खरीफ की फसल ने किसानों को बनाया 7.42 अरब का कर्जदार

Home›   City & states›   खरीफ की फसल ने किसानों को बनाया 7.42 अरब का कर्जदार

Kanpur Bureau

अमर उजाला ब्यूरोबांदा। बुंदेलखंड में एक-दूसरे का पर्याय बने किसान और कर्ज की परिस्थितियों के बीच किसानों ने इस बार फिर खरीफ की फसल 7.42 अरब रुपये का कर्ज लेकर खड़ी की है। लेकिन दैवी आपदा का दुर्भाग्य पीछा नहीं छोड़ रहा। कम बारिश से खरीफ की फसल में लगाया गया कर्ज का पैसा डूबने के आसार नजर आ रहे हैं। चित्रकूटधाम मंडल में इस वर्ष खरीफ के लिए चारों जिलों के किसानों ने बैंकों से यह फसली ऋण लिया है।कई दशकों से लगातार मौसम की मार ने बुंदेलखंड के किसानों की पूंजी और आत्मनिर्भरता लगभग खत्म कर दी है। बिना कर्ज उनका काम नहीं चल पा रहा। इस वर्ष मानसून ठीकठाक रहने का पूर्वानुमान बताया गया था। ऐसे में किसानों ने उम्मीदों के साथ बैंकों से फसली ऋण लेकर खरीफ की फसल खड़ी की है। चित्रकूटधाम मंडल के व्यवसायिक और सहकारी बैंकों ने किसानों को 7 अरब 42 करोड़ 32 लाख 43 हजार रुपये का फसली कर्ज दिया है। इनमें बड़े और छोटे सभी किसान शामिल हैं। बड़े किसानों को कर्ज माफ होने की उम्मीद भी नहीं है। उधर, बारिश में भारी गिरावट से कर्ज लेकर खेत में खड़ी की गईं फसलें मुरझाने लगी हैं। काफी बड़े क्षेत्रफल में तो यह पूरी तरह खराब हो चुकी हैं।मंडल के बांदा जनपद में किसानों ने एक अरब 26 करोड़ 88 लाख रुपये कर्ज लिया है। चित्रकूट के किसानों ने एक अरब 52 करोड़ 67 लाख 29 हजार, हमीरपुर के किसानों ने तीन अरब 59 करोड़ 17 लाख और महोबा के किसानों ने एक अरब 3 करोड़ 60 लाख रुपये का कर्ज लेकर खरीफ की फसल तैयार की थी।-फसली ऋण लेकर खड़ी की खरीफ फसल-कम बारिश से खेती के साथ कर्ज डूबने के आसार कर्जमाफी में सिर्फ 2.33 अरब माफचित्रकूटधाम मंडल में किसानों की कर्जमाफी में मात्र 37,303 किसानों को ही शामिल किया गया है। इनका 2 अरब 33 करोड़ 98 लाख 78 हजार 766 रुपये माफ किया है। दूसरी मौजूदा खरीफ फसल में ही मंडल के किसान 7.42 अरब रुपये से ज्यादा के कर्जदार हो गए हैं। इनमें तमाम किसान ऐसे भी हैं जो कर्जमाफी के दायरे में नहीं आते। उन्हें अपना पूरा कर्ज अदा करना होगा। पहले चरण की कर्जमाफी में बांदा में 8,994 किसानों का 54 करोड़ 53 लाख 3 हजार 651 रुपये, चित्रकूट के 5,587 किसानों का 34 करोड़ 62 लाख 62 हजार 270 रुपये, हमीरपुर के 12,618 किसानों का 77 करोड़ 59 लाख 80 हजार 883 रुपये और महोबा के 10,104 किसानों का 67 करोड़ 23 लाख 31 हजार 960 रुपये माफ हुआ है। अभी मंडल में 1,74,864 किसान कर्जमाफी से वंचित हैं। हालांकि बैंक द्वारा इन्हें अपनी सूची में शामिल किया गया है। अधिकारियों का कहना है कि इन किसानों के अगले चरण में एक लाख रुपये तक के कर्ज माफ होंगे।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

26 अक्टूबर को शनि बदलेंगे अपनी चाल, 3 राशि से हटेंगी शनि की तिरछी नजर

पार्टी में अमिताभ बच्चन की पोती से मिलीं रेखा, ऐश्वर्या ने कहा कुछ ऐसा जिससे बिग बी को होगा गर्व

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हिमाचल विस चुनाव: जानिए किस विस क्षेत्र में किन धुरंधरों के बीच हो रही है चुनावी जंग

हर्षिता दहिया का एक ऐसा राज सामने आया, जिसे शायद ही कोई जानता हो

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज