आपका शहर Close

सीआईएसएफ में एएसआई के पेपर II की तैयारी

एजुकेशन डेस्क

Updated Mon, 29 Sep 2014 03:39 PM IST
CISF ASI staff exam paper
परीक्षा की योजना
दूसरे चरण की इस परीक्षा में अंग्रेजी भाषा और बोधगम्यता से ही प्रश्न पूछे जाएंगे जिनके लिए कुल 200 अंक निर्धारित किए गए हैं और प्रश्नों की संख्या भी 200 ही रहेगी। सभी प्रश्न बहुविकल्पीय प्रकार के पूछे जाएंगे। इस प्रकार एक प्रश्न के लिए निर्धारित अंक एक है। पूरे प्रश्न पत्र को हल करने के लिए दो घंटे का समय मिलेगा। यानी आपको 120 मिनट में 200 प्रश्नों को हल करना है। लेकिन यह भी ध्यान रखने वाली बात है कि परीक्षा में एक गलत उत्तर के लिए नकारात्मक अंकन (Negative Marking) का भी प्रावधान है। अतः जो प्रश्न आपको सही-सही आता हो, उसी का उत्तर देना ज्यादा समीचीन होगा। अतः एक प्रश्न को हल करने के लिए आपको कुल 36 सेकंड मिलेंगे। इतने कम समय में सभी प्रश्नों को आप तभी हल कर सकते हैं जब आपको प्रश्न पत्र से जुड़ी सभी मूलभूत जानकारियों का ज्ञान हो जैसे- परीक्षा का पाठ्यक्रम, परीक्षा का पैटर्न, प्रश्नों की प्रकृति इत्यादि। और इन सबसे बढ़कर आपने पिछले वर्षों में एसएससी द्वारा कराई गई परीक्षाओं के अंग्रेजी भाषा और बोधगम्यता संबंधी खंड को निरंतर अभ्यास के तौर पर हल किया हो। दूसरे चरण की परीक्षा के लिए निर्धारित पाठ्यक्रम इस प्रकार है-
Paper-II : English Language & Comprehension :
Questions in this components will be designed to test the candidate's understanding and knowledge of English Language and will be based on error recognition, filling in the blanks (using verbs, preposition, articles etc), Vocabulary, Spellings, Grammar, Sentence Structure, Synonyms, Antonyms, Sentence Completion, Phrases and Idiomatic use of Words, comprehension etc.
इंग्लिश ग्रामर की तैयारी
इंग्लिश लैंग्वेज में ग्रामर पर विशेष जोर दें- इंग्लिश के प्रश्नों का प्रयोजन आपके इंग्लिश लैंग्वेज के नॉलेज की परीक्षा करना है। इंग्लिश में पूछे जाने वाले प्रश्नों में कम्प्रीहेंशन, एंटोनिम एवं सिनोनिम, सामान्य अशुद्धि(Common Error), संज्ञा(Noun), सर्वनाम(Pro-noun), क्रिया(Verb), विशेषण(Adverb), सेन्टेन्स फार्मेशन इत्यादि हैं। इस प्रकार के प्रश्नों को हल करने का सबसे अच्छा उपाय है इंग्लिश ग्रामर की अच्छी तैयारी और इंग्लिश के शब्दों पर विशेष पकड़ बनाना। इसकी तैयारी के लिए हरिमोहन प्रसाद और उषा रानी सिन्हा द्वारा लिखित पुस्तक ‘ऑब्जेक्टिव इंग्लिश फॉर कॉम्पीटेटिव एक्जामिनेशन’ तथा नारमन लुईस की पुस्तक का सहारा लिया जा सकता है।
    इंग्लिश में अमूमन स्टूडेंट्स पहले से ही यह मान लेते हैं कि इसकी तैयारी तो हम कर ही नहीं सकते। लेकिन सच पूछो, तो यह लैंग्वेज काफी आसान है। प्रश्न पत्र का एक सेक्शन ग्रामर का ही होता है और इसमें बेस क्लीयर होना बेहद जरूरी है। इसमें स्टूडेंट्स आसानी से अच्छा स्कोर कर सकते हैं।
बोधगम्यता (कॉम्प्रिहेंशन)
    इसमें बोधगम्यता (कॉम्प्रिहेंशन) गद्यांश और ग्रामर आधारित अंग्रेजी कुशलता का परीक्षण होता है। बोधगम्यता के तहत गद्यांश के मूल विषय और प्रायोगिक शब्दों पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं। इसलिए गद्यांश के मूल विषय को समझना बहुत आवश्यक है क्योंकि जब तक आप उसके मूल तक नहीं पहुंच पाएंगे तब तक प्रश्नों का सही उत्तर देना मुश्किल है। अतः बोधगम्यता (कॉम्प्रिहेंशन) पर आधारित एक स्तरीय मॉडल पुस्तिका को आधार बनाकर निरंतर अभ्यास करें। इसके लिए अंग्रेजी समाचार पत्र 'द हिंदू' और 'फ्रंटलाइन' पढ़ें। ‘द हिंदू’ समाचार पत्र में मंगलवार के दिन पुस्तकों की समीक्षा वाला खंड इस संदर्भ में काफी उपयोगी साबित हो सकता है। इसी प्रकार ‘फ्रंटलाइन’ पत्रिका में भी एक ऐसा खंड होता है जिसका निरंतर अध्ययन काफी लाभप्रद साबित होगा।
    हालांकि इंग्लिश में 60 प्रतिशत प्रश्नों का अंदाजा लगाना बेहद मुश्किल होता है। इसलिए इनके लिए अभ्यर्थी सिर्फ प्रैक्टिस कर सकते हैं। कॉम्प्रिहेंशन और ग्रामर की तैयारी लिख-लिख कर करनी चाहिए। प्रश्न पत्र के पाठ्यक्रम के निर्धारित होने की वजह से टॉपिक भी काफी कम रह जाते हैं। ऐसे में अभ्यर्थी हर टॉपिक को अच्छे से तैयार कर सकते हैं। दिन में 1 से 2 घंटे अभी से इंग्लिश की तैयारी करें। क्योंकि अध्याय कम होने की वजह से कोई भी प्रश्न आ सकता है। प्रश्न पत्र सेट करने वाले काफी सोच-समझ कर ही पेपर सेट करते हैं। पिछले कुछ एग्जाम में पाया गया है कि स्टूडेंट्स कॉम्प्रिहेंशन में गड़बड़ करते हैं जबकि इस तरह के प्रश्नों में पूरे के पूरे अंक प्राप्त करने की सबसे अधिक संभावना रहती है।
Example:
Directions: Read the Comprehension. Then answer the questions below.
    My name is Sam. Today is very hot. The sun is very strong. I am hot. I want to be cool. How can I get cool? Wait...I know! I can go to the pool. The pool is cool. I can swim in the pool. Is the pool open? Or is the pool closed? Where is the phone? I need to call the pool. I need to find out if the pool is open or closed.— Ring! Ring! — “Hello. My name is Andrea. I am at the pool. Can I help you?” “Hi, Andrea. Is the pool open?” "Yes. The pool is open." “Okay. Thank you!” “You are welcome. Bye!” Great! The pool is open! Now I can cool down!
Questions:
1)     What is the weather like today?
    A. It is cold.         B. It is cool.
    C. It is warm.     D. It is hot.
    Answers and Explanations
    1) D
    At the beginning of the story, Sam says, “Today is very hot.” We can understand from this that the weather is hot. Therefore (D) is correct. Sam wants to get cool because the weather is hot. Therefore (B) is incorrect. The story does not provide information to support choices (A) and (C), so they are incorrect.
2)     Sam is hot, but Sam wants to be
    A. cold         B. cool
    C. warm         D. hot
    Answers and Explanations
    2) B
    At the beginning of the story, Sam says, “I want to be cool.” Therefore (B) is correct. The story does not provide information to support choices (A) and (C). Therefore they are incorrect. Sam is hot, but Sam wants to become cool. Therefore (D) is incorrect.
3)     How can Sam get cool?
    A. He can go to the library.
    B. He can go to the pool.
    C. He can go to school.
    D. He can go to work.
    Answers and Explanations
    3) B
    Sam wants to be cool. Sam asks, “How can I get cool?” Then Sam says, “Wait...I know! I can go to the pool. The pool is cool.” We can understand from this that since the pool is cool, Sam thinks that he can become cool by going in the pool. Therefore (B) is correct.
    The library (A), school (C) and work (D) may all be places that are cool, but in the story Sam thinks that the pool is the place to cool off. The story does not mention any of those places. Therefore answer choices (A), (C), and (D) are incorrect.
4)     Why does Sam talk to Andrea?
    A. because she is his friend
    B. because she knows his sister
    C. because Sam needs to know what time it is
    D. because Sam wants to know if the pool is open
    Answers and Explanations
    4) D
    In the middle of the story, Sam wants to find out if the pool is open. Sam asks, “Where is the phone?” Then Sam says, “I need to call the pool. I need to find out if the pool is open or closed.” The phone rings. “‘Hello. My name is Andrea. I am at the pool. Can I help you?’” Sam asks Andrea if the pool is open and Andrea says yes. We can understand from this that Sam has called Andrea to find out if the pool is open. Therefore (D) is correct.
    The story does not provide information to support choices (A), (B), and (C). Therefore they are incorrect.
5)     Is the pool open?
    A. Yes, the pool is open.
    B. No, the pool is not open. The pool is closed.
    Answers and Explanations
    5) A
    When Sam calls Andrea, he asks, “Is the pool open?” Andrea replies, "Yes. The pool is open." Therefore (A) is correct. The pool is open, so it is not closed. Therefore (B) is
कैसे बनाएं रणनीति
    प्रश्नों के स्तर को समझने के लिए एसएससी के पिछले वर्ष के प्रश्नों को देखें। इसके माध्यम से टू द प्वाइंट तैयारी करने में आसानी होती है। इसके अतिरिक्त तैयारी के लिए प्लानिंग जरूरी है। यदि आप सही प्लानिंग के साथ तैयारी करते हैं, तो आपकी तैयारी औरों से बेहतर होगी। अगर तैयारी करते वक्त यह आभास हो जाए कि आप सही प्लानिंग नहीं कर पा रहे हैं, तो अपने किसी ऐसे सीनियर अथवा अध्यापक से मदद ले सकते हैं जो आपको बहुमूल्य सलाह दे सकें। यदि आपको इस तरह की सहायता नहीं मिल पा रही है, तो संबंधित कोचिंग की सहायता भी ली जा सकती है लेकिन किसी भी कोचिंग को ज्वाइन करने से पहले उसके बारे में वहां पढ़ रहे स्टूडेंट्स से अवश्य जानकारी हासिल कर लें।
    स्तरीय अंग्रेजी पत्र-पत्रिकाओं की सहायता से आप कॉम्प्रिहेंशन, शब्दावली और वाक्य विन्यास के बारे में बेहतर समझ विकसित कर सकते हैं। अतः इनका नियमित रूप से अध्ययन करना आपके लिए काफी मददगार साबित होगा। अंग्रेजी भाषा के अंतर्गत अभ्यर्थी की अंग्रेजी के प्रति बेहतर समझ का परीक्षण किया जाता है। इसलिए एसएससी से जुड़े अंग्रेजी खंड पर आधारित अभ्यास प्रश्नपत्रों को ज्यादा से ज्यादा हल करें। इससे आप में प्रश्नों को तीव्र गति से हल करने की क्षमता का विकास होगा। अंग्रेजी की तैयारी के लिए हाईस्कूल ग्रामर अवश्य पढ़ें। साथ ही एक अंग्रेजी अखबार के नियमित अध्ययन के साथ-साथ वोकेबुलरी संग्रहण को प्राथमिकता दें। विशेषज्ञों के अनुसार अगर प्रैक्टिस करते हैं तो आप अंग्रेजी में बेहतर कर सकते हैं।
    एसएससी के अंग्रेजी प्रश्न पत्रों में खंडवार पूछे गए प्रश्नों की स्थिति (टीयर II)
    शब्दावली (Vocabulary)
                

                टीयर II
                2010     2011     2012
विलोम(Antonym)    5     5     3
पर्यायवाची (Synonyms)    10     10     15
मुहावरे (Idioms)        5     5     10
वर्तनी (Spelling)        5     5     3
रिक्त स्थानों की पूर्ति         30     20     10
(Fill In Blanks)
    कुल             55     45     41

व्याकरण (Grammar)
                    टीयर II
                2010     2011     2012
वाक्य सुधार         20     20     20
(Sentence Correction)
वाक्य सुधार         20     20     22
(Sentence Improvement)
प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष (Direct-Indirect)25     25     27
सक्रिय निष्क्रिय (Active-Passive)20     20     20
    कुल              85     85     89

वाक्य विन्यास+ बोधगम्यता (Sentence Arrangement + Comprehension)
                    टीयर II
                2010     2011     2012
वाक्य विन्यास         10     20     20
बोधगम्यता            50     50     50
कुल                60     70     70

    इस प्रकार अंग्रेजी भाषा के चार प्रमुख खंडों का संपूर्ण रूप से विश्लेषण निम्नलिखित है-
        
शब्दावली (Synonyms,         टीयर II
Antonyms,         2010     2011     2012
Sentence Completion,
Spelling, Phrases और     55     45     41
Idiomatic use of Words)
            
