कठुआ में मेडिकल कॉलेज का काम जल्द

Home›   City & states›   Medical College work in Kathua soon

अमर उजाला ब्यूरो, कठुआ

Medical College work in Kathua soonPC: google

कठुआ में राजकीय मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य जल्द शुरू हो सकता है। तीन साल से लटकी इस योजना को परवान चढ़ाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को कठुआ में जल्द लाने की कवायद भी पीएमओ में मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने शुरू करवा दी है। हैरत की बात यह है कि घोषणा के बाद जहां अन्य जिलों में मेडिकल कॉलेजों का काम शुरू हो चुका था, वहीं कठुआ में भूमि चयन चयन भी नहीं हो पा रहा था। राजस्व विभाग के अधिकारियों की मानें तो तीन महीने पूर्व ही कवायद शुरू हुई और नेशनल हाईवे से सटे जिला अस्पताल के विपरीत सैन्य कैंप से सटे इलाके में मेडिकल कॉलेज के लिए भूमि को फाइनल कर दिया गया है। इसमें 55 कनाल भूमि का इंतकाल कर बाकायदा स्वास्थ्य और मेडिकल एजूकेशन विभाग को भी सौंप दी गई है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार कठुआ राजकीय डिग्री कॉलेज के लिए कुल 149 कनाल 9 मरले भूमि चक सज्जन में चयनित की गई है। हालांकि 55 कनाल के अतिरिक्त बची भूमि के अधिग्रहण की प्रक्रिया अभी बाकी है। सूत्रों के अनुसार केंद्रीय मंत्री के उद्घाटन के बाद जल्द ही 55 कनाल भूमि पर काम शुरू हो जाएगा और इसके साथ ही सटी हुई भूमि के अधिग्रहण की प्रक्रिया को भी शुरू कर दिया जाएगा। बता दें कि राजकीय मेडिकल कॉलेज कठुआ की भूमि के चयन प्रक्रिया के लंबा खिंचने से इसके खुलने में भी देरी होती चली गई। वर्ष 2014 के अगस्त माह में तत्कालीन हेल्थ और मेडिकल एजूकेशन मंत्री ने घोषणा की थी कि डेढ़ साल में निर्माण पूरा कर मेडिकल कालेज को सक्रिय कर दिया जाएगा, लेकिन किन्हीं कारणों से यह योजना लटकती चली गई। सीटें बढे़ंगी तो अभ्यर्थियों को लाभ कठुआ जिले में मेडिकल कॉलेज के सक्रिय होने से न सिर्फ स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार होगा, बल्कि एमबीबीएस अभ्यर्थियों को भी लाभ मिलेगा। सूत्रों की मानें तो कठुआ मेडिकल कॉलेज सक्रिय होने से एमबीबीएस की 100 सीटें भी बढे़ंगी, जिससे अब जिले के योग्य आवेदकों को यहीं प्रशिक्षण मिल सकेगा। ऐसे में दूरदराज जाने में कतराने वाले डाक्टरों की मानसिकता भी बदलेगी। जिला अस्पताल में सुविधाओं की कमी भी लोगों को नहीं खलेगी। अस्पतालों में भीड़ भी पहले के मुकाबले काफी कम हो जाएगी। इसके बनने से बेहतर इलाज के लिए पंजाब जाने वाले मरीजों को भी लाभ मिलेगा। सीधे तौर पर इससे रोजगार के साधनों का भी सृजन होगा। यही नहीं बनी, बिलावर और बसोहली के लोगों को अब इमरजेंसी के दौरान तीन घंटे का सफर और कम होगा और बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं जिला स्तर पर ही उपलब्ध होंगी। केंंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने की घोषणा रविवार को बायोटेक पार्क के भूमि पूजन के लिए पहुंचे पीएमओ मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने जनसभा के दौरान घोषणा कर साफ कर दिया कि आने वाले कुछ ही दिनों में राजकीय मेडिकल कॉलेज कठुआ की सौगात भी हासिल होने वाली है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री विदेश दौरे पर हैं। 16 मई के बाद कोई भी तिथि निर्धारित कर उन्हें कठुआ आमंत्रित किया जाएगा। उसके साथ ही कठुआ मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य भी शुरू हो जाएगा।
Share this article
Tags: medical college , kathua ,

Also Read

मेडिकल कॉलेज की बुनियाद के पत्‍थर को पैसे का इंतजार

अपना जिला अस्पताल बन सकता मेडिकल कॉलेज

आगरा में खुलेगी यूपी की पहली सेंट्रल स्ट्रलाइजेशन यूनिट

Most Popular

शादीशुदा हैं मल्लिका शेरावत, फिल्में छोड़ विदेश में संभाल रहीं ब्वॉयफ्रेंड की अरबों की संपत्ति

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

सलमान खान के लिए असली 'कटप्पा' हैं शेरा, एक इशारे पर कार के आगे 8 km तक दौड़ गए थे

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग