आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

दिलीप कुमार की तरह एक्टर बनना चाह रहे थे यश

सुमंत मिश्र/अमर उजाला ब्यूरो

Updated Tue, 23 Oct 2012 11:27 AM IST
yash wanted to be an actor like dilip kumar
यश चोपड़ा फिल्मों में आए तो थे नायक बनने लेकिन उनके बड़े भाई बीआर चोपड़ा ने उनके कंधे पर निर्देशन की जिम्मेवारी डाल दी। मगर उनमें प्रतिभा इससे भी कहीं बढ़ कर थी।
वे एक संपूर्ण रचनाकार और शिल्पकार थे। इसीलिए जब फिल्म से संन्यास लेने की बात उनकी जुबान से निकली तो वे चिरकाल के लिए इस विधा से दूर चले गए। वह कई बार साक्षात्कारों के दौरान कह चुके थे कि जब तक मेरे शरीर में जान है फिल्म बनाता रहूंगा।



शायद इसीलिए उन्होंने अपनी अंतिम फिल्म का नाम अभी दो महीने पहले रखा था-जब तक है जान। क्या उन्होंने मृत्यु के कदमों की आहट सुन ली थी? यश चोपड़ा अपने पिता से लड़-झगड़ कर पंजाब से बीआर चोपड़ा के पास मुंबई चले आए थे।



दिलीप कुमार के अदाकारी के वे कायल थे और उन्हीं की तरह हीरो बनना चाहते थे। जबकि पिता चाहते थे कि वे इंजीनियर या आईसीएस बनें। लेकिन आठ भाई-बहनों में सबसे छोटे होने के कारण वह सबके लाडले थे। सो बीआर भी उन्हें ना नहीं कर सके।



यश को उन्होंने आईएस जौहर के पास भेजा जो उनके लिए ‘अफसाना’ फिल्म लिख रहे थे। लेकिन जौहर जिस तीखे अंदाज में लोगों से बात कर रहे थे, वह देख कर यश कुछ ही घंटे बाद वापस आ गए। उन्होंने भाई से कहा कि मैं सिर्फ आपके साथ काम करूंगा।



तब पहला काम जो उन्हें सौंपा गया, वह था कलाकारों को शॉट के लिए सेट पर बुलाना, उनके मेकअप रूम में कॉस्ट्यूम लेकर जाना और उनके लिए चाय-नाश्ता से लेकर खाने का इंतजाम कराना। इसी दौरान ‘चांदनी चौक’ की शूटिंग के दौरान वे मीना कुमारी पर फिदा हो गए।



कॉलेज के दिनों से उन्हें शेरो-शायरी का शौक था और साहिर लुधियानवी उनके प्रिय शायर थे। यही कारण था कि मीना कुमारी जब भी शॉट से खाली होती वे उन्हें अपनी शायरी सुनाने लगते। मीना कुमारी को उनकी यह अदा पसंद आई।



जब वह ‘एक ही रास्ता’ की शूटिंग कर रही थी तो उन्होंने भोलेपन से कहा कि यश तुम हीरो क्यों नहीं बन जाते? मैं तुम्हारी सिफारिश भी कर देती हूं। उस समय वे युवा थे और सिर पर अच्छे-खासे बाल भी थे। वे अक्सर कंघी से बाल संवारते रहते थे। इश्क का भूत उन पर ‘आदमी और इंसान’ के समय भी चढ़ा।



जब वह मुमताज के प्यार में दीवाने हुए थे। तब भी वह हीरो बनना चाहते थे। लेकिन जब बीआर चोपड़ा ‘नया दौर’ बना रहे थे, तो फिल्म की हीरोइन वैजयंती माला ने कहा कि हीरो बनने का सपना छोड़ो। तुम बहुत ही अच्छे

निर्देशक बन सकते हो

माला ने कहा कि मैं बीआर साहब से तुम्हारी सिफारिश कर देती हूं। इसके बाद ‘साधना’ के समय वैजयंती माला ने चोपड़ा साहब के सामने यश की तारीफ की तो उन्होंने भी अपने भाई पर भरोसा जताया और ‘धूल का फूल’ के निर्देशन की बागडोर उन्हें सौंप दी।



उनकी पहली फिल्म का विषय बहुत ही संवेदनशील था। लेकिन उन्होंने यथार्थ रूप में इसे परदे पर पेश किया और बड़े भाई का दिल जीत लिया। इसके बाद उन्होंने ‘धर्मपुत्र’ और ‘वक्त’ बनाई। ‘वक्त’ ने कामयाबी के उस घोड़े पर उसे सवार किया, जो उन्हें अपने समकालीनों से दौड़ में सबसे आगे ले गया।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Amarujala Hindi News APP
Get all Entertainment news in Hindi related to bollywood, television, hollywood, movie reviews, etc. Stay updated with us for all breaking news from Entertainment and more news in Hindi.

  • कैसा लगा
Comments

Browse By Tags

yash chopra death

स्पॉटलाइट

CV की जगह इस शख्स ने भेज दिया खिलौना, गौर से देखने पर पता चली वजह

  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

दिल्ली से 2 घंटे की दूरी पर हैं ये खूबसूरत लोकेशंस, फेस्टिव वीकेंड पर जरूर कर आएं सैर

  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

फिर लौट आया 'बरेली का झुमका', वेस्टर्न ड्रेस के साथ भी पहन रही हैं लड़कियां

  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

गराज के सामने दिखी सिर कटी लाश, पुलिस ने कहा, 'हमें बताने की जरूरत नहीं'

  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

जब राखी सावंत को मिला राम रहीम का हमशक्ल, सामने रख दी थी 25 करोड़ रुपए की डील

  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

Most Read

एक्ट्रेस का अपहरण करवाकर बुरे फंसे दिलीप, पांचवी बार रद्द हुई जमानत याचिका

dileep files bail plea for the fifth time malayalam actress abduction case
  • बुधवार, 20 सितंबर 2017
  • +

यूं ही नहीं 'न्यूटन' ने की ऑस्कर में दावेदारी, कहानी और डायलॉग्स हैं बेहद दमदार

many reasons why newton deserves to win the oscars
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

RK स्टूडियो में लगी आग पर भावुक हुए ऋषि कपूर, 'हमने हीरोइनों के कपड़े खो दिए'

emotional Rishi Kapoor on the R K Studios fire Costumes worn by actress are lost
  • सोमवार, 18 सितंबर 2017
  • +

'तू है मेरा संडे' का पहला गाना, अरिजीत सिंह की आवाज फिर छुएगी दिल

barun sobti upcoming film tu hai mera sunday first song todi si jagah de de released
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

अजय देवगन और इलियाना डिक्रूज की ‘RAID’ होगी इस दिन रिलीज

ajay devgn and ileana dcruzs upcoming film raids release date changed
  • रविवार, 17 सितंबर 2017
  • +

पीएम मोदी के फैन हुए राजामौली, 'स्वच्छता अभियान' की तारीफ कर किया ट्वीट

ss rajamouli extend support to modi swachhata hi seva mission
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!