Breaking News in Hindi Friday, August 01, 2014

Home > State > Uttar Pradesh > Gorakhpur

गोरखपुर

लूट के दौरान बाइक से गिरकर महिला घायल

गोरखपुर। बेखौफ लुटेरों ने बृहस्पतिवार की शाम एक और महिला का पर्स लूट लिया। छीना-झपटी के दौरान महिला बाइक से गिरकर घायल हो गईं।

डॉक्टर बाहर से करवा रहे जांच, लिख रहे दवा

गोरखपुर। जिले के स्वास्थ्य केंद्रों पर बाहर से जांच करवाने और दवा लिखे जाने की शिकायत बढ़ने पर सीएमओ ने बुधवार को निरीक्षण किया। कैम्पियरगंज स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण में इसकी हकीकत भी सामने आई।

चंदन को लाने की पहली कोशिश नाकाम

गोरखपुर। बाराबंकी जिला कारागार में बंद शातिर चंदन सिंह को गोरखपुर लाने की पुलिस की पहली कोशिश नाकाम हो गई है। कैंट पुलिस ने सीजेएम कोर्ट में आवेदन करके चंदन को 28 जुलाई को गोरखपुर लाने की अपील की थी, जिसे मंजूरी नहीं मिली।

एम्स की स्थापना के लिए जनसंघर्ष के लिए तैयार रहना होगा

गोरखपुर। महाराणा प्रताप पीजी कॉलेज में ‘गोरखपुर में एम्स की स्थापना’ विषय पर आयोजित जन संवाद आयोजित किया गया। सभी ने गोरखपुर में एम्स को इस क्षेत्र की सबसे बड़ी जरूरत करार दिया।

राप्ती के राजघाट पर हुई मधुकर दिघे की अन्त्येष्टि

गोरखपुर। मेघालय के पूर्व राज्यपाल रहे मधुकर विनायक दिघे की राजकीय सम्मान के साथ सोमवार को राप्ती के राजघाट पर अन्त्येष्टि की गई। बेटे पंकज दिघे ने उन्हें मुखाग्नि दी।

रात में इंसेफेलाइटिस मरीजों को भर्ती करने में लापरवाही

गोरखपुर। स्वास्थ्य केंद्रों पर खोले गए इंसेफेलाइटिस ट्रीटमेंट सेंटर (ईटीसी) पर सीएमओ की सख्ती के बाद मरीजों का उपचार तो होने लगा लेकिन अब रात में मरीज भर्ती करने में लापरवाही की शिकायतें आ रही हैं। इन शिकायतों के मद्देनजर सीएमओ ने सख्ती दिखाते हुए कहा है कहा है कि अब मनमानी बंद कर दें नहीं तो शासन स्तर से कार्रवाई होगी।

सात दिनों में 19 मासूमों ने दम तोड़ा

गोरखपुर। बारिश का मौसम शुरू होते ही इंसेफेलाइटिस मरीजों की तादाद तेजी से बढ़ी है। पिछले एक सप्ताह में मेडिकल कॉलेज में 46 मरीज इलाज के लिए आए, उनमें से 19 मासूमों ने दम तोड़ दिया।

बैक पेपर के लिए अब साल भर का इंतजार नहीं

गोरखपुर। बैक पेपर के लिए अब विद्यार्थियों को साल भर का इंतजार नहीं करना होगा। सितंबर में इसकी परीक्षा कराकर नवंबर तक रिजल्ट घोषित कर दिए जाएंगे।

कई विभागों को ईद से पहले तनख्वाह नहीं

गोरखपुर। शासन के निर्देश के बाद भी कई विभागों के कर्मचारियों को ईद से पहले वेतन नहीं मिल पाएगा। इन विभागों में वेतन के लिए बजट नहीं है और अगर बजट मिलता भी है तो बिल तैयार करने और उसे पास कराने की प्रक्रिया ही समय से पूरी नहीं हो पाएगी।

तबादले के बाद भी जमें डॉक्टरों पर सख्ती

गोरखपुर। वर्ष 2012 में स्थानांतरित किए गए पांच डॉक्टरों को शासन की सख्ती के बाद रिलीव तो किया गया, लेकिन अभी तक वह तैनाती वाले स्थान पर नहीं गए। अब शासन ने कड़ा रुख अख्तियार किया है।
1 2 3 4 5 अगला

प्रमुख ख़बरें

बवाल के बाद बरेली में तनावपूर्ण शांति

tension in bareilly बरेली के मीरा की पैठ और सैलानी इलाके में बृहस्पतिवार को शांति रही लेकिन तनाव बरकरार है।...

कचहरी में पीयूष को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, देखिए तस्वीरें

piyush beaten in court premise by advocates पत्नी ज्योति की हत्या के अभियुक्त पीयूष श्याम दासानी को गुरुवार को वकीलों ने कचहरी में दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। देखिए तस्वीरें।...

'पीयूष बोल रहा हूं, ज्योति की चीखने की आवाज तो सुनाओ'

piyush wanted to listen the screaming of jyoti पीयूष ज्योति की चीखें सुनना चाहता था इसीलिए 27 जुलाई की रात ज्योति को कार समेत हत्यारोपियों के हवाले करने के बाद उसने फोन भी...