वाहन चोरों का हुआ खुलासा

Home›   Crime›   वाहन चोरों का हुआ खुलासा

Jhansi Bureau

वाहन चोरों का पुलिस ने किया खुलासाललितपुर। जिले में बढ़ रही मोटरसाइकिल चोरी की वारदातों पर लगाम लगाने के लिए चोरों की धरपकड़ कर रही क्राइम ब्रांच और पुलिस टीम को शनिवार को एक सफलता हाथ लगी। कई राज्यों में बाइक चोरी करने वाले गिरोह के एक सदस्य को पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया। क्राइम ब्रांच ने पाली थानाध्यक्ष की संयुक्त कार्रवाई में आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने दो स्कूटी समेत दस बाइकों को बरामद कर लिया। वहीं, पुलिस को आता देख उसका एक साथी मौके से फरार हो गया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। इसका खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक ने पुलिस लाइन में जानकारी दी। रविवार को पुलिस लाइन सभागार में प्रेस वार्ता कर करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार विजेता ने बताया कि कुछ समय से नगर व जनपद के अन्य क्षेत्रों से बाइक चोरी की घटनाओं के प्रकाश में आने के बाद से आरोपियों की धरपकड़ का अभियान चलाया जा रहा था। इसके क्रम में क्षेत्राधिकारी नाराहट देव आनंद के नेतृत्व में बाइक चोर गिरोह का पर्दाफाश करने के लिए क्राइम ब्रांच जुट गई। शनिवार को मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच टीम के श्याम सुंदर यादव ने पाली थानाध्यक्ष के साथ संयुक्त कार्रवाई करने हुए बजरंगगढ तिराहे के पास से घुमंतू जाति के एक अंतर्राज्यीय बाइक चोर थाना पाली के मुहल्ला नटयाना निवासी नवीन नट उर्फ नब्बी पुत्र हबीब खान को पाली की ओर आता देख गिरफ्तार कर लिया। बाइक चोर के पास से चोरी की बाइक बरामद होने पर पुलिस ने पूछताछ की तो, इस दौरान पुलिस ने बाइक चोर की निशान देही पर आसपास के क्षेत्रों में बेची गई बाइकों की जानकारी मिलने पर चोरी की आठ बाइक व दो स्कूटी बरामद कर लीं। वही क्राइम ब्रांच टीम ने बाइक चोर के फरार साथी मध्यप्रदेश के जिला भोपाल के जहांगीराबाद निवासी छोटे खान पुत्र कदीर खान की तलाश शुरू कर दी है। पहले भी बाइक चोरी की कर चुके हैं वारदातें पकड़ा गया आरोपी एक साल पहले भी तत्कालीन पाली थानाध्यक्ष ने नवीन को चोरी की बाइकों सहित गिरफ्तार किया था। आरोपी के खिलाफ मध्यप्रदेश के जिला सागर, वीना, विदिशा, भोपाल व जनपद में चोरी के कई मुकदमे दर्ज हैं। आरोपी के पास से जिला अस्पताल परिसर से चोरी की गई मोटरसाइकिलें भी बरामद हुई हैं। आरोपी घुमंतू जाति का होने के कारण जनपद व मध्यप्रदेश की सीमा से सटे क्षेत्रों में घूमकर बाइकों की चोरी कर उन्हें मात्र 2500 रुपये में बेच दिया करते थे। यहां से चोरी हुई बाइक बरामद क्राइम ब्रांच की टीम ने बाइक चोर के पास से 27 फरवरी को न्यायालय परिसर से चोरी की गई बाइक, जिला अस्पताल से 25 मई को चोरी बाइक, क्षेत्रपाल मंदिर के पास से 29 अगस्त को चोरी बाइक, 21 अगस्त को थाना मड़ावरा के ग्राम रजौला से चोरी की गई बाइक, मध्यप्रदेश के मालथौन के ग्राम खिरियाकंला से सात अगस्त को चोरी की गई बाइक, मध्यप्रदेश के जिला सागर के बहेरिया से चोरी की गई बाइक, भोपाल के ग्राम कोटरा से चोरी की गई स्कूटी, मध्यप्रदेश के जिला बिदिशा के चोरी की गई बाइक व बिना नंबर की एक स्कूटी एवं एक बाइक बरामद हुई है। बाइक चोर बाइकों पर फर्जी नंबर प्लेट व उसकी चेसिस बदलकर धोखाधड़ी कर लोगों को बेच देते थे। पुलिस ने अंर्तराज्यीय चोर के खिलाफ चोरी की बाइकें बरामद होने पर धोखाधड़ी करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। यह टीम रही शामिल अंर्तराज्यीय वाहन चोरी के खुलासे में पाली थानाध्यक्ष केएन सिंह, उपनिरीक्षक मनोज कुमार, संतोष कुमार, अमित कुमार, नफीस अहमद, क्राइम ब्रांच के श्याम सुंदर यादव व सिपाही रविंद्र कटियार व अजमत उल्ला शामिल रहे।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

दिवाली पर ये हैं लक्ष्मी पूजन के तीन शुभ मुहूर्त, इस विधि से करेंगे पूजा तो हो जाएंगे मालामाल

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

जेल में 52 दिन की जिंदगी में राम रहीम का हो गया वो हाल, पहचान नहीं पाएंगे