व्याकरण (Sentence Correction,
Sentence Improvement,     85     85     89
Direct-Indirect और
Active-Passive)
वाक्य विन्यास+बोधगम्यता
(Sentence Arrangement    60     70     70
 + Comprehension)
संपूर्ण योग         200     200     200
    इस प्रकार एसएससी की टीयर II परीक्षा में अंग्रेजी खंड से पिछले तीन वर्षों के दौरान आए प्रश्नों की संख्या के बारे में ठीक ठीक पता चलता है। अब आपको ऐसी रणनीति तैयार करनी है, जो सीमित समय में सफलता की ओर ले जा सके। एसएससी की टियर-II परीक्षा में, रिक्त स्थान को भरने पर 10 सवाल, एक्टिव और पेसिव पर 20 सवाल पूछे जाते हैं। हिंदी माध्यम की पृष्ठभूमि के अभ्यर्थियों के मन में हमेशा ही यह घबराहट बनी रहती है कि अंग्रेजी भाषा काफी मुश्किल है और इसमें सफल होना आसान नहीं है। लेकिन हमारा मानना है कि अंग्रेजी भाषा की आधारभूत समझ उस प्रत्येक अभ्यर्थी को होगी जो इसके पहले चरण (टीयर-I) में सफलता प्राप्त कर लेगा। परंतु उस समझ को इस तरह से भी नहीं मान लेना चाहिए कि एसएससी की परीक्षा बहुत ही 'लड्डू' परीक्षा है और मैं तो अंग्रेजी का मास्टर हूं इ‌सलिए मुझे व्याकरण या शब्दावली के लिए कुछ भी तैयार करने की जरूरत नहीं है। इस तरह के अति आत्मविश्वास से बचें।
       एसएससी टियर-II के पिछले वर्षों में आए अंग्रेजी प्रश्न पत्रों का अवलोकन जरूर करें और साथ ही साथ एक स्तरीय पुस्तक की मदद से मॉडल प्रश्न पत्रों का निरंतर अभ्यास करते रहें।
    दैनिक जीवन में हम कई तरह से अंग्रेजी शब्दों का प्रयोग करते हैं। लेकिन यह जरूरी नहीं कि वे शब्द व्याकरण की दृष्टि से सही ही हों। अक्सर संभावना यही रहती है कि उनका प्रयोग सैद्धांतिक रूप से गलत होता है। इसलिए जब प्रश्न पत्र में वाक्य सुधार और कॉमन एरर के प्रश्नों को हल करने की बात आती है तो ऐसे अभ्यर्थी सही विकल्प पर निशान लगाने में सक्षम नहीं हो पाते हैं। अतः अंग्रेजी के शब्दकोश और वाक्य के नियमों को बेहतर ढंग से समझने की आपको हमेशा ही आवश्यकता रहती है।
किस तरह करें तैयारी
    सबसे पहले, एक नोटबुक/डायरी लाएं और उसे दो भागों में विभाजित करें- शब्दावली (Vocabulary) और ग्रामर (Grammar)
    शब्दावली इसलिए क्योंकि निम्न कारणों से एसएससी परीक्षा में इसका महत्व है-
        nसमानार्थी शब्द, विलोम शब्द, मुहावरे और वाक्यांशों पर सीधे सवाल पूछे जाते हैं। जैसे-
    Word    Synonyms
    Admit    Confess
    nअगर आपकी शब्दावली अच्छी है तो भी आपको रुकना नहीं चाहिए क्योंकि अंग्रेजी के शब्दों को समझने में अभ्यास की मदद से तेजी लाने की जरूरत होती है।
        nबोधगम्यता के गद्यांशों में कुछ प्रश्न इस प्रारूप में होते हैं-“what is the meaning of ABC word in the sentence.”
    यहां यह बात ध्यान देने वाली है कि अपनी अंग्रेजी शब्दावली को मजबूत करके आप न केवल एसएससी की परीक्षा में अच्छा कर सकते हैं बल्कि जो अभ्यथी आईएएस, पीसीएस, बैंकिंग इत्यादी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं उनको भी प्रश्न पत्र के अंग्रेजी खंड में मदद मिलती है। इसके अलावा आप दैनिक जीवन में भी इसका आत्मविश्वास के साथ अंग्रेजी में बोलने और समझने में उपयोग कर सकते हैं।
    शब्दावली में सुधार करने के लिए मूल बातें
    "शब्दावली" के लिए बाजार में रेडीमेड पुस्तकों की कोई कमी नहीं है। लेकिन इसके लिए स्तरीय पुस्तक 'वर्ड पॉवर मेड इजी' का अध्ययन करें। यह पुस्तक नॉर्मन लूईस
    द्वारा रचित है और प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित पुस्तकों की दुकानों पर आसानी से उपलब्‍ध हो सकती है। इस पुस्तक में अंग्रेजी शब्दों को बहुत ही आसान तरीके से समझाया गया है और वर्तनी नियमों की व्याख्या भी सरल तरीके से की गई है जिससे अभ्यर्थियों को समझने में काफी आसानी होती है। बाहर से देखने पर , यह किताब मनोरमा ईयर बुक की तरह बहुत मोटी और भारी लगती है. लेकिन वास्तव में इस किताब को एक बहुत ही स्पष्ट, आसान, पाठक के अनुकूल भाषा में लिखा गया है। आप इसको खाना खाने के बाद रात में एक उपन्यास की तरह पढ़ सकते हैं। यह पुस्तक कुल 40 अध्यायों में विभाजित है। प्रतिदिन इसके तीन से चार अध्याय समाप्त करने का प्रयास करें। पुस्तक के आखिर में परिशिष्ट (appendix) दिया रहता है जिसमें उन सभी शब्दों का उल्लेख किया गया है जिनको आप 40 अध्यायों में पढ़ते हैं। इसलिए उस परिशिष्ट खंड को तीन बार जरूर पढ़ जाएं। क्योंकि एसएससी की पिछली परीक्षाओं में यह देखा गया है कि अंग्रेजी के समानार्थी शब्दों को इसी पुस्तक खंड से उठाया जाता है। आजकल  "तथाकथित" भारतीय लेखकों द्वारा लिखित अंग्रेजी शब्दावली पर किताबें अथवा सस्ती अध्ययन सामग्री की भरमार है जिनको गूगल सर्च एवं नॉर्मन लेबिस की पुस्तक से ही आसानी से तैयार किया जाता है जिनमें परीक्षाओं के ‌अनुरूप उपयोगी सामग्री नहीं होती है। इसलिए ऐसी किताबें बेकार हैं। सबसे पहले एक अंग्रेजी राष्ट्रीय समाचार पत्र का नियमित अध्ययन करें। साथ ही साथ ऑक्सफोर्ड एडवांस लर्नर डिक्‍शनरी भी खरीद लें। समाचार पत्र पढ़ने के दौरान अगर आपको कोई शब्द कठिन लगता है तो उसको डायरी में नोट करते चलें और उसका अर्थ जानने के लिए डिक्‍शनरी की मदद लें। यह कार्य आप निरंतर तब ‌तक करते रहें जब तक आपका कुछ परीक्षाओं के लिए चयन न हो जाए।
    अंग्रेजी व्याकरण को मजबूत करने की युक्ति     
    एसएससी की इस परीक्षा में आपका अंग्रेजी व्याकरण के निम्न खंडों से सामना होगा।
    Sentence correction
    Sentence improvement
    Active passive
    direct indirect speech
    अंग्रेजी भाषा जितनी बोलने में सरल महसूस होती है सैद्धांतिक रूप से वह उतनी ही कठिन भी है। इस भाषा के भी कुछ नियम हैं जैसे कि हिंदी भाषा में हमें देखने को मिलते हैं। इसलिए व्याकरण के नियमों को ठीक प्रकार से समझें और अधिक से अधिक मॉडल प्रश्न पत्रों का अभ्यास करें। साथ ही पिछले वर्षों में पूछे गए अंग्रेजी व्याकरण के प्रश्नों की प्रकृति को भी समझें।
    nएक्टिव/पेसिव(वॉइस) और डायरेक्ट-इनडायरेक्ट(स्पीच) ः यह एक ऐसा टॉपिक है जिसमें कोई भी बहानेबाजी काम नहीं आने वाली है। इस टॉपिक से एसएससी टीयर-II में लगभग 40-45 प्रश्न पूछे जाते हैं। इसलिए व्याकरण के नियमों को ठीक प्रकार से समझें और इस टॉपिक से जुड़े मॉडल प्रश्न पत्रों का अधिक से अधिक अभ्यास करें। अपनी डायरी में अंग्रेजी ग्रामर के विशेष और विषम प्रकार के नियमों को नोट कर लें और साथ में उनके उदाहरणों को भी लिखते रहें। इससे परीक्षा नजदीक आने के समय आपको ऐसे नियम दोहराने में काफी आसानी होगी।
    nवाक्य सुधारः इस टॉपिक में पारंगत होने के लिए आपको ग्रामर के नियमों और मुहावरेदार क्रियाओं (Phrasal verbs) में पारंगत होना पड़ेगा। उदाहरण के लिए क्रिया (verb) टॉपिक के अंतर्गत अनेक सिद्धांत और वर्गीकरण हैं लेकिन वाक्य सुधार के लिए कुछ ही नियमों को कंठस्‍थ करना होता है। उदाहरण के लिए-
    Either, Neither, none, each and every is singular.
    Wrong The account holder said to the bank clerk," please issue me a fresh cheque book."
    Right  The account holder requested the bank clerk to issue him a fresh cheque book.
     Wrong The doctor said to the patient , "Be quiet and listen to me carefully."
    Right The doctor advised the patient to be quiet and listen to him carefully.
    Wrong My father said to me. "What have you done with all the money I gave you?"
    Right My father asked me what I had done with all the money he gave me.
    Wrong My father said to me. "Do not laugh at the old beggar."
    Right My father ordered me not to laugh at the old beggar.
    Wrong Each of the soldiers are disciplined
    Right Each of the soldiers is disciplined.
    सबसे पहले आप अपनी ग्रामर की पुस्तक का अध्ययन करें और ऐसे नियमों व उनके उदाहरणों को अपनी डायरी में नोट कर लें तथा समय-समय पर उनको दोहराते रहें। कुछ उदाहरण इस प्रकार हैं-
    Correct the following sentences:
(i)     The tailor uses the scissor skillfully.
    The tailor uses the scissors skillfully.
(ii)     Two and two make four.
    Two and two makes four.
(iii) Bread and butter are preferred for the breakfast.
(iv) Take care lest you fall down.
    Take care lest you should fall down.
(v) People are tired from corruption.
    People are tired of corruption.
    
