पिता का शव कंधे पर लादकर अस्पताल के बाहर ले गया बेटा

Home›   City & states›   पिता का शव कंधे पर लादकर अस्पताल के बाहर ले गया बेटा

Kanpur Bureau

जिला अस्पताल में उपचार के दौरान पिता की मौत हो जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा एंबुलेंस का इंतजाम न किए जाने से नाराज बेटा पिता का शव कंधे पर लादकर चल दिया। इससे अस्पताल में खलबली मच गई और आनन फानन में एंबुलेंस मुहैया कराई गई। कस्बा कुलपहाड़ निवासी भगवानदास बसोर (58) पुत्र सुम्मेरा के बीमार होने पर उसे बुधवार की शाम को उसका बेटा राजा जिला अस्पताल लाया। जहां पर उपचार के दौरान पिता की मौत हो गई। बेटा पिता अपने घर कुलपहाड़ ले जाने के लिए चिकित्सकों से एंबुलेंस के इंतजाम के लिए गिड़गड़ाता रहा लेकिन किसी ने उसकी एक नही सुनी। इससे आहत होकर बेटा पिता के शव को कंधे पर लादकर चल दिया। इससे खलबली मच गई। अस्पताल से बाहर निकलकर वह किसी वाहन से पिता के शव को शहर के मोहल्ला कसौड़ापुरा में अपने रिश्तेदार के यहां ले गया।इसकी खबर मिलते ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एसके वार्ष्णेय ने आनन फानन में एंबुलेंस का इंतजाम कराकर शव को उसके घर कुलपहाड़ भिजवाया। जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. आरपी मिश्रा का कहना है कि किसी भी मरीज व तीमारदार ने एंबुलेंस की व्यवस्था की कोई बात नहीं की। अस्पताल में हर समय एंबुलेंस उपलब्ध रहती है।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

शादीशुदा हैं मल्लिका शेरावत, फिल्में छोड़ विदेश में संभाल रहीं ब्वॉयफ्रेंड की अरबों की संपत्ति

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

60 फिल्मों में किया नारद मुनि का रोल, 24 भाई-बहनों में पला ये एक्टर खलनायक बनकर हुआ था पॉपुलर

सलमान खान के लिए असली 'कटप्पा' हैं शेरा, एक इशारे पर कार के आगे 8 km तक दौड़ गए थे

शादी की खबरों के बीच डॉक्टर से मिलने पहुंचे विराट-अनुष्का, तस्वीरें वायरल

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज