शराब की दूकान हटाने के लिए कोतवाली पर घेराव

Home›   Crime›   शराब की दूकान हटाने के लिए कोतवाली पर घेराव

Varanasi Bureau

चुनार। कोतवाली क्षेत्र के प्रयागपुर गांव की दलित बस्ती में बुधवार की रात लगभग आठ बजे नशे में धुत दो लोगों ने नमकीन के पांच रुपये के लेनदेन को लेकर एक दूकानदार को पीट दिया। घटना के बाद दूकानदार अपने कुछ साथियों के साथ दलित बस्ती में पहुंचा और कई लोगों से मारपीट की। जिसमें छह लोगों को चोटें आईं। इस पर गुरुवार को दलित बस्ती के लोगों ने दोषियों पर कार्रवाई करने व बस्ती से सटे शराब की दूकान को हटाए की मांग को लेकर कोतवाली का घेराव किया। जो पुलिस के समझाने पर खत्म हुआ। प्रयागपुर निवासी दो लोग बुधवार की रात बगल के गांव मिश्रिरपुरा में परचून की दुकान पर नशे में धुत होकर नमकीन लेने पहुंचे। दस रुपये के नमकीन को पांच रुपये में देने की बात करने पर दूकानदार ने नमकीन नहीं दिया। जिस पर विवाद में दूकानदार को दोनों ने पीट दिया। आरोप है कि कुछ देर बाद दूकानदार अपने दर्जन भर साथियों के साथ दोनों व्यक्तियों के घर दलित बस्ती पहुंचा और परिवार की आशा देवी (35), मनीषा राव (12) शीला देवी (36) चुन्नी देवी (40) व दोनों आरोपियों राजकुमार व पंकज राव को मारा पीटा। बस्ती में तोड़फोड़ भी की। गुरुवार की सुबह नाराज दलित बस्ती के लोगों दोषियों पर कठोर कार्रवाई करने व शराब की दूकान को हटाये जाने की मांग को लेकर घंटे भर कोतवाली का घेराव किया। इस मामले में दोनों पक्षों की ओर से कोतवाली में तहरीर दी गई है। पुलिस ने बस्ती के छह लोगों का मेडिकल मुआयना कराया। कोतवाल राजीव सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मामले की जांच कर दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

सलमान खान के लिए असली 'कटप्पा' हैं शेरा, एक इशारे पर कार के आगे 8 km तक दौड़ गए थे

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

इतना बुरा गाकर भी लाखों कमाती हैं ढिंचैक पूजा, बिग बॉस के लिए भी ली सबसे ज्यादा फीस