लीची स्कवैश का सैंपल फेल, विभाग ने ठोका दस हजार जुर्माना

Home›   City & states›   sample fail, ten thousand fine

अमर उजाला ब्यूरो, चंबा

 पिछले साल मिंजर मेले में लीची स्कवैश बेच रहे विक्रेता को स्वास्थ्य विभाग ने दस हजार रूपये जुर्माना ठोका है। मिंजर मेले के दौरान विक्रेता की दुुकान से स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लीची स्कवैश के सैंपल भरे थे। जिसे जांच के लिए कंडाघाट लैब भेजा गया। जहां पर सैंपल को फेल कर दिया गया जिसकी रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग के पास पहुंचने के बाद लीची स्कवैैश की बिक्री पर रोक लगा दी गई थी। साथ ही निर्माता कंपनी व विक्रेता को नोटिस जारी किए गए थे। उसके बाद से यह केस लंबित पड़ा था। जिसको लेकर सोमवार को स्वास्थ्य विभाग के डीओ कार्यालय में इसकी सुनवाई हुई। साथ ही केस का निपटारा भी किया गया। इसमें विक्रेता को दस हजार रुपये का जुर्माना ठोका गया। साथ ही सख्त हिदायत दी गई कि वह दोबारा इस प्रकार की घटिया खाद्य वस्तुओं की बिक्री न करें। स्वास्थ्य विभाग लोगों की सेहत को लेकर काफी गंभीर है। जिला के विभिन्न स्थानों पर जाकर खाद्य वस्तुओं के सैंपल भरे जा रहे हैं। हाल ही में स्वास्थ्य विभाग ने बर्फी के सैंपल भरे थे।     स्वास्थ्य विभाग के डीओ महेश कश्यप ने बताया कि पिछले वर्ष मिंजर मेले के दौरान लीची स्कवैश का सैंपल फेल हुआ था। जिसका निपटारा सोमवार को डीओ कार्यालय में किया गया। इस दौरान विक्रेता को दस हजार रुपये जुर्माना लगाया गया है। साथ ही यह हिदायत दी गई है कि भविष्य में इस प्रकार के घटिया खाद्य वस्तुओं की बिक्री न करे।
Share this article
Tags: sample fail , ten thousand fine ,

Also Read

हिमाचल में तूफान-ओलावृष्टि से भारी तबाही, एक की मौत

ग्राम रोजगार सेवकों के 750 पदों पर भर्ती, जल्दी करें कहीं मौका छूट ना जाए

दुकान में घुस कर पीटा दुकानदार

सेरी नाले में धंसा डंगा, 15 मवेशियों की मौत

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

पर्स में नहीं होनी चाहिए ये 5 चीजें, रखने पर होता है धन का नुकसान

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब

आप रद्द करवा सकते हैं किसी भी पेट्रोल पंप का लाइसेंस, अगर नहीं मिलीं ये सेवाएं