आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

अब करीना हुई पटौदी के इस महल की बेगम

मुजफ्फरनगर/मदन बालियान

Updated Wed, 17 Oct 2012 02:12 PM IST
kareena becomes queen of pataudi palace
हरियाणा की पटौदी रियासत को नई बेगम करीना कपूर मिल गई है। सैफीना से पहले पटौदी खानदान में उनके दादा इफ्तिखार अली खान ने भी भोपाल के नवाब की बेटी साजिदा सुलतान से लव मैरिज की थी। शादी के बाद साजिदा सुलतान ने पटौदी गांव आने से इसलिए इंकार कर दिया था, क्योंकि यहां उनकी पसंद का महल नहीं था। बेगम को ससुराल लाने के लिए ही सफेद कोठी का निर्माण कराया गया था।
पटौदी रियासत के दसवें नवाब सैफ अली खान फिल्म अभिनेत्री करीना कपूर से मंगलवार को विवाह बंधन में बंध गए। मूल रूप से पटौदी गांव के निवासी और मुजफ्फरनगर में तेल का कारोबार करने वाले 85 वर्षीय लीलूराम के जेहन में नवाब खानदान की सैकड़ों यादें हैं। उन्होंने बताया कि पटौदी के आठवें नवाब इफ्तिखार अली शानदार क्रिकेटर थे। 1946 में इंग्लैंड गई इंडियन नेशनल क्रिकेट टीम की कमान उन्हें ही सौंपी गई थी। भोपाल के तत्कालीन नवाब हमीदुल्ला की दूसरी बेटी साजिदा सुल्तान इफ्तिखार के खेल से बेहद प्रभावित हुईं। प्यार के बाद दोनों ने शादी रचा ली। साजिदा के पिता हमीदुल्ला इस शादी के सख्त खिलाफ थे।

बहुत कम लोग जानते हैं कि साजिदा ने शादी के बाद पटौदी आने से इसलिए इंकार कर दिया था, क्योंकि यहां उनके रहने के लिए पसंदीदा महल नहीं था। इसके बाद हेल मंडी पटौदी की स्थापना कर उससे मिलने वाले राजस्व से महल का निर्माण आरंभ कराया गया। बाद में इसी महल को सफेद कोठी के नाम से जाना गया। करीना कपूर जब पटौदी पहुंचेंगी तो इसी महल में उनका खास स्वागत किया जाएगा।

भोपाल और पटौदी का फर्क
असलियत में पटौदी तब केवल 52 गांवों की रियासत थी, जबकि भोपाल बड़ी रियासत थी। साजिदा के पिता हमीदुल्ला धनाढ्य थे। लीलूराम ने बताया कि 1952 में इफ्तिखार के निधन के बाद हमीदुल्ला पहली बार पटौदी आए थे।

पटौदी परिवार से नजदीकियां
शहर के तेल कारोबारी लीलूराम के परिवार की पटौदी खानदान से बेहद नजदीकी रही है। 85 वर्षीय लीलूराम के दादा गौरी प्रसाद नवाब खानदान के नवरत्नों में से एक रहे हैं। स्वयं लीलूराम और स्व. मंसूर अली खान पटौदी रामलीला में एक साथ वानर सेना के खास सिपाही होते थे।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

दीपिका पादुकोण को मिला ये खास सम्मान

  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

रजनीकांत की फिल्म ने इस मामले में 'बाहुबली' को पीछे छोड़ा

  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

आपके बिजनेस को नुकसान से बचाएगा यह उपाय, आजमाकर देखें

  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

स्मार्टफोन से बेहतरीन फोटो खींचने के लिए जरूर पढ़ें ये टिप्स

  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

'पिंक' का ग्रामीण वर्जन है 'अनारकली ऑफ आरा'

  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

Most Read

रजनीकांत की फिल्म ने इस मामले में 'बाहुबली' को पीछे छोड़ा

Rajinikanth's 2.0 Breaks Baahubali 2 Record, Got More Money From Satellite Rights
  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

एक्स के बारे में ये बात जान शॉक्ड रह गईं सुनील शेट्टी की बेटी

Athiya Shetty heartbroken after her ex-boyfriend finds love in another girl?
  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

किसानों का समर्थन करने जंतर-मंतर पहुंचे प्रकाश राज

Prakash Raj & Vishal Supports Tamil Nadu Farmers On Jantar Mantar In Delhi
  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

दीपिका पादुकोण को मिला ये खास सम्मान

Deepika Padukone looks gorgeous as she receives the Entertainment Leader of the Year award
  • शुक्रवार, 24 मार्च 2017
  • +

रिलीज से पहले ही 'बाहुबली 2' ने तोड़ डाला रिकॉर्ड

bahubali 2 is going to release on 6500 screens
  • गुरुवार, 23 मार्च 2017
  • +

VIDEO : 'टाइगर जिंदा है' का एक्शन सीन आया सामने

director ali abbas zafar shares action scene of tiger zinda hai, watch video
  • गुरुवार, 23 मार्च 2017
  • +
TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top