चुनाव से पहले कई मसलों पर अड़े अफसर, मनमाफिक नहीं हुए कैबिनेट में फैसले

Home›   City & states›   himachal cabinet decisions objections by officers

ब्यूरो/अमर उजाला, शिमला

himachal cabinet decisions objections by officers

सरकार एक बार फिर शासन की आपत्तियों के चलते मन मुताबिक फैसले नहीं ले पाई है। अधिकारियों के दबाव के चलते सोने की दो रिफाइनरियों को 14 करोड़ की राहत देने का मामला दोबारा कैबिनेट में आया। सरकार एक माह पहले दोनों रिफाइनरियों को बड़ी राहत दे चुकी थी, लेकिन वित्त और विधि विभाग की आपत्तियों के चलते बुधवार को दोबारा लाना पड़ा। दोनों उत्पादकों पर वर्ष 2013 से एंट्री टैक्स का बकाया है, जिसे अब वसूलने के बाद फिर राहत दी जाएगी। बीमार उद्योग को लगभग तीन हजार करोड़ का राहत पैकेज भी सरकार नहीं पास कर पाई है। अधिकारियों ने तीन मंत्रियों मुकेश अग्निहोत्री, ठाकुर सिंह भरमौरी और प्रकाश चौधरी की सिफारिशों पर पलीता लगा दिया। बैठक में लंबे समय मुद्दे पर चर्चा हुई, जिसके बाद कई बदलाव कर पॉलिसी पास हुई। विभागीय अधिकारियों की आपत्ति के बाद अदानी ग्रुप, रिलायंस, एल एंड टी सहित आधा दर्जन ऊर्जा क्षेत्र में काम करने वाली कंपनियों के एक हजार करोड़ के अपफ्रंट प्रीमियम को लौटाने का एजेंडा पास नहीं हुआ।
आगे पढ़ें >>

अड़ गए अधिकारी

Share this article
Tags: himachal cabinet , shimla news , cm virbhadra singh , himachal news , himachal cabinet meeting ,

Most Popular

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

Bigg Boss 11: घर से बेघर हुई लुसिंडा ने सुनाई आपबीती, बोलीं- आकाश करता था इसके लिए 'इंसिस्ट'

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

पहली बार मिलने आई पत्नी से राम रहीम ने कही ऐसी बात, फूट-फूट कर रोई वो

Dhanteras 2017: भूलकर भी आज न खरीदें ये 4 चीजें, होता है अशुभ

10 साल से एक हिट के लिए तरस रहे थे बॉबी देओल, सलमान खान ने खोल दी किस्मत