जिले में 37 हजार बच्चे टीकाकरण से वंचित

Home›   City & states›   जिले में 37 हजार बच्चे टीकाकरण से वंचित

Lucknow Bureau

बच्चों को बीमारियों से बचाने के लिए घर-घर चलेगा टीकाकरण अभियानगोंडा। शून्य से पांच साल तक के बच्चों का सम्पूर्ण टीकाकरण किए जाने के लिए चलने वाले मिशन इंद्रधनुष अभियान के बाद भी जिले में अभी करीब 37 हजार बच्चे ऐसे हैं, जो टीकाकरण से आच्छादित नहीं हो पाए हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने घर-घर जाकर इन बच्चों के टीकाकरण करने का रोडमैप तैयार किया है। जिसकी शुरूआत 8 अक्तूबर को मीनाईया फुरकानिया से की जाएगी। जिसके बाद लगातार 11 दिनों तक यह अभियान चलेगा। साथ बही हर महीने की 7 तारीख से शून्य से पांच साल तक के बच्चों का टीकाकरण भी इसी मिशन इंद्रधनुष के विस्तारित स्वरूप सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान के तहत ही होगा। इंद्रधनुष के सात रंगों की तरह बच्चो में होने वाली सात प्रकार की गंभीर व जानलेवा बीमारियों से उन्हें बचाने के लिए मिशन इंद्रधनुष अभियान वैसे तो जिले में काफी समय से चलता आ रहा है। लेकिन अब इस मिशन के लक्ष्य को 100 फीसदी पूरा करने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।उत्तर प्रदेश के 52 जिलो व 8 नगरीय इलाकों में इसके लिए भारत सरकार ने प्रदेश सरकार के साथ मिलकर एक सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान चलाने का रोडमैप तैयार किया है। जिसकी शुरूआत हर जिले में 8 तारीख को औपचारिक उद्घाटन के साथ कर दी जाएगी। जिसके अगले दिन से स्वास्थ्य विभाग के लोग घर-घर जाकर बच्चों का टीकाकरण करेंगे। गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में सघन मिशन इंद्रधनुष को लेकर आयोजित एक पत्रकार वार्ता में सीडीओ दिव्या मित्तल ने बताया कि पांच साल तक के बच्चों का टीकाकरण हर अभिभावक के लिए बेहद जरूरी है। क्योंकि बच्चों का अगर अभी टीकाकरण हो जाएगा तो वह अपने भविष्य में कभी भी किसी गंभीर बीमारी से बीमार नहीं होगा। इसलिए समाज का हर व्यक्ति इस अभियान में अपना जितना सहयोग हो सके वह करे। क्योंकि बिना इसके बच्चों का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहेगा। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.राकेश अग्रवाल ने बताया कि जिले शून्य से दो साल के ऐसे करीब 37 हजार बच्चे ऐसे हैं, जो टीकाकरण से आच्छादित नहीं हो पाए हैं।जिन पर हमें ज्यादा जोर देना है। साथ ही घर-घर जाकर गर्भवती माताओं के साथ ही उनके बच्चों का टीकाकरण किए जाने के लिए उन्होंने अपनी सारी तैयारियां पूरी कर रखी हैं। अभियान हर महीने चलेगा। अभियान का शुभारंभ 8 अक्तूबर से हो जाएगा।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

दिवाली पर ये हैं लक्ष्मी पूजन के तीन शुभ मुहूर्त, इस विधि से करेंगे पूजा तो हो जाएंगे मालामाल

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

जेल में 52 दिन की जिंदगी में राम रहीम का हो गया वो हाल, पहचान नहीं पाएंगे