ग्वालियर से जुड़े हैं महात्मा गांधी की हत्या के तार? याचिका दायर, कल सुनवाई

Home›   INDIA NEWS›   mahatma Gandhi murder case PIL reopening October 6

टीम डिजिटल, अमर उजाला

mahatma Gandhi murder case PIL reopening October 6

महात्मा गांधी की 148वीं जयंती के साल में भी कई लोगों के मन में तरह-तरह के सवाल हैं जैसे किस पिस्टल से गांधी की जान ली गई, उनको कितनी गोलियां मारी गईं और क्या कोई दूसरा भी शूटर था। अब महात्मा गांधी की हत्या से जुड़े केस को फिर से खोलने के लिए याचिका दायर की गई है जिसकी सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में छह अक्टूबर को होगी। यह याचिका वीर सावरकर को मानने वाले डॉ पंकज पधानी ने दायर की है। पंकज ने जनहित याचिका में सवाल उठाया है कि गांधी पर तीन नहीं बल्कि चार गोलियां चलाई गई थीं। याचिका पहले हाई कोर्ट में दायर की गई थी जिसको रद्द कर दिया गया था अब उसे सुप्रीम कोर्ट में दायर किया गया है। पढ़ें: क्या आप जानते हैं गोडसे ने क्यों की महात्मा गांधी की हत्या? याचिका में कहा गया है कि एक बजे के करीब जब बापू को नहलाने के लिए लाया गया तो सब रो रहे थे। उनकी धोती, शॉल और रुमाल पूरी तरह से खून में रंगे हुए थे। तब कपड़ों से एक चौथी गोली निकल कर आई थी। यह बात पंकज ने मनुबेन की डायरी को आधार बनाकर कही है। मनुबेन उस दिन गांधी के साथ थीं। याचिका के साथ मई 1948 का एक पत्र भी शामिल है। पत्र दिल्ली के आई जी पुलिस ने साइंटफिक लेब के डायरेक्टर को लिखा था। पूछा गया था कि क्या चौथी गोली उन बंदूकों में से किसी एक से निकली है जिनको ग्वालियर से जब्त किया गया था। पत्र के जवाब में डायरेक्टर ने इस बात से इंकार किया कि गोली जब्त की गई किसी बंदूक से चलाई गई।
आगे पढ़ें >>

क्या है ग्वालियर कनेक्शन?

Share this article
Tags: mahatma gandhi , mahatma gandhi murder case ,

Most Popular

हनीप्रीत को लेकर नई जानकारी आई सामने, राम रहीम के बारे में कह गई बड़ी बात

10 साल से एक हिट के लिए तरस रहे थे बॉबी देओल, सलमान खान ने खोल दी किस्मत

Dhanteras : भूलकर भी इस ‌दिन न खरीदें ये 4 चीजें, होता है अशुभ

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

बेटी के पिता हैं तो ये वाला बैंक अकाउंट खुलवा लें, करोड़पति बन सकते हैं

Dhanteras 2017: भूलकर भी न खरीदें ये 5 चीजें, मालामाल की जगह हो जाएंगे कंगाल