...तो इस तरह से माओवादियों की चंगुल से बच निकली 13 साल की मासूम

Home›   City & states›   a 13 year old girl escaped the Maoists, and tells what happens to her

amarujala.com- Presented by: अभिषेक मिश्रा

a 13 year old girl escaped the Maoists, and tells what happens to her

खुद को गरीबों का रक्षक और मददगार कहने वाले माओवादियों का असली चेहरा कुछ और ही है। 13 साल की नीला जो किसी तरह से माओवादियों के चंगुल से बच निकली, उसने अपनी कहानी सुनाई। उसने बताया कि माओवादियों से बचने के लिए वह सारी रात पेड़ पर लटकी रही। नीला ने बताया कि मुझे उस जगह से नफरत हो रही थी, लेकिन मेरे मन में बस एक ही बात चल रही थी कि मुझे यहां से किसी भी तरह से बाहर निकलना है।  नीला आदिवासी समुदाय से आती है, जिसे माओवादियों ने गुमला जिले के एक गांव से उठा लिया था। वह उसके बड़े भाई को अपने साथ लाना चाहते थें, लेकिन परिवार में कोई भी घर चलाने वाला नहीं था, नीला ने जब उनसे अपने भाई को छोड़ने की मांग की तो वह नीला को ही अपने साथ ले आएं।  पढ़ें: नाबालिग ने किया आदिवासी महिला से बलात्कार नीला ने बताया कि वह सारी रात लगभग सांस रोककर पेड़ पर रही। उसे बस उस नरक से बाहर निकलना था। नीला ने बताया कि माओवादियों ने उस पिछले तीन महीनों से दासी बनाकर रखा था और उससे नौकरों की तरह काम कराते थे। 
आगे पढ़ें >>

कई लड़कियों को बना रखा है दासी

Share this article
Tags: maoist , jharkhand , police , ngo , naxa ,

Also Read

छत्तीसगढ़: पुलिस की गिरफ्त में आई नक्सल महिला, सिर पर था 5 लाख का इनाम

सड़कों पर गड्ढों के चलते हर रोज होती है सात लोगों की मौत

अब एंबुलेंस के इंतजार में नहीं मरेंगी गर्भवती महिलाएं

Most Popular

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

साल की पहली ब्लॉकबस्टर बनीं 'गोलमाल अगेन', जानिए 3 दिन का कलेक्‍शन

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

इतना बुरा गाकर भी लाखों कमाती हैं ढिंचैक पूजा, बिग बॉस के लिए भी ली सबसे ज्यादा फीस

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

हिंदुस्तान की सबसे महंगी फिल्म बनाई पर जानता था पैसे डूब जाएंगे: शाहरुख खान