आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

15 साल में आठ गुणा बढ गए एड्स रोगी

अमर उजाला ब्यूरो/हिसार

Updated Thu, 01 Dec 2016 12:44 AM IST
Civil hospital hisar, HIV, hisar

एड्स

सिविल अस्पताल में जांच में सामने आए एड्स रोगियों की संख्या 15 साल में आठ गुणा बढ़ गई है। यह खुलासा अस्पताल के वीसीटीसी के सन 2002 से अब तक के आंकड़ों का आंकलन करने से हुआ है।  हालांकि पिछले चार साल में हर साल एड्स रोगियों की संख्या लगभग बराबर मिली है।
   हरियाणा राज्य एड्स कंट्रोल सोसायटी द्वारा सिविल अस्पताल में एड्स के खात्मे के लिए वीसीटीसी स्थापित है। कोई मेल या फिमेल यहां आकर एड्स की जांच करा सकता है। इसमें मेल और फिमेल काउंसलर तैनात हैं। वे आने वाले लोगों की शंकाओं के सवालों का जवाब देकर दूर करते हैं। इसके अलावा वहां एड्स की जांच की जाती है। वीसीटीसी में अप्रैल 2002 से अब तक के हर साल के आंकड़े देखने से पता चलता है कि इन 15 सालों में यहां एड्स रोगी आठ गुणा बढ़ गए हैं। यह रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग के हाथ-पांव फुलाने वाली है।

यहां भी होती है एड्स की जांच
सिविल अस्पताल में एड्स की जांच होती है। हरियाणा एड्स कंट्रोल सोसायटी ने एड्स जांच के लिए यहां के सिविल अस्पताल के अलावा महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज अग्रोहा तथा हांसी, आदमपुर, बरवाला, नारनौंद और टीबी अस्पताल में केंद्र खोल रखे हैं। वे केंद्र सिविल अस्पताल में रिपोर्ट न भेजकर डायरेक्ट विभाग मुख्यालय में भेजते हैं।

ये हैं एड्स के सामान्य लक्षण
डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. कुलदीप डाबला ने बताया कि एक माह से अधिक समय तक लगातार खांसी बनी रहना, खाना निगलने में कठिनाई महसूस होना, लगातार सिरदर्द रहना, खुजली होना आदि इसके सामान्य लक्षण हैं।

मुख्य लक्षण हैं ये
--एक महीने में शरीर के वजन में लगभगत 10 प्रतिशत से अधिक की कमी होना
--एक महीने से अधिक समय तक लगातार या रुक रुककर बुखार बना रहना
--एक महीने से अधिक समय तक या रुक रुककर या लगातार होने वाले दस्त
--गंभीर टीबी रोग का होना और सांस लेने में परेशानी होना

यौन रोगों का बचाव एवं उपचार
--यौन रोग से बचाव के लिए असुरक्षित यौन संपर्क से बचना चाहिए।
--सुरक्षित यौन संपर्क के लिए कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए।
--एक ही साथी के साथ यौन संपर्क रखें।
--जांचे हुए खून का ही इस्तेमाल करें।
--हो सके तो नई सुई का ही इस्तेमाल करें।
--यौन संक्रमणों का समय पर इलाज कराएं।
--यौन रोग होने पर अपना व साथी का इलाज कराएं।

सिविल अस्पताल में इतने आए रोगी
1 वर्ष   2002              25
2 वर्ष   2003              61
3 वर्ष   2004              69
4 वर्ष   2005              80
5 वर्ष   2006             121
6 वर्ष   2007             122
7 वर्ष   2008             109
8 वर्ष   2009             122
9 वर्ष   2010             152
10 वर्ष  2011            132
11 वर्ष 2012             136
12 वर्ष 2013             188
13 वर्ष 2014             191
14 वर्ष 2015             190
15 वर्ष 2016 सित. तक 119
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

सायना नेहवाल ने खत्म किया सूखा, लंबे समय बाद जीता गोल्ड

  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

Bigg Boss : सलमान ने शाहरुख पर लगाया गोभी चुराने का आरोप, भड़क गए किंग खान

  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

अगर दफ्तर में सोना है तो सोएं, लेकिन जरा नजाकत से

  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

सोमवार को बना है शुभ संयोग त‌िल के 6 प्रयोग से म‌िलेगा बड़ा लाभ

  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

अफगानिस्तान के इस बल्लेबाज ने तोड़ा कोहली का अंतरराष्ट्रीय रिकॉर्ड

  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

Most Read

शिवपाल समर्थकों ने बनाया नया संगठन, नाम जानकर हो जाएंगे हैरान

shivpal supporters created new organization
  • शनिवार, 21 जनवरी 2017
  • +

माया का पलटवार, ‘सपा का काम कम, अपराध ज्यादा बोलता है’

mayawati criticizes on akhilesh manifesto
  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

अखिलेश की सूची में कुछ नाम बदले, कुछ निरस्त, यहां देखें

correction in akhilesh yadav list
  • शुक्रवार, 20 जनवरी 2017
  • +

बोले राजा भइया- नहीं है गठबंधन की जरूरत, अकेले ही जीत लेंगे चुनाव

there is no need of alliance with congress
  • शुक्रवार, 20 जनवरी 2017
  • +

बीजेपी को झटका, पूर्व विधायक ने थामा अखिलेश का हाथ

shiv singh chak joins samajwadi party
  • बुधवार, 18 जनवरी 2017
  • +

टिकट बंटवारे को लेकर बीजेपी से नाराजगी पर आया स्वामी प्रसाद मौर्या का बयान

swami prasad maurya denies news of being unhappy due ticket distribution
  • बुधवार, 18 जनवरी 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top