आपका शहर Close

सकारात्मक ऊर्जा का स्रोत है गुंबदनुमा छत

राकेश/इंटरनेट डेस्क

Updated Tue, 11 Sep 2012 11:12 AM IST
vaulted roof positive energy source
मंदिर या किसी भी पूजा स्थल में प्रवेश के बाद जो शांति या सकारात्मक ऊर्जा महसूस होती है, उसका राज क्या है? ऐसा महसूस होता है कि जिस चिंता और तनाव से हम परेशान थे उनसे निकलने का मार्ग मिल गया। मंदिर में प्रवेश करते ही ऐसा क्यों महसूस होता है, अगर आप यह रहस्य नहीं समझ पाये हैं तो अगली बार जब भी मंदिर जाएं तो मंदिर की छत को गौर से देखें। दरअसल मंदिर के छत की बनावट में आपको उर्जा प्रदान करने की शक्ति होती है।
वास्तु विज्ञान के अनुसार गुंबदनुमा छत अथवा पिरामिड के नीचे रहने से सकारात्मक उर्जा का संचार होता है। इसका वैज्ञानिक कारण यह है कि उर्जा विभिन्न दिशाओं में बंटती नहीं है। पिरामिड अथवा गुंबदनुमा छत की खोखली सतह से टकराकर उर्जा सीधे व्यक्ति के ऊपर पड़ती है। यह परावर्तित उर्जा तरंगे मानव शरीर की प्राकृतिक आवृति को बनाये रखने में सहायक होती है।

इससे ध्यान केन्द्रित होता और ईश्वर के प्रति आस्था बढ़ती है। यही कारण है कि प्राचीन काल में आमतौर पर मंदिर की छत पिरामिडनुमा हुआ करती थी। ऋषिगण अपनी कुटिया की छत पिरामिडनुमा बनाते थे, ताकि नकारात्मक उर्जा से उनकी तपस्या प्रभावित न हो। वास्तु विज्ञान में कहा गया है कि पिरामिड नरात्मक उर्जा को सोख लेता है। बीमार व्यक्ति अगर पिरामिडनुमा अथवा गुंबदनुमा छत के नीचे सोए तो इनके स्वास्थ्य तेजी से सुधार होता है।

वास्तु के इन्हीं नियमों को ध्यान में रखकर संभवतः मस्जिद और बौद्ध स्तूपों की छत को गुंबदनुमा बनाया गया होगा। गिरिजाघरों की छत पिरामिडनुमा होती है इसके पीछे भी वास्तु का यही नियम मान्य हो सकता है। पिरामिड वास्तु दोष दूर करने का एक आसान साधन है। घर की छत पर पिरामिड बनाकर घर में मौजूद वास्तु दोष को दूर किया जा सकता है। 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Astrology News in Hindi related to daily horoscope, tarot readings, birth chart report in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Astro and more news in Hindi.

Comments

स्पॉटलाइट

पद्मावती का 'असली वंशज' आया सामने, 'खिलजी' के बारे में सनसनीखेज खुलासा

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

Film Review: विद्या की ये 'डर्टी पिक्चर' नहीं, इसलिए पसंद आएगी 'तुम्हारी सुलु'

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

पत्नी को किस कर रहा था डायरेक्टर, राजकुमार राव ने खींच ली तस्वीर, फोटो वायरल

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

सिर्फ 'पद्मावती' ही नहीं, ये 4 फिल्में भी रही हैं रिलीज से पहले विवादों में

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

बेसमेंट के नीचे दफ्न था सदियों पुराना ये राज, उजागर हुआ तो...

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

Most Read

जानिए क्यों घर के बाहर नींबू मिर्च लटकाया जाता है, ये है वैज्ञानिक कारण

 know about the scientific reason of hanging lemon and chilli in front of door
  • गुरुवार, 16 नवंबर 2017
  • +

घर में पैसे की बरसात कर देगा तिजोरी में रखा ये बीज, जानें रखने का तरीका

Mesua ferrea can change your financial conditions
  • सोमवार, 29 मई 2017
  • +

छिपे हुए शत्रुओं से बचाता है मोर का पंख, ऐसे करें उपाय

importance of peacock feather in vaastu shastra
  • गुरुवार, 1 जून 2017
  • +

सैलेरी आते ही हो जाती है खत्म, रविवार को करें ये उपाय

vaastu tips for salary
  • गुरुवार, 11 मई 2017
  • +

चमकाना चाहते हैं किस्मत तो इस जगह भी करें घी का इस्तेमाल

donate these things for good luck, health, power according to shiva purana
  • बुधवार, 31 मई 2017
  • +

टोटका ही नहीं वास्तुदोष भी कम करता है नींबू, जानिए कैसे

lemon to remove vastu dosh
  • शनिवार, 13 मई 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!