आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

घड़ी की टिक-टिक में छिपा है उन्नति का राज

राकेश/इंटरनेट डेस्क

Updated Sat, 27 Oct 2012 04:43 PM IST
secret of advancement hidden in clock tick  tick according to fengshui remedy
सुनकर शायद यकीन न करें लेकिन यह सच है कि दीवाल पर टंगी घंड़ियां भी घर में सुख-समृद्धि लाती हैं। फेंगशुई के अनुसार घड़ी की सूईयां एवं पेंडुलम से सकारात्मक उर्जा का संचार होता है। इसलिए कभी भी घर में बंद घड़ी नहीं रखें इससे उन्नति रूक जाती है।
घड़ी का चलते रहना निरन्तर विकास का प्रतीक है। समय से पीछे चलती घड़ी भी फेंगशुई के अनुसार सही नहीं होती है। व्यवहारिक जीवन में भी घड़ी का समय से पीछे चलना कई बार परेशानी का करण बनता है इसलिए घड़ी का समय सही रखें।

घड़ी को कहां पर लगाएं
घड़ी कभी भी दक्षिण दिशा वाली दीवार पर नहीं लगाएं। दक्षिण दिशा को फेंगशुई एवं वास्तु दोनों में ही शुभ नहीं माना गया है क्योंकि यह यम की दिशा होती है। विज्ञान के अनुसार इस दिशा में निगेटिव एनर्जी होती है। दक्षिण दिशा की दीवार पर घड़ी होने से बार-बार आपका ध्यान इस दिशा की ओर जाएगा। इससे बार-बार दक्षिण दिशा की नकारात्मक उर्जा आप प्राप्त करेंगे।

फेंगशुई के अनुसार घड़ी को कभी भी मुख्य द्वार के ठीक सामने अथवा दरवाजे के ऊपर नहीं लगाना चाहिए। इससे घर से बाहर आते और जाते समय आपके आस-पास की उर्जा प्रभावित होती है। इसके परिणामस्वरूप तनाव बढ़ता है। कुछ लोग सोते समय घड़ी तकिया के नीचे रख लेते हैं। ऐसा करने से घड़ी की टिक-टिक से नींद खराब होती है।

आजकल जो भी घड़ियां आती हैं वह आमतौर पर बैट्री से चलती हैं। इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से जो इलेक्ट्रो-मैग्नेनिटक तरंग निकलता है उसका प्रभाव मस्तिष्क एवं हृदय पर पड़ता है। इसलिए फेंगशुई के साथ वैज्ञानिक दृष्टि से भी तकिये के नीचे घड़ी रखना अच्छा नहीं माना जाता है। ।

घड़ी की सही दिशा
घडी को दीवार पर लगाने के लिए उत्तर, पूर्व एवं पश्चिम दिशा को आदर्श माना जाता है। इन दिशाओं को पोजेटिव एनर्जी प्रदान करने वाला माना जाता है। ड्रांईंग रूम या बेडरूम में घड़ी ऐसे लगाएं ताकि रूम में प्रवेश करने पर घड़ी पर नज़र जाए। यह भी ध्यान रखें कि घड़ी पर धूल-मिट्टी न जमे।  मधुर संगीत उत्पन्न करने वाली दीवार घड़ी घर के मुख्य हॉल में लगानी चाहिए। इससे सकारात्मक ऊर्जा में वृद्धि होती है।

कौन सी घड़ी लकी है
घड़ियों का आकार फेंगशुई में काफी मायने रखता है। इसलिए जब अब घड़ी खरीद रहे हों तो इस बात का ध्यान रखें कि क्या आपकी घड़ी फेंगशुई के अनुसार आपके लिए लकी है। फेंगशुई के अनुसार अंडाकार, गोल, अष्टभुजाकार और षट्भुजाकार घड़ी बहुत ही शुभ होती है।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

'पाकीज़ा' की इस एक्ट्रेस को हॉस्पिटल में छोड़कर भाग गया बेटा, कमरे में बंद करके पीटता था

  • रविवार, 28 मई 2017
  • +

'मि. इंडिया' से स्टार बनी थी नन्ही 'टीना', अब कर रही है ये काम

  • रविवार, 28 मई 2017
  • +

रमजान से जुड़ी इन बातों को नहीं जानते होंगे आप

  • रविवार, 28 मई 2017
  • +

90 के दशक में धमाल मचाने वाली ये स्टार आज कर रही ऐसा काम, दुनिया में हो रहा भारत का नाम

  • रविवार, 28 मई 2017
  • +

जानिए क‌ितना भ्‍ााग्‍यश्‍ााली है रविवार का द‌िन

  • रविवार, 28 मई 2017
  • +

Most Read

सैलेरी आते ही हो जाती है खत्म, रविवार को करें ये उपाय

vaastu tips for salary
  • गुरुवार, 11 मई 2017
  • +

टोटका ही नहीं वास्तुदोष भी कम करता है नींबू, जानिए कैसे

lemon to remove vastu dosh
  • शनिवार, 13 मई 2017
  • +

जानें कैसे इस पौधे की जड़ को रखने से भर जाती है तिजोरी

vaastu tips of hatha jodi
  • बुधवार, 19 अप्रैल 2017
  • +

घर में इस जगह रखें फिटकरी का टुकड़ा, बिना तोड़-फोड़ के खत्म होगा वास्तुदोष

vaastu tips of alum
  • बुधवार, 19 अप्रैल 2017
  • +

जानें कैसे 400 ग्राम दूध बचा सकता है आपको आने वाली दुर्घटनाओं से

milk can save you an accident
  • रविवार, 23 अप्रैल 2017
  • +

क्या घर के मुख्य द्वार के आगे भी हैं ये चीजें? फौरन हटा लें नहीं तो हो जाएंगे कंगाल

Vaastu Tips, These Things In Front Of Your Main Gate Will Left You Broke
  • शनिवार, 4 मार्च 2017
  • +
Live-TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top