तिर्वा व उमर्दा बने चैंपियन

Home›   Sports›   Tiruvah and Umarda made champions

kannauj

Tiruvah and Umarda made championsPC: अमर उजाला

कन्नौज। केके इंटर कालेज खेल मैदान पर चल रही दो दिवसीय प्रतियोगिताओं का समापन  हुआ। बारिश के चलते कई प्रतियोगिताएं अंतिम दौर में बारिश की भेंट चढ़ी। मुख्य विकास अधिकारी अवधेश बहादुर सिंह ने समापन किया। सीडीओ ने विजयी प्रतिभागियों को शील्ड देते हुए कहा कि यह पुरस्कार कठोर परिश्रम का नतीजा है। छात्रों को पढ़ाई के साथ खेलकूद के प्रति जागरूक होना चाहिए। खेलकूद कंप्टीशन से बहुत आगे पहुंचा जा सकता है। डीआईओएस विमलेश विजयश्री ने जीतने वाले छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि जो छात्र स्थान लाने में नाकाम रहें हैं उनको हताश होने की जरूरत नहीं है। वह इस बात पर ध्यान लगाएं कि आखिर उनसे कहां पर चूक हुई है। अगली प्रतियोगिताओं में वह दोगुनी मेहनत के साथ मैदान पर उतरे और उनको विजय मिलेगी।  इस मौके पर के के इंटर कालेज के प्रधानाचार्य वी के श्रीवास्तव, शिवमोहन कुशवाहा, दिव्या शर्मा, वी पी सिंह, रविकांत, सुनील यादव, चंद्रपाल, राना तिवारी, आदित्य गंगवार सहित अन्य मौजूद रहे। जूनियर में शिखा व अंशिका जीती सीनियर बालक वर्ग में डीएन इंटर कालेज तिर्वा के आनंद कुमार, जीआईसी उमर्दा की श्वेता पाल ने दौड़ में चैंपियनशिप जीती। जूनियर वर्ग में जीआईसी उमर्दा की शिखा पाल, बाबा हरीपुरी इंटर कालेज कसावा की अंशिका दुबे ने दौड़ में चैंपियनशिप हासिल की। जबकि गोमती देवी इंटर कालेज गुरसहायगंज की वंदना ने गोला फेंक, हैमर थ्रो में चैंपियनशिप जीती। सीडीओ ने प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान हासिल करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। बारिश से मैदान पर मची भगदड़ कन्नौज। दोपहर करीब दो बजे के बाद आए बादल के बाद हुई बारिश ने प्रतियोगिताओं में खलल डाल दिया। बारिश शुरू होने के दौरान 1500 मीटर की दौड़ चल रही थी। प्रतियोगिता के बीच में बारिश आ जाने के बाद छात्राओं ने बारिश में ही पूरी की। इसके बाद जिसको जहां स्थान मिला वहीं पर उसने अपने को बारिश से बचाया।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

हनीप्रीत को लेकर नई जानकारी आई सामने, राम रहीम के बारे में कह गई बड़ी बात

Dhanteras : भूलकर भी इस ‌दिन न खरीदें ये 4 चीजें, होता है अशुभ

10 साल से एक हिट के लिए तरस रहे थे बॉबी देओल, सलमान खान ने खोल दी किस्मत

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

बेटी के पिता हैं तो ये वाला बैंक अकाउंट खुलवा लें, करोड़पति बन सकते हैं

Dhanteras 2017: भूलकर भी न खरीदें ये 5 चीजें, मालामाल की जगह हो जाएंगे कंगाल