आपका शहर Close

राजनीतिक स्टंट है आरक्षण

हरीश लखेड़ा

Updated Fri, 14 Dec 2012 08:51 PM IST
reservations political stunt
एफडीआई के खिलाफ वोटिंग करने के अलावा लॉबिंग का मुद्दा उठाकर भाजपा ने संसद में मजबूत विपक्ष होने का परिचय दिया है। लेकिन नितिन गडकरी से जुड़े विवाद और येदियुरप्पा के बाहर होने जैसे कई मुद्दों ने उसकी छवि पर असर भी डाला है। इन तमाम मसलों पर भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह से हरीश लखेड़ा ने बातचीत की -

- इसी महीने भाजपा का नया अध्यक्ष चुना जाना है। नितिन गडकरी पर आरोप लग जाने के बाद उनकी दोबारा ताजपोशी पर आशंका जताई जा रही है। ऐसे में नए अध्यक्ष के तौर पर आपका नाम भी सामने आ रहा है।
गडकरी जी को लेकर कोई दुविधा नहीं है। भला उन्हें दोबारा कार्यकाल क्यों नहीं मिलेगा। जहां तक अध्यक्ष पद के लिए मेरा नाम उछलने का सवाल है, यह सच नहीं है।

- राज्यसभा में आरक्षण विधेयक का भाजपा ने समर्थन किया है, जबकि सपा विरोध कर रही है। उत्तर प्रदेश में कर्मचारी हड़ताल पर हैं। क्या आपको नहीं लगता कि इससे भाजपा का सवर्ण वोट सपा के पाले में चला जाएगा?
केंद्र सरकार को समझना चाहिए था कि यह बसपा का राजनीतिक स्टंट है। बसपा कभी भी ईमानदारी से दलित और आदिवासी समुदायों के हितों की बात नहीं सोचती। वह वोट बैंक के हिसाब से काम करती रही है। कांग्रेस ने भी इस मामले में राजनीति की है। इस विधेयक को लाने से पहले सरकार को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए था। मुझे नहीं लगता कि भाजपा के समर्थक दूर जाएंगे।

- मौजूदा सत्र में यूपीए ने सपा और बसपा को साधकर संसद में अपना संख्याबल दिखा दिया, जबकि भाजपा सरकार पर दबाव बनाने में ज्यादा कामयाब नहीं दिख रही।
ऐसा नहीं है। अभी संसद का सत्र चल रहा है और भाजपा लगातार मुद्दे उठाकर सरकार पर दबाव बनाती रही है। रिटेल में एफडीआई के फैसले पर भाजपा ने विपक्ष के साथ मिलकर सरकार पर संसद में मतदान कराने के नियमों के तहत चर्चा कराने के लिए दबाव बनाया और उसमें सफलता भी मिली। रिटेल एफडीआई में लॉबिंग मामले की भी भाजपा ने ही न्यायिक जांच कराने की मांग की थी, जिसे सरकार को मानना पड़ा।

- भाजपा इस बार भ्रष्टाचार के मामले उठाती नहीं दिख रही।
भाजपा का नजरिया साफ है कि वह कभी भ्रष्टाचार पर समझौता नहीं करेगी। एफडीआई मामले पर हमारा स्टैंड साफ दिखा है। सत्र अभी समाप्त नहीं हुआ है, इसलिए ये मामले आगे भी उठेंगे। भाजपा पहले जैसी ही है। संसदीय लोकतंत्र में ऐसे ही मुद्दे उठाए जाते हैं। अब हम लाठी लेकर तो मैदान में उतर नहीं सकते।

- कर्नाटक में येदियुरप्पा को बाहर जाना पड़ा है। जनाधार वाले नेता भाजपा से आखिर कब तक बाहर जाते रहेंगे?
जनाधार कभी स्थायी नहीं रहता। यह बनता-बिगड़ता रहता है। भाजपा अपने संगठन और कार्यकताओं के कारण पहले की तरह मजबूत है।

- येदियुरप्पा के अलग होने से कर्नाटक सरकार संकट में है और कहा जा रहा है कि संगठन की स्थिति भी ठीक नहीं।
कर्नाटक में भाजपा कमजोर नहीं हुई है। पार्टी संगठन भी पहले की तरह मजबूत है। इस प्रकरण से पार्टी को जो भी नुकसान हुआ होगा, वह जल्दी ही भरपाई कर लेगी।

- भाजपा ने कहा था कि दिल्ली के सिंहासन का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर जाता है। इसलिए लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए क्या किया जा रहा है?
हमारी प्रदेश इकाई संगठन को मजबूत बनाने में लगी है। संगठन के चुनाव भी हो चुके हैं। लोगों का सपा और बसपा से मोहभंग हो चुका है। वैसे भी ये दोनों कांग्रेस के सहयोगी हैं। इन दलों से जनता आजिज आ चुकी है। इसलिए उत्तर प्रदेश के लोगों को विकल्प के तौर पर सिर्फ भाजपा ही दिख रही है।

Comments

स्पॉटलाइट

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

अपने पार्टनर के सामने न खोलें दिल के ये राज, पड़ सकते हैं लेने के देने

  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: जुबैर के बाद एक और कंटेस्टेंट सलमान के निशाने पर, जमकर ली क्लास

  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

अदरक का एक टुकड़ा और 5 चमत्कारी फायदे, रोजाना करें इस्तेमाल

  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

क्या आपने सुना ढिंचैक पूजा का ये नया गाना? वीडियो देख चौंक जाएंगे

  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

रूढ़ियों को तोड़ने वाला फैसला

supreme court new decision
  • रविवार, 15 अक्टूबर 2017
  • +

ग्रामीण विकास का नुस्खा

measure of Rural development
  • शनिवार, 21 अक्टूबर 2017
  • +

सरकारी संवेदनहीनता की गाथा

Saga of government anesthesia
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

ग्रामीण विकास से मिटेगी भूख

Wiped hunger by Rural Development
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

दीप की ध्वनि, दीप की छवि

sound and image of Lamp
  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

दूसरों के चेहरे पर भी हो उजास

Light on the face of others
  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!