आखिर पाकिस्तान के लिए क्यों बोझ बना हाफिज सईद?

Home›   Pakistan›   now hafiz saeed become burden on pakistan

मोहम्मद हनीफ

now hafiz saeed become burden on pakistan

जबान पहले बेअदब हुई थी अब गुस्ताख होने लगी है। जिस दिन डॉन अखबार ने रिपोर्ट किया कि राजनेताओं ने जनरलों से दबे लफ्जों में पूछा कि हाफिज सईद का क्या करना है। उसी दिन सत्तारुढ़ पार्टी के एक नेता ने कहा कि हाफिज सईद हमारे लिए कौन से अंडे देते हैं कि हम पूरी दुनिया को जवाब देते फिरें। अब हमारे विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने पूरी दुनिया के सामने कैमरे पर आकर कहा कि हाफिज सईद पाकिस्तान पर बोझ है। उन्होंने कुछ दूसरे गिरोहों के नाम भी लिए लेकिन कल तक हम उन गिरोहों के वजूद से इनकार करते थे। लेकिन हाफिज सईद तो इस धरती के सपूत हैं और पूरी दुनिया में जाने पहचाने जाते हैं। जब पड़ोसी देश उन्हें दहशतगर्द कहता है तो हमारे दिलों से नारा-ए-तकबीर की आवाज बुलंद होती है। जब हमारा पूर्व सहयोगी उनके सिर पर 10 मिलियन का ईनाम रखता है तो हम उसे सीने का तमगा समझता हैं और पूरी कौम उनके आसपास दीवार बनकर खड़ी हो जाती है। हाफिज कैसे बने बोझ? हम एक पारंपरिक और क्रूर समाज हैं जहां विधवाओं, मजदूरों और घर के बुजुर्गों को बोझ समझा जाता है। आखिरी बार हमने हाफिज सईद की तस्वीर देखी तो वह घोड़े पर सवार थे और यकीनन कश्मीर या फलस्तीन या चेचन्या को आजाद करवाने के सफर पर थे। पढ़ें: पाक में बैठे आतंकी आका बना रहे हैं राजनीतिक पार्टियां पाकिस्तान का पहला मुजाहिदीन इस देश के लिए बोझ कैसे हो गया? यह तो हाफिज सईद की शराफत है कि उन्होंने यह नहीं कहा कि वह देश पर बोझ नहीं हैं बल्कि ये देश उन पर बोझ है। आखिर उन्होंने कब से इस देश की रक्षा नीति का आधा बोझ अपने कंधों पर उठाया हुआ है। साथ ही हाफिज सईद की शराफत है कि उन्होंने ये सब कहने की जगह ख्वाजा साहब पर दस करोड़ की मानहानि का दावा किया है। इस पर भी देश पूछता है कि सिर्फ दस करोड़, उससे दस गुना रकम तो अमरीका आप के सिर के लिए देने को तैयार है।
आगे पढ़ें >>

कोर्ट में पेश होने के लिए बनाया गया रक्षा मंत्री

Share this article
Tags: pakistan , hafiz saeed , terrorist , hafiz saeed party , kashmir , pok ,

Also Read

पाकिस्तान का वो गांव जहां वॉलीबॉल पर है आतंकियों का साया

अमेरिका में बंदूकबाजी का बोलबाला, 68 फीसदी अपराध में बंदूक का होता है इस्तेमाल

एक लीटर डीजल की कीमत 54 हजार रुपये, सुनकर चौंक गए न

सीरिया: पुलिस स्टेशन पर आत्मघाती हमला, 15 लोगों की मौत

Most Popular

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

26 अक्टूबर को शनि बदलेंगे अपनी चाल, 3 राशि से हटेंगी शनि की तिरछी नजर

पार्टी में अमिताभ बच्चन की पोती से मिलीं रेखा, ऐश्वर्या ने कहा कुछ ऐसा जिससे बिग बी को होगा गर्व

पहली ही जंग में आमिर की 'सीक्रेट सुपरस्टार' से आगे निकली अजय की 'गोलमाल अगेन'