खेल मानव जीवन का अभिन्न अंग

Home›   City & states›   खेल मानव जीवन का अभिन्न अंग

Varanasi Bureau

मुगलसराय। बबुरी के अशोक इंटर कालेज में तीन दिवसीय मंडल स्तरीय स्कूली खेल कूद और सांस्कृतिक कार्यक्रमों की गुरुवार को भव्य शुरूआत हुई। मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र सिर्फ उर्फ मोती सिंह ने ध्वज फहरा कर और गुब्बारे आसमान में छोड़ कर की। इस दौरान उन्होंने खेल को मानव जीवन का अभिन्न अंग बताया। उद्घाटन समारोह में मोती सिंह ने कहा कि खेलों से छात्र छात्राओं के शारीरिक के साथ साथ बौद्धिक विकास होता है। कहा कि कैरियर के लिहाज से भी यह अत्यंत महत्वपूर्ण है। छात्रों को पढ़ाई के साथ खेलों पर ध्यान देने का आह्वान करते हुए कहा कि इससे छात्रों में अनुशासन और सामाजिक होने में मदद मिलती है। कहा कि यदि मैं प्रदेश का शिक्षा मंत्री होता तो नौकरियों में विद्यालयों में खेल की शिक्षा अनिवार्य कर देता। कहा कि प्रदेश सरकार भी खेलों क विकास पर बल दे रही है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विधान परिषद सदस्य केदारनाथ सिंह ने कहा कि खेलों से भाईचारे को बल मिलता है। यही कारण है कि स्कूलों में खेल कूद पर अत्यधिक महत्व दिया जाता है। उन्होंने कहा कि यह मायने नहीं रखता है कि खिलाड़ी जीतता है अथवा हारता है। मुख्य बात खेलों में हिस्सा लेना है। मंडलीय स्कूली प्रतियोगिता में चंदौली, गाजीपुर, वाराणसी और जौनपुर के सैकड़ों खिलाडी विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करेगे। कार्यक्रम का संचालन वीरेन्द्र सिंह ने की।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

रिलायंस जियो के बदल गए सभी प्लान, रिचार्ज कराने से यहां देखें पूरी लिस्ट

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

दिवाली पर ये हैं लक्ष्मी पूजन के तीन शुभ मुहूर्त, इस विधि से करेंगे पूजा तो हो जाएंगे मालामाल

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा