आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

देहरादून में ठगी करने आए चार युवक गिरफ्तार

ब्यूरो / अमर उजाला, देहरादून

Updated Wed, 19 Oct 2016 07:30 PM IST
four fraud arrested in dehradun

जेल

पुलिस ने गाजियाबाद से देहरादून में ठगी करने आए गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से कागजी नोटों की दो गड्डियों के साथ चाकू बरामद हुआ है। कब्जे से मिली कार को सीज कर दिया गया है। यह गिरोह हरिद्वार में होटल में रहने के बाद बुधवार सुबह यहां पहुंचा था।
पुलिस अधीक्षक नगर अजय सिंह ने बताया कि सिटी पेट्रोल यूनिट के दारोगा कैलाश शर्मा और कांस्टेबल अमित कुमार ने ईसी रोड पर बुधवार सुबह एक संदिग्ध कार को रोक लिया। कार में चार युवक सवार थे। कार के कागजात न उपलब्ध कराने पर शक हुआ तो उनकी तलाशी ली गई।

चाकू के साथ कागजी नोटों की दो गड्डियां मिलने के बाद उन्हें डालनवाला कोतवाली लाया गया। पूछताछ में आरोपी अर्जुन उर्फ  मोहन सिंह, मोहन  निवासी नेहरूनगर गाजियाबाद, दीपक शर्मा उर्फ  दीपू  और ऋषभ निवासी ग्राम कबला थाना दक्षिणी फिरोजाबाद ने ठगी करने की बात स्वीकार कर ली।

एसपी सिटी ने बताया कि यह गैंग दो दिन पहले हरिद्वार आया था। वहां पर एक होटल में ठहरने के बाद बुधवार सुबह दून पहुंचा था, लेकिन पुलिस ने ठगी से पहले से उसे दबोच लिया। अर्जुन और ऋषभ आपस में रिश्ते में जीजा साले बताए गए है। 

ऐसे करते हैं ठगी 
जालसाज नोटों के आकार की कागजों की गड्डी के ऊपर 500 का नोट लगाकर बैंक पहुंच जाते है। गड्डी को रुमाल में लपेटकर यह लोग अनजान बनकर दूसरे ग्राहकों से रकम को बैंक में जमा कराने के बारे में पूछताछ करते है। शिकार को फंसाने के लिए वेतन न मिलने पर रुपये चुराकर लाने की कहानी सुनाते है। इसलिए चोरी छिपे रकम घर भिजवानी है।

अधिकांशत: शिकार उनके झांसे में आ जाता है। कागज के नोटों की गड्डी रुमाल में बांधकर शिकार को यह कहकर थमा दी जाती है कि वो बैंक में जमा करा दे। कई तरह के बहाने कर तीन से चार हजार रुपये ऐंठ लेते है। शिकार भी नोटों की गड्डी हड़पने के इरादे से अपनी जेब खाली कर देता है। ठगों के जाने के बाद शिकार जब अकेले में गड्डी देखता है तो माथा पकड़ने के अलावा कोई चारा नहीं रहता है। 

गुरु ने दी दून जाने की सलाह
एसपी सिटी अजय सिंह ने गिरोह के सरगना अर्जुन सिंह के हवाले से बताया कि गुरु सन्नी ने उन्हें देहरादून जाकर ठगी करने की सलाह दी थी। गुरु यहां से कई बार ठगी कर चुका है। उनके इशारे पर ही बुधवार को दून आए थे। कुछ कर पाते, इससे पहले ही पकड़े गए।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

कंगना के घर में आई खुशियां, जल्द आएगा नन्हा मेहमान

  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

मोबाइल के टेक्स्ट मैसेज को दूसरे फोन में कैसे करें ट्रांसफर

  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

ब्लू आर1 प्लस स्मार्टफोन लॉन्च, जानें क्या है स्पेसिफिकेशन

  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

'नो एंट्री' के सीक्वल में सलमान खान का डबल धमाका

  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

मेष राशि वालों को इस सप्ताह होगा अपनी गलतियों का अहसास, जानें अपना प्रेम राशिफल

  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

Most Read

भाजपा विधायक की गुंडागर्दी, पैसे न देने पर बैंक मैनेजर को बंधक बनाकर पीटा

bank manager fiercely beaten by BJP mla in Baraily
  • गुरुवार, 27 अप्रैल 2017
  • +

वाराणसी में दुकानदार ने दिखाया साहस, भाग खड़े हुए पांच डकैत

Shopkeeper shows courage in Varanasi, Five robbers run away
  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

युवती से दुराचार कर दोस्तों को भेज दिए अश्लील फोटो

Girl Rape Case at Kullu, Accused Arrested.
  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

नाबालिग भतीजी के सा​थ बुआ की शर्मनाक करतूत देखिए, तीन बार अबॉर्शन

sexual harassment of minor girl by bua at chandigarh, three times abortion
  • सोमवार, 24 अप्रैल 2017
  • +

वाराणसी में खंभे से टकराई बाइक, सगे भाइयों की मौत, एक घायल

Bike collides with poles in Varanasi; tho Dead
  • शुक्रवार, 28 अप्रैल 2017
  • +

यूपी में चार कत्ल के मामले का खतरनाक सच आया सामने

4 people of family killed ruthlessly in allahabad
  • मंगलवार, 25 अप्रैल 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top