FIFA U-17WC:कोच माटोस ने बदली टीम के दस फुटबॉलरों की पोजीशन

Home›   Football›   FIFA U-17 World cup, Luis Norton de Matos changed the footballer position

हेमंत रस्तोगी,नई दिल्ली

FIFA U-17 World cup, Luis Norton de Matos changed the footballer position

फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप में खेलने जा रही मेजबान भारत के पुर्तगाली कोच लुई नॉर्टन डि माटोस ने टीम के साथ भारी प्रयोग किए हैं। कोच ने इस साल पद भार संभालने के बाद टीम के 10 फुटबॉलरों की पोजीशन को बदल दिया है। इनमें डिफेंडर के रूप में पहले खेल चुके प्रभसुकेन सिंह गिल को गोलकीपर बनाया गया है। जबकि मिडफील्डर के रूप में खेलने वाले उत्तराखंड मूल के जितेंद्र सिंह को डिफेंडर बनाया गया है। वहीं मिडफील्डर रहे अनिकेत जाधव को फॉरवर्ड के रूप में खेलने को कहा गया है। यही नहीं सात स्ट्राइकर (फॉरवर्ड) मिडफील्डर की पोजीशन में खेलेंगे। जर्मनी के कोच निकोलाई एडम्स के समय ये सभी फुटबालर अपनी मूल पोजीशन में खेलते थे, लेकिन माटोस की रणनीति में इनको नया स्थान दिया गया है। माटोस के यह प्रयोग टीम के लिए कितने मददगार साबित होंगे इसका पता वर्ल्ड कप में लगेगा। पढ़ेंः- आज से फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप के जोश में डूबेगा देश, भारत का मुकाबला अमेरिका से सूत्रों का कहना है कि ऑल इंडिया फुटबाल फेडरेशन की पूरी निगाह माटोस के इन प्रयोगों पर है। अभी यही मानकर चला जा रहा है कि कोच ने जो परिवर्तन किए हैं वह बेहतर ही साबित होंगे। सूत्र यह भी बताते हैं कि जब माटोस ने फुटबॉलरों  की पोजीशन को परिवर्तित करने का फैसला लिया था उस दौरान टीम और फेडरेशन की नजरें कुछ तिरछी जरूर हुई थीं, लेकिन टीम के प्रदर्शन की जिम्मेदारी कोच की होती है। वही मैदान पर टीम के लिए रणनीति भी बनाता है, इस लिए इन प्रयोगों को सकारात्मक ढंग से लिया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो कप्तान अमरजीत सिंह और जैक्सन सिंह को एडम्स कई मुकाबलों में बतौर स्ट्राइकर खिला चुके थे। दोनों ही टीम में मिडफील्डर की भूमिका निभाएंगे। कोमल थलाल, अभिजीत सरकार, लालेंगमाविया, नांगदेंबा नाउरेम और राहुल कनोले भी एडम्स के समय में बतौर फॉरवर्ड खेलते थे, लेकिन अब ये टीम में मिडफील्डर की भूमिका में नजर आएंगे। 2017 में छह मैच जीती और 12 हारी है यह टीम साल 2017 में अंडर-17 टीम में ब्रिक्स कप, रूस, मेक्सिको और यूरोप में खेले गए टूर्नामेंटों के अलावा मैत्री मुकाबलों के कुल 25 मैच खेले हैं। इनमें टीम को छह में जीत हासिल हुई है और 12 में हार मिली है, जबकि सात ड्रा रहे हैं। भारत ने चिली, सर्बिया, मेसाडोनिया जैसी टीमों को बराबरी पर रोका। बेलारूस को 1-0, मारीशस को 3-0 से हराया, जबकि रूस के हाथों 0-8, लाटविया से 1-4, मेक्सिको से 1-5, ब्राजील से 1-3 और कोलिंबया से 0-3 से हार भी मिली। हालांकि रूस और लाटविया की टीम में अंडर-19 के फुटबालर भी शामिल थे। 
Share this article
Tags: fifa u-17 world cup 2017 , fifa u-17 , fifa world cup 2017 , fifa u-17 world cup ,

Also Read

#FIFAU17WC : इन पर है आज तिरंगे की शान बढ़ाने की जिम्मेदारी

#FIFAU17WC ने दुनिया को दिए ये बेमिसाल खिलाड़ी

आज से फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप के रोमांच में डूबेगा देश, भारत का मुकाबला अमेरिका से

ICC U17WC: वर्ल्ड के वो 5 स्टार फुटबॉलर्स, जिनका खेल देखने के लिए बेकरार हैं फैंस

Most Popular

सलमान खान के लिए असली 'कटप्पा' हैं शेरा, एक इशारे पर कार के आगे 8 km तक दौड़ गए थे

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

BIGG BOSS 11: क्यों नहीं हुई प्रियांक शर्मा की घर में एंट्री, ये है नया ट्विस्ट