राम राजपाट छोड़कर वनवास गए थे, योगी जी वनवास से यहां आ गए: कन्हैया कुमार

Home›   City & states›   kanhya kumar comment on yogi ji

टीम डिजिटल/अमर उजाला, लखनऊ

kanhya kumar comment on yogi jiPC: File Photo

लिटरेरी फेस्टिवल में एबीवीपी कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद मंच पर बोलने पहुंचे कन्हैया कुमार ने संघ, बीजेपी और एबीवीपी पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने कहा कि जो लोग मेरा विरोध करने आए थे, मैं उनका भी स्वागत करता हूं। लखनऊ तहजीब का शहर है, और यह तस्वीर लखनऊ की नहीं हो सकती। मैं पहली बार देख रहा हूं कि किसी लिटरेरी फेस्टिवल में मेरा इस तरह का राजनैतिक विरोध हो रहा है। एबीवीपी को कटघरे में खड़ा करते हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि अगर आपको विरोध ही करना था तो इस सेशन से पहले सवाल पूछकर विरोध कर सकते थे। लोकतंत्र की यही खूबी है कि यहां दो अलग विचार धारा के लोग भी एक मंच पर अपनी बात कहते हैं। यह जनता का काम है कि वह किसे सही समझती है और किसे गलत, लेकिन बोलने न देना संघ, भाजपा और एबीवीपी की संस्कृति है। कन्हैया कुमार अपनी किताब 'बिहार से तिहाड़' के विमोचन के लिए लिटरेरी फेस्टिवल में हिस्सा लेने के लिए आए थे। पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी को किताब का विमोचन करना था। लेकिन हंगामे के चलते उन्होंने मंच पर आने से मना कर दिया। इस पर कन्हैया कुमार ने कहा कि अपनी किताब का विमोचन मैं खुद ही करूंगा। सीएम योगी पर बोलते हुए कन्हैया ने कहा कि ये योगी जी का शहर है। नए तरह का राम राज्य यहां आ रहा है। राम जी राजपाठ छोड़कर वनवास चले गए थे, योगी जी वनवास से यहां आ गए हैं।
Share this article
Tags: bjp , up news in hindi , kanhaiya kumar ,

Also Read

लिटरेरी फेस्टिवल में पहुंचे कन्हैया कुमार पर एबीवीपी कार्यकर्ताओं का हमला, देखें तस्वीरें

Most Popular

इस ऑनस्क्रीन भाई-बहन को एक-दूसरे से हुआ था प्यार, 15 साल की शादी के बाद आई बुरी खबर

गर्दन कटने की धमकी के बीच शाहरुख-आमिर ने किया दीपिका को फोन, कही ऐसी बात

हॉस्पिटल में ऐश्वर्या राय के साथ हुआ कुछ ऐसा, रोते हुए निकलीं बाहर

20 घंटे तक ट्रांसफार्मर से लिपटा रहा सांप, इसके बाद जो हुआ उससे हैरान रह गए लोग

19 की उम्र में 27 साल बड़े डायरेक्टर से की थी शादी, जानें क्या है सलमान और हेलन के रिश्ते की सच

क्रिस गेल और ब्रेंडन मैकुलम ने एकसाथ गेंदबाजों के उड़ाए होश, मारे ताबड़तोड़ छक्के