पीजीआई में 3 दिन की हड़ताल में गई 31 की जान, 3 घंटे में माने प्रबंधन और डॉक्टर

Home›   City & states›   पीजीआई में 3 दिन की हड़ताल में गई 31 की जान, 3 घंटे में माने प्रबंधन और डॉक्टर

Rohtak Bureau

अमर उजाला ब्यूरोरोहतक। पीजीआई में तीन दिन से चल रही रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल वीरवार को समाप्त हो गई। हड़ताल के दौरान करीब 31 लोगों की मौत हुई। हालांकि मौत की असल वजह हड़ताल थी या कुछ और, ये जांच का विषय है। वहीं तीन घंटे तक चली बैठक के बाद कुछ मांगों में प्रबंधन ने हामी भर दी तो कुछ मांगे न माने जाने पर भी डॉक्टरों ने सहमति जता दी। इसके बाद हड़ताल समाप्त करते हुए सभी डॉक्टर काम पर लौट आए। पीजीआई के लेबर रूम से चोरी हुए बच्चे की जांच के दौरान पुलिस पूछताछ से नाराज रेजिडेंट डॉक्टर मंगलवार देर शाम हड़ताल पर चले गए थे। एस्मा के बावजूद हड़ताल पर जाने के बाद प्रबंधन और डीएमईआर डायरेक्टर ने उन्हें समझाया। बावजूद वह नहीं मानें। डॉक्टरों का कहना था कि जांच के नाम पर पुलिस डॉक्टरों को परेशान कर रही है। इसके लिए डॉक्टरों ने पूछताछ के दौरान साथ में सीनियर अधिकारी भेजने के अलावा कई मांगों को पीजीआई प्रबंधन के सामने रखा। वीरवार को कुलपति कार्यालय में संस्थान के प्रशासनिक अधिकारियों, विभागाध्यक्षों, प्रशासनिक अधिकारियों, सिविल सर्जन, पुलिस प्रशासन और आरडीए की बैठक हुई। जब रेजिडेंट डॉक्टरों की मांगों पर सहमति बनी तो आरडीए प्रधान ने हड़ताल वापस लेने पर सहमति जताई। बैठक का निष्कर्ष यह निकला कि डॉक्टरों को पुलिस जांच पर कोई आपत्ति नहीं थी, वह सिर्फ अपनी सुरक्षा को लेकर संशय में थे। यदि अधिकारियों के साथ पहले ही सभी मुद्दों पर बातचीत हो जाती तो तीन दिन में हजारों मरीजों को परेशानी न झेलनी पड़ती। डॉक्टरों ने बताया कि जब उनके डॉक्टरों को कहा गया कि वह अग्रिम जमानत करा लें तो सारा मामला बिगड़ा था।बैठक में जमकर बहसबैठक के दौरान विभागध्यक्षों के बीच जमकर बहस हुई। इसमें एक-दूसरे की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए गए। कमीशन खोरी का भी एक दूसरे पर आरोप लगाया गया। बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री मास्टर हुकुम सिंह के केस में लापरवाही का मामला भी उठाया गया।लिखित में दिया आश्वासन तो की हड़ताल समाप्त : ग्रेवालरेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के प्रधान डॉ. जंगबीर ग्रेवाल ने बताया कि प्रबंधन ने उनको लिखित में आश्वासन दिया है तो उन्होंने हड़ताल को समाप्त किया है। वह अधिकारियाें से मिलने कमेटी के साथ 20 सदस्य भी साथ गए थे। उन्होंने दोपहर 2 बजकर 45 मिनट पर हड़ताल समाप्त करने का आश्वासन दिया था और बाहर आकर उन्होंने साथियों से बात की और हड़ताल समाप्त कर दी। शाम चार बजे तक सभी रेजिडेंट डॉक्टरों ने ड्यूटी ज्वाइन कर ली। इन पर बनी सहमतिप्रबंधन ने आश्वासन दिया कि वह रेजिडेंट डॉक्टरों की जिम्मेदारी लिखित में देंगे। इसमें एमसीआई के अनुसार रेजिडेंट के कार्यों का स्टेंडर्ड प्रोेटोकॉल फॉलो किया जाएगा। इसके साथ जब भी पुलिस उन्हें पूछताछ के लिए बुलाएगी, उनके साथ प्रोफेसर या सीनियर प्रोफेसर, लीगल एडवाइजर, सुरक्षा अधिकारी साथ रहेंगे। जो भी थाने से कॉल आएगी वह एमएस कार्यालय के जरिए आएगी। इस पर नहीं बनी सहमतिबातचीत के दौरान उन्हें एस्मा एक्ट की धमकी दी गई। रेजिडेंट डॉक्टरों ने अपना पक्ष रखा कि इस मामले में रेजिडेंट की कोई गलती बनती ही नहीं। उन्हें पुलिस जांच से कोई परहेज नहीं है, लेकिन वह सिस्टम से हो। संस्थान में प्रबंधन सही काम नहीं करता और जूनियर को फंसाया जाता है। उन्होंने कहा कि इस मामले में चिकित्सा अधीक्षक पर कार्रवाई होनी चाहिए या उनको स्वयं नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। लेकिन प्रबंधन ने इससे इनकार कर दिया। इस मौके पर डॉ. जेपी रावलीवाल, डॉ. परितेव सिंह, डॉ. बिजेंद्र ढांडा, डॉ. विक्रम धत्तरवाल, डॉ. महेश खत्री, डॉ. कुलदीप, डॉ. दया, डॉ. प्रियंका नारंग, धीरज गुलिया आदि मौजूद रहे। ऐसे चला घटनाक्रमकुलपति की ओर से रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल को लेकर 11 बजे बैठक बुलाई गई थी। इसे बाद में किन्हीं कारणों के चलते आधा घंटे देरी रहते साढे़ 11 बजे बैठक शुरू हुई। 12 बजे तक पहले अधिकारियों की प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक हुई। इसके बाद 12 बजे से तीन बजे तक विभागध्यक्षों और उसके बाद आरडीए के प्रधान, पदाधिकारी और डॉक्टरों से बातचीत हुई। इसके बाद तीन से चार बजे तक पीड़ित परिवार से अधिकारियों ने बात की।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

पहली ही जंग में आमिर की 'सीक्रेट सुपरस्टार' से आगे निकली अजय की 'गोलमाल अगेन'

26 अक्टूबर को शनि बदलेंगे अपनी चाल, 3 राशि से हटेंगी शनि की तिरछी नजर

पार्टी में अमिताभ बच्चन की पोती से मिलीं रेखा, ऐश्वर्या ने कहा कुछ ऐसा जिससे बिग बी को होगा गर्व

आईफोन पाने के लिए इस लड़की ने पार की सारी हदें, होटल के कमरे में हुआ ये हाल