    मुहावरेदार क्रियाओं (Phrasal Verbs) के लिए ग्रामर के नियम ठीक वैसे ही हैं जैसे गणित में होते हैं। लेकिन मुहावरेदार क्रियाएं भिन्न होती हैं। इनके लिए आपको परिस्थिति आधारित अंग्रेजी वाक्यों की सही प्रयोग विधि के बारे में जानना होगा। उदाहरण के लिए
    Correct phrasal verb     Wrong Usage
    Dispose of= sell.     He has decided to dispose off             his property.
    Dispose to=         He is disposed in discussing
    willing, interested.      that business proposition.

    उपरोक्त दोनों ही कथन गलत हैं क्योंकि इनमें मुहावरेदार क्रियाएं गलत ढंग से प्रयुक्त की गई हैं। कई बार देखा गया है कि अभ्यर्थी ग्रामर के नियमों की तो अच्छी जानकारी रखते हैं लेकिन वे वाक्य में गलती ढूंढ़ने में सफल नहीं हो पाते क्योंकि उन्होंने मुहावरेदार क्रियाओं की ठीक प्रकार से तैयारी नहीं की होती है। जो स्तरीय अंग्रेजी होती है उसमें मुहावरेदार क्रियाओं का भरपूर मात्रा में प्रयोग किया जाता है। लेकिन जरूरी नहीं है कि आप अंग्रेजी की सभी मुहावरेदार क्रियाओं को कंठस्‍थ करें। हां, इतना जरूर है कि कम से 200 महत्वपूर्ण अथवा आम बोलचाल वाली मुहावरेदार क्रियाओं के बारे में आपको जानकारी अवश्य होनी चाहिए। अधिकांश ग्रामर की पुस्तकों में इस तरह की मुहावरेदार क्रियाओं का उल्लेख मिलता है। अतः बार-बार अभ्यास और उदाहरणों के साथ उनको दोहराते रहें। इस दोहराव के दौरान अगर आपको कुछ शब्द कठिन महसूस होते हैं तो उनको एक बार डायरी में नोट कर लें और जब भी मौका मिले, उनको दोहराते जाएं। एक बार ऐसा कर लेने के बाद मॉडल प्रश्न पत्रों को हल करें। इससे आपकी तैयारी को संपूर्णता प्राप्त होगी। अन्य उदाहरण इस प्रकार हैं-
Q.     Use the following idioms/phrases in your sentences so as to make their meaning clear.
    A black sheep - Every family has a black sheep person.
    Above board - Mrs. Sinha is above board lady in her society.
    At random - Do your work, don't walk at random on the road.
    Beat about the bush- Don't beat about the bush say everything clear.
    At sea - I was all at sea when I bought my house.
वाक्य विन्यासः इसके लिए एक ही सुझाव दिया जा सकता है, वह है- अभ्यास और लगातार अभ्यास। अभ्यास करने का सबसे अच्छा तरीका एसएससी और आईबीपीएस के पुराने प्रश्न पत्रों को हल करके अपनाया जा सकता है।

संपूर्णतः ग्रामर की पुस्तक के लिए अभ्यर्थी रेन एंड मार्टिन की इंग्लिश ग्रामर से ग्रामर के नियम और अभ्यास प्रश्नों को हल करें। हालांकि इस पुस्तक का अध्ययन आप तभी करें जब अपके पास पहले से कोई कंपटीशन की पुस्तक न हो। अगर कोई कंपटीशन की स्तरीय पुस्तक अपके पास है तो इसका अध्ययन करने की कोई खास जरूरत आपको नहीं होगी।


रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन से जुड़े कुछ जरूरी पक्ष:
विभिन्न विषयों पर पढ़ें: परीक्षा में आने वाले विषयों के बारे में लगातार पढ़ने से रीडिंग टाइम और कॉम्प्रिहेंशन बेहतर होता है।
सभी डायरेक्ट प्रश्नों को उलझाऊ सवालों से पहले करें।
    nपरीक्षा में प्रत्येक अनुच्छेद पर दस मिनट से अधिक का समय नहीं लगना चाहिए और यह भी ध्यान रखें कि प्रत्येक अनुच्छेद के प्रश्न हल कर सकें।
    वर्बल एबिलिटी
इसमें व्याकरण और शब्द आधारित (वर्ड-बेस्ड) प्रश्न होते हैं। व्याकरण के लिए अपने स्टडी मटीरियल का विस्तृत अध्ययन करें।
शब्द-आधारित प्रश्नों के लिए प्रतिदिन 30 मिनट सबसे अधिक गलत उच्चारण किए जाने वाले शब्दों को समझने में लगाएं।
वर्बल रीजनिंग: इसमें पैरा जंबल्स और वाक्य पूरा करने से जुड़े प्रश्न होते हैं। याद रखें कि आपकी वर्बल रीजनिंग स्किल्स को सुधारने का कोई शॉर्टकट नहीं है। इस सेक्शन में अभ्यास ही काम आता है।
    सफलता के टिप्स
तैयारी से लेकर परीक्षा भवन तक अभ्यर्थी को अपना समय प्रबंधन सटीक करना चाहिए। यह समय प्रबंधन कुछ ऐसा हो कि एक कठिन खंड का अध्ययन करने के बाद एक सरल विषय पढ़ें। परीक्षा भवन में अंतिम दस मिनट दोहराने के लिए बचाएं।
इस परीक्षा में सफल होने के लिए आत्मविश्वास बहुत जरूरी है। बिना इसके लक्ष्य तक नहीं पहुंचा जा सकता। यदि आपको लगता है कि आत्मविश्वास गिर रहा है तो आप कुछ समय के लिए दूसरे काम में लग जाएं।
अच्छे अंक लाने के लिए विषय की गहन जानकारी होना जरूरी है। इसके लिए जरूरी है कि अभ्यर्थी आधारभूत जानकारी बढ़ाने पर जोर दें। nरटने की बजाय समझ कर पढ़ने का प्रयास करें।
अध्ययन की तारतम्यता को बनाए रखना बहुत जरूरी है। अचानक एक विषय से दूसरे विषय पर न जाएं। जो भी पढ़ें, उसे अगले दिन जरूर दोहराएं, अन्यथा भूलने का खतरा रहेगा। इस दौरान जो कठिन लगे, उसे एक जगह लिखते जाएं।
अध्ययन के दौरान आपके सामने कई तरह की परेशानियां आती हैं। इसका निराकरण कोचिंग सेंटर अथवा अपने वरिष्ठों या संबंधित अध्यापकों से सलाह लेकर कर सकते हैं।
अभ्यर्थियों को विषय विशेषज्ञों से संपर्क करने में किसी भी प्रकार की हिचक महसूस नहीं करनी चाहिए।
चुने गए टॉपिक के बेसिक कॉन्सेप्ट्स को लगातार समझने का प्रयास करते रहें।
टॉपिक से जुड़े सभी नियमों और सिद्धांतों को एक स्थान पर संदर्भ सामग्री के तौर पर लिख लें।
किसी नियम का कब इस्तेमाल होना है, उसको समझें और उदाहरणों के साथ अभ्यास करते रहें।
इसके अलावा परीक्षा के इस दूसरे चरण में फिल इन द ब्लैंक, करेक्शन ऑफ ग्रामर मिस्टेक, सिनोनिम्स एंड एंटोनिम्स भी पूछे जाते हैं। बेहतर होगा कि इस हिस्से की तैयारी के लिए इंग्लिश ग्रामर के मॉडल पेपरों को हल करने की प्रैक्टिस करें।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Education News in Hindi related to careers and job vacancy news, exam results, exams notifications in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Education and more Hindi News.

Comments

स्पॉटलाइट

19 की उम्र में 27 साल बड़े डायरेक्टर से की थी शादी, जानें क्या है सलमान और हेलन के रिश्ते की सच

  • मंगलवार, 21 नवंबर 2017
  • +

साप्ताहिक राशिफलः इन 5 राशि वालों के बिजनेस पर पड़ेगा असर

  • मंगलवार, 21 नवंबर 2017
  • +

ऐसे करेंगे भाईजान आपका 'स्वैग से स्वागत' तो धड़कनें बढ़ना तय है, देखें वीडियो

  • सोमवार, 20 नवंबर 2017
  • +

सलमान खान के शो 'Bigg Boss' का असली चेहरा आया सामने, घर में रहते हैं पर दिखते नहीं

  • सोमवार, 20 नवंबर 2017
  • +

आखिर क्यों पश्चिम दिशा की तरफ अदा की जाती है नमाज

  • सोमवार, 20 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!