आपका शहर Close

एक कवि का जीवन संघर्ष

कल्लोल चक्रवर्ती

Updated Sun, 09 Dec 2012 03:01 PM IST
book review by kallol chakravati
उद्भ्रांत हिंदी के जाने-माने कवि हैं और समकालीन कविता में उनके योगदान की अनदेखी नहीं की जा सकती। कविता के प्रति चौतरफा उदासीनता के दौर में वह न सिर्फ निरंतर सक्रिय हैं, बल्कि महाकाव्य और खंडकाव्य के निरंतर सृजन में उनकी प्रतिबद्धता का भी पता चलता है।
'सृजन की भूमि' दरअसल उनके काव्यगत जीवन संघर्ष का दस्तावेज है, जिसे कोई चाहे, तो आत्मकथा भी कह सकता है, हालांकि यह उस रूप में नहीं है। इसमें कवि ने अपने काव्यगत संस्कारों के बारे में विस्तार से बताया है, तो अपनी कविताओं के बारे में दूसरों की टिप्पणियों की भी विशद चर्चा की है।

जबकि दूसरी किताब 'आलोचना का वाचिक' उनकी कविताओं पर आलोचकों के उद्गारों का रिकॉर्ड है, जो भारतीय प्रसारण सेवा में होने के कारण उनके लिए अपेक्षाकृत आसान था। हालांकि इससे इस किताब की उपयोगिता और महत्व थोड़ा भी कम नहीं होता। बल्कि अपने इस स्वरूप में वह अद्भुत है कि इसमें उद्भ्रांत की कविताओं पर परिचर्चाएं जैसे जीवंत हो उठती हैं।

सबसे बड़ी बात यह कि उद्भ्रांत की कविताओं पर दिग्गज आलोचकों के विचार सिलसिलेवार तरीके से दर्ज किए गए हैं। लेकिन इन दोनों किताबों के साथ दिक्कत यह है कि इनका स्वरूप भारी-भरकम है। अगर इनके संपादन में थोड़ी पेशेवर निर्ममता बरती जाती, तो पाठकों का कुछ उपकार होता।

'ब्लैकहोल' के इस नए संस्करण का महत्व यह है कि इसमें ज्ञानरंजन और अरुण पांडेय की बड़ी टिप्पणियों के अलावा अखबारों और पत्रिकाओं की समीक्षाएं भी हैं। ये तीनों किताबें कवि उद्भ्रांत की जीवंत छवि बनाती हैं।  
Comments

स्पॉटलाइट

'पद्मावती' विवाद पर दीपिका का बड़ा बयान, 'कैसे मान लें हमने गलत फिल्म बनाई है'

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

'पद्मावती' विवाद: मेकर्स की इस हरकत से सेंसर बोर्ड अध्यक्ष प्रसून जोशी नाराज

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

कॉमेडी किंग बन बॉलीवुड पर राज करता था, अब कर्ज में डूबे इस एक्टर को नहीं मिल रहा काम

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

हफ्ते में एक फिल्म देखने का लिया फैसला, आज हॉलीवुड में कर रहीं नाम रोशन

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

SSC में निकली वैकेंसी, यहां जानें आवेदन की पूरी प्रक्रिया

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

Most Read

सेना को मिले ज्यादा स्वतंत्रता

More independence for army
  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

आधार पर अदालत की सुनें

Listen to court on Aadhar
  • सोमवार, 13 नवंबर 2017
  • +

मोदी-ट्रंप की जुगलबंदी

Modi-Trump's Jugalbandi
  • गुरुवार, 16 नवंबर 2017
  • +

युवाओं को कब मिलेगी कमान?

When will the youth get the command?
  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

मानवाधिकार पर घिरता पाकिस्तान

Pakistan suffers human rights
  • मंगलवार, 14 नवंबर 2017
  • +

दक्षिण कोरिया से भारत की दोस्ती

India's friendship with South Korea
  • गुरुवार, 16 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!