नदी में कूदे मां-बेटे की लाश मिली

Home›   Crime›   नदी में कूदे मां-बेटे की लाश मिली

Gorakhpur Bureau

बांसी (सिद्धार्थनगर)। पांच दिन पूर्व राप्ती पुल से छलांग लगाने वाले मां-बेटे की लाश बरामद हो गई है। मां की लाश रविवार को कैंपियरगंज के पास मिली, जबकि 8 वर्षीय बेटे का शव सोमवार को क्षेत्र के मरवटिया गांव के पास से बरामद हुआ। शव खराब हो गया था। कपड़ों के आधार पर परिजनों ने उसकी शिनाख्त की। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना का कारण गृह कलह बताया जा रहा है। राप्ती पुल से एक महिला ने एक बच्चे को नदी में फेंका और फिर खुद कूद गई थी। लोगों के काफी प्रयास के बाद भी उसका पता नहीं चल सका। इसके अगले ही दिन जितेंद्र साहनी ने कोतवाली बांसी में तहरीर देकर आरोप लगाया था कि उसके बहनोई के उत्पीड़न व गृहकलह से क्षुब्ध होकर बांसी कोतवाली के बगाहवा कोमर के मढ़हवा टोला निवासी उसकी बहन 28 वर्षीय उर्मिला पत्नी अजय साहनी व उसके 8 वर्षीय पुत्र शनि ने नदी में कूद कर आत्महत्या कर ली है। कोतवाली पुलिस ने तहरीर के आधार पर अजय साहनी पर धारा मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी थी। इसी दौरान रविवार को राप्ती नदी के किनारे कैंपियरगंज में उर्मिला की लाश पाई गई, जिसे पोस्टमार्टम के लिए उसी दिन भेज दिया गया। पुत्र शनि का शव सोमवार को बांसी कोतवाली अंतर्गत ग्राम मटियरिया गांव के पास राप्ती नदी के किनारे मिला। कपड़ों आदि से उसकी पहचान हुई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले की विवेचना कर रहे एसआई रविकांत मणि ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

हर्षिता दहिया को पहले ही हो गया था मौत का अंदाजा, FB लाइव होकर किया था खुलासा

जेल में 52 दिन की जिंदगी में राम रहीम का हो गया वो हाल, पहचान नहीं पाएंगे

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

जानिए आखिरी FB लाइव में ऐसा क्या बोली थी हर्षिता दहिया, कुछ घंटे में हो गया मर्डर

पहली बार मिलने आई पत्नी से राम रहीम ने कही ऐसी बात, फूट-फूट कर रोई वो