आपका शहर Close

संविधान में अलग झंडे का प्रावधान नहीं, कर्नाटक की मांग खारिज

amarujala.com, Presented by:विपुल प्रकाश

Updated Wed, 19 Jul 2017 09:28 AM IST
 Central government rejects demand for separate flag of Siddaramaiah government

सिद्धारमैया

कर्नाटक में कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार की राज्य के लिए अलग झंडे की मांग को मंगलवार को केंद्र सरकार ने सिरे से खारिज कर दिया है। केंद्र का कहना है कि संविधान में किसी भी राज्य के लिए अलग झंडे का कोई प्रावधान नहीं है।
कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार ने राज्य के लिए एक अलग 'झंडा' तैयार करने की मांग की है। इसके लिए नौ सदस्यीय समिति का भी गठन किया गया है और इसे कानूनी तौर पर मान्यता देने के लिए एक रिपोर्ट भी जमा की गई, लेकिन केंद्र ने इसे गैर संवैधानिक करार दिया है।

वहीं मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने अपनी इस पहल का खुलकर बचाव किया। उन्होनें कहा कि कर्नाटक के आधिकारिक झंडे की मांग असंवैधानिक नहीं है। अपने कदम का बचाव करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, 'कि क्या संविधान में ऐसा कोई प्रावधान है जो राज्य को अपना अलग झंडा रखने से रोके? क्या आपने संविधान में ऐसा कोई प्रावधान देखा है? क्या बीजेपी के लोगों को ऐसे किसी प्रावधान के बारे में पता है? तो वे यह मुद्दा क्यों उठा रहे हैं?' 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने संविधान में 'एक देश एक झंडा' के सिद्धांत के आधार पर स्पष्ट किया कि तिरंगा ही पूरे देश का ध्वज है। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने मंगलवार को कहा कि हम एक देश हैं और हमारा एक झंडा है। ऐसा कोई कानूनी प्रावधान नहीं है जो राज्यों के लिए अलग झंडे की अनुमति देता हो या ऐसा करने को प्रतिबंधित करता हो। हालांकि उन्होंने स्पष्ट किया कि कर्नाटक का अपना एक झंडा है जो जनता का प्रतिनिधित्व करता है सरकार का नहीं। राज्य में तमाम बड़े जनआयोजनों में इस झंडे का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इस झंडे को स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस या अन्य सरकारी कार्यक्रमों में सरकार द्वारा नहीं फहराया जा सकता। 
आगे पढ़ें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Comments

स्पॉटलाइट

दिवाली पर पटाखे छोड़ने के बाद हाथों को धोना न भूलें, हो सकते हैं गंभीर रोग

  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

इस एक्ट्रेस के प्यार को ठुकरा दिया सनी देओल ने, लंदन में छुपाकर रखी पत्नी

  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

...जब बर्थडे पर फटेहाल दिखे थे बॉबी देओल तो सनी ने जबरन कटवाया था केक

  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

'ये हाथ नहीं हथौड़ा है': सनी देओल के दमदार डायलॉग्स, जो आज भी हैं जुबां पर

  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

मां लक्ष्मी को करना है प्रसन्न तो आज रात इन 5 जगहों पर जरूर जलाएंं दीपक

  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

पतंजलि से जुड़ी जानकारी देने पर दो अधिकारियों का ट्रांसफर, MD ने किया था प्रमोशन का वादा

two information officers transferred over giving RTI reply ramdev Patanjali MADC
  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

छात्र को मिला अनोखा ऑफर- ममता बनर्जी की हत्या करवाओ, देंगे 1 लाख डॉलर

Bengal student gets offer of 1 lakh dollar to help in murder of Mamata Banerjee
  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

ताज वाले बयान पर अकेले पड़े संगीत, पार्टी ने किया किनारा, योगी ने मांगी सफाई

Yogi adityanath wants explanation from sangeet som on taj mahal remark
  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

त्रिपुरा के राज्यपाल ने पटाखों से की अजान की तुलना, 'सेक्युलरों' पर साधा निशाना

Tripura governor Tathagata Roy diwali ban compare Azaan with firecracker noise
  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

महाराष्ट्र ग्राम पंचायत चुनाव में बीजेपी ने मारी बाजी, कांग्रेस और शिवसेना को झटका

Maharashtra Gram Panchayat Election Results: BJP wins 1311 seats
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

संगीत सोम के बयान पर बोले ओवैसी- क्या लाल किले से तिरंगा फहराना बंद होगा?

Asaduddin Owaisi on sangeet som taj mahal statement will MODI stop hoisting Tiranga from red fort
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!