सर्वश्रेष्ठ रेजीमेंट अभियान पर निकला सेना का दल

Home›   City & states›   सर्वश्रेष्ठ रेजीमेंट अभियान पर निकला सेना का दल

Dehradun Bureau

पुरोला। दुर्गम क्षेत्रों के युवाओं को सैन्य सेवा के प्रति जागरूक करने के लिए भारतीय सेना का एक दल रूपीन पास अभियान पर निकला है। यह 12 सदस्यीय दल 15 हजार फीट की ऊंचाई वाले व 151 किमी लंबे इस ट्रैकिंग अभियान को 25 दिन में पूरा करेगा। अभियान के दौरान दल रास्ते में मौजूद गांवों के पूर्व सैनिकों, स्कूल एवं कालेज के युवाओं से भी मिलेगा। 268 इंजीनियर बीआर रेजीमेंट के 53वें स्थापना दिवस पर इस एक्सपीडीशन को सर्वश्रेष्ठ रेजीमेंट अभियान नाम दिया गया है। बुधवार को 268 इंजीनियर बीआर रेजीमेंट (पीएमएस) अंबाला का 12 सदस्यीय दल कैप्टन नीरज के नेतृत्व में गोविंद पशु विहार के धौला से रूपीन पास अभियान पर निकला है। अभियान के दौरान दल उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के पर्वतीय इलाकों से होते हुए रूपीन पास को पार करेगा। तिब्बत सीमा से लगे क्षेत्र में सेना का यह अभियान सामरिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है। अभियान दल का नेतृत्व कर रहे कैप्टन नीरज ने बताया कि दल के सदस्य रास्ते में पूर्व सैनिकों, स्कूल एवं कालेज के नौजवानों से भी मुलाकात करेंगे। दल युवाओं को भारतीय सेना में भर्ती होने के लिए भी प्रेरित करेगा। अभियान रेजीमेंट के 53वें स्थापना दिवस पर आयोजित किया गया है। दल में नायब सूबेदार त्रिलोक सिंह, हवलदार बलवेंद्र सिंह, नायक देवेंद्र सिंह, जाकिर हुसैन, सुखवेंदर सिंह, नीमागरे, सूरज, भाग सिंह, हरदयाल सिंह, पार्थ शर्मा आदि शामिल है।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

दिवाली पर ये हैं लक्ष्मी पूजन के तीन शुभ मुहूर्त, इस विधि से करेंगे पूजा तो हो जाएंगे मालामाल

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

जेल में 52 दिन की जिंदगी में राम रहीम का हो गया वो हाल, पहचान नहीं पाएंगे