संवाद लोकतंत्र की सबसे बड़ी ताकत : योगी आदित्य नाथ

Home›   City & states›   संवाद लोकतंत्र की सबसे बड़ी ताकत : योगी आदित्य नाथ

Rohtak Bureau

अमर उजाला ब्यूरोरोहतक।यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का कहना है कि लोकतंत्र में संवाद सबसे बड़ी ताकत होती है, जिसके माध्यम से बड़ी से बड़ी समस्या का समाधान निकाला जा सकता है। योगी आदित्यनाथ वीरवार को बाबा मस्तनाथ इंजीनियरिंग कॉलेज अस्थल बोहर में महंत चांद नाथ योगी की स्मृति में नैतिक मूल्य एवं चरित्र निर्माण विषय पर आयोजित समारोह में पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने करीब 29 मिनट तक लगातार छात्रों के सामने विचार रखे।योगी आदित्य नाथ ने कहा कि अगर सकारात्मक दृष्टिकोण से कार्य किया जाए तो सफलता का प्रतिशत भी बढ़ जाता है। किसी मंदिर में भगवान अपने हाथ से भक्त की समस्या दूर नहीं करता, बल्कि मंदिर या मठ में जाने से व्यक्ति के अंदर की नकारात्मक भावना सकारात्मक ऊर्जा में बदल जाती है। यहीं उसकी सफलता का आधार होता है। उन्होंने कहा कि जीवन में कभी भी संघर्ष की प्रवृत्ति को पलायन नहीं करना चाहिए। चाहे इसके लिए कितने ही कठिन से कठिन रास्ते क्यों न अपनाने पड़े।महंत चांदनाथ योगी का उदाहरण देते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विचार कभी मरते नहीं है। लोक कल्याण, राष्ट्र कल्याण, नाथ संप्रदाय और विश्वविद्यालय के लिए किए गए कार्यों के लिए महंत चांदनाथ को हमेशा याद रखा जाएगा। महंत चांदनाथ नाथ संप्रदाय के लिए एक मणि की तरह थे और उन्होंने संप्रदाय को संगठित करने व आगे बढ़ाने में अहम योगदान दिया। उन्होंने कहा, महंत चांदनाथ ने सीख दी कि व्यक्ति को आधुनिक और पुरातन दोनों में समन्वय करके ही आगे बढ़ना होगा। उनकी सोच का ही परिणाम था कि मठ के अंदर यूनिवर्सिटी शुरू कर दिया। यूपी के सीएम ने कहा कि महंत चांदनाथ योगी की इच्छा अनुसार बाबा मस्तनाथ स्मृति मंदिर का निर्माण कार्य यथासमय पूरा होगा और इस विद्यालय को एक नई दिशा मिलेगी। इसके बाद महंत बालकनाथ ने योगी आदित्यनाथ को गद्दा और तलवार भेंटकर मठ में पहुंचने पर धन्यवाद किया। योगी आदित्यनाथ शाम को करीब 3:40 पर विश्वविद्यालय के मैदान में हेलीकाप्टर से पहुंचे। उनका स्वागत सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता महंत बालकनाथ योगी ने की। कहा कि वे महंत चांदनाथ के दिखाये हुए रास्ते पर चलते हुए उनके सपनों को साकार करने का काम करेंगे। बाबा मस्तनाथ विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. मारकंडे आहूजा ने स्वागत भाषण दिया। इस मौके पर उत्तर प्रदेश की कैबिनेट के मंत्री नंद गोपाल गुप्ता भी मौजूद रहे।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

पर्स में नहीं होनी चाहिए ये 5 चीजें, रखने पर होता है धन का नुकसान

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब