धूम-धाम के बीच आज यहां मनाया जा रहा है रावण के मरने का शोक

Home›   City & states›   Here people do not celebrate Dussehra

अमर उजाला टीम डिजिटल/जयपुर

Here people do not celebrate DussehraPC: अमर उजाला

आज देश भर में दशहरा धूम धाम से मनाया जाएगा। बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक इस पर्व पर रावण का दहन भी किया जाएगा और विजयादशमी की खुशियां मनाई जाएंगी। वहीं उल्लास के बीच एक शहर ऐसा है, जो रावण के मरने का शोक मना रहा है। दरअसल यह शोक मनाया जाएगा जोधपुर जिले के मंडोर शहर में। जोधपुर में कुछ लोग ऐसे हैं, जो रावण यानि दशानन के दहन का बाकायदा शोक मनाते हैं। ये लोग अपने आप को रावण का वंशज मानते हैं। ऐसा माना जाता है कि रावण का मंदोदरी के साथ जोधपुर के मंडोर में विवाह हुआ था। उस समय रावण के वंशज जो श्रीमाली समाज के गोदा गोत्र के लोग हैं, वह बारात में आए थे और यहीं बस गए थे। तभी से यह लोग जोधपुर में ही निवास कर रहे हैं।
आगे पढ़ें >>

यहां है रावण का मंदिर और एेसे मनाया जाता है शोक

Share this article
Tags: dashanan , dussehra , dussehra 2017 , vijaya dashmi , ravana , rajasthan , hindi news ,

Also Read

दशहरा 2017: जानिए पांच ऐसे स्थान जहां पर होती है रावण की पूजा

दशहरा 2017: बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है विजयादशमी, आज ऐसे करें पूजा

देहरादून: आज परेड मैदान में जलेगा बीस हाथ वाला सबसे बड़ा रावण, सीएम होंगे कार्यक्रम के चीफ गेस्ट

रावण का वध करने के बाद यहां आकर श्री राम ने किया था पश्चाताप, वर्षों तक तपस्या में रहे थे लीन

Most Popular

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

पहली बार मिलने आई पत्नी से राम रहीम ने कही ऐसी बात, फूट-फूट कर रोई वो

Dhanteras 2017: भूलकर भी आज न खरीदें ये 4 चीजें, होता है अशुभ

10 साल से एक हिट के लिए तरस रहे थे बॉबी देओल, सलमान खान ने खोल दी किस्मत

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?