आसमान से कहर बनकर गिरे ओले

Home›   City & states›   crops distroy by bad weather

कुल्लू/पतलीकूहल/न्यूली।

crops distroy by bad weather PC: amarujala

 जिला के बागवानों पर एक बार फिर आसमान से आफत बरसी है। रविवार शाम को उझी घाटी के डोभी, रायसन, शिरढ़, जाणा, अरछंडी, कराड़सू, फोजल, माहिली, बैंची, नशाला, तराशी, बड़ाग्रां, काईस, घुड़दौड़ और पतलीकूहल में जमकर ओलावृष्टि हुई। ओलों का कहर इतना अधिक था कि पेड़ों से फल और पत्ते जमीन पर गिर गए। ओलावृष्टि से सेब, नाशपाती, पलम की 50 फीसदी फसल को नुकसान हुआ है। जबकि नगदी फसलें टमाटर, मटर, गोभी आदि भी खराब हो गई हैं। ओलावृष्टि से घाटी के बागवानों में मायूसी छा गई है।  बागवान रामलाल, आशीष, अविनाश, सुभाष, राकेश, सुनीता, विमला, पंछीराम, गिरीश, पदम, जितेंद्र, खुशहाल और रमेश ने बताया कि रविवार को खिली धूप के बाद दोपहर के बाद मौसम एकाएक खराब हो गया। देखते ही देखते आसमान में काले बादल छाते ही छोटे-बड़े ओले गिरने लगे। कुछ देर में ओलावृष्टि  से सफेद चादर बिछ गई। मटर दाने के साइज के ओले गिरने से उझी घाटी के बागवानों की आर्थिकी कमर टूट गई है।  उधर सैंज की अति दुर्गम पंचायत शांघड के अंतिम गांव लपाह में शनिवार देर शाम को भारी ओलावृष्टि होने से सेब सहित अन्य फसलों को नुकसान हुआ है। इसके अलावा मणिकर्ण घाटी के जल्लूग्रां में भी ओलावृष्टि ने भारी तबाही मचाई है। यहां 30 से 40 प्रतिशत तक सेब, पलम, नाशपाती की खड़ी फसल को क्षति पहुंची है। लपाह वार्ड के पंच बेली राम ने कहा कि ओलों से सेब की करीब 30 फीसदी फसल को नुकसान हुआ है। कुल्लू फलोत्पादक मंडल के अध्यक्ष महेंद्र उपाध्याय का कहना है कि ओलावृष्टि को लेकर सूचना आई हैं। उन्होंने उद्यान विभाग और प्रशासन से ओलावृष्टि से निपटने के लिए योजना लाने की मांग रखी है। वहीं, उपायुक्त यूनुस ने बताया कि नुकसान का आकलन किया जा रहा है। 
Share this article
Tags: ,

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

सलमान खान के लिए असली 'कटप्पा' हैं शेरा, एक इशारे पर कार के आगे 8 km तक दौड़ गए थे

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब