प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या में फंसी प्रेमिका खूनी प्रेमी के यहां पर गई

Home›   Crime›   प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या में फंसी प्रेमिका खूनी प्रेमी के यहां पर गई

Moradabad Bureau

सब कुछ छोड़कर पहुंची प्रेमी के द्वार मिलक (रामपुर)। प्रेमी के साथ मिलकर पति का खून करने वाली युवती के सिर से प्यार का भूत जेल में रहने पर भी नहीं उतरा। पिता के जमानत कराने पर रिहा हुई युवती प्रेमी के साथ चली गई। पिता व परिजनों के दूसरे संप्रदाय के प्रेमी के घर जाने का विरोध करने पर युवती ने एसडीएम कोर्ट में भी प्रेमी के साथ रहने की इच्छा जताई। इसके बाद उसको पुलिस अभिरक्षा में भेज दिया गया। यह घटना क्षेत्र में चर्चा बनी हुई है। केमरी थाना क्षेत्र के एक ग्रामीण की बेटी की शादी तहसील सदर के एक गांव में तीन साल पहले हुई थी। ससुराल पहुंची युवती ने दूसरे संप्रदाय के अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति का खून कर दिया था। पति की हत्या में प्रेमी और युवती के साथ उसके भाई को भी जेल जाना पड़ा था। जेल काटने पर युवती के पिता ने उसकी और बेटे की जमानत करा ली। पति की हत्यारोपी युवती पिता और भाई को ठुकराकर अपने आशिक के यहां चली गई। मामला दो संप्रदायों का होने से युवती के पिता ने उसको फुसलाकर ले जाने की शिकायत पुलिस से की। सोमवार को पुलिस ने उपजिलाधिकारी डा. ज्योति गौतम के यहां उसको प्रेश किया। युवती के परिवार वालों ने समाज की दुहाई दी और दूसरी जगह शादी कराने का हवाला दिया। इसके बावजूद प्रेमी दीवानी नहीं मानी। एसडीएम ने पुलिस सुरक्षा में युवती के बयान दर्ज किए और उसको पुलिस अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए। युवती ने प्रेमी के यहां पर जाने की इच्छा जताई। इस प्रकरण की जानकारी मिलने पर हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता यहां पहुंचे और आक्रोशित हो गए। इसके चलते एसडीएम ने अतिरिक्त पुलिस बुला ली।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

पार्टी में अमिताभ बच्चन की पोती से मिलीं रेखा, ऐश्वर्या ने कहा कुछ ऐसा जिससे बिग बी को होगा गर्व

26 अक्टूबर को शनि बदलेंगे अपनी चाल, 3 राशि से हटेंगी शनि की तिरछी नजर

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

हर्षिता दहिया का एक ऐसा राज सामने आया, जिसे शायद ही कोई जानता हो