शाह

Amit Shah Live From Kolkata After BJP win in MCD Polls
  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

MP में हाइटेंशन तार से टकराया प्लेन, दो ट्रेनी पायलटों की मौत

NFTI plane crashes in Madhya Pradesh Balaghat, kills 2 trainee pilots
  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +

कांग्रेस को बड़ा झटका, गुरुदास कामत ने सभी पदों से दिया इस्तीफा

Senior Congress leader Gurudas Kamat resigns from all party posts
  • बुधवार, 26 अप्रैल 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top