लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे झोलाछाप चिकित्सक पर कसा शिकंजा

Home›   City & states›   लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे झोलाछाप चिकित्सक पर कसा शिकंजा

Rohtak Bureau

अमर उजाला ब्यूरो भूना।स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पुराना बाजार स्थित गैर कानूनी तरीके से चलाए जा रहे कंबोज क्लीनिक पर छापामार कार्रवाई करते हुए झोलाछाप चिकित्सक को मौके पर ही धर दबोचा है। औचक निरीक्षण के दौरान टीम ने जहां क्लीनिक में रखी विभिन्न दवाईयों को बरामद कर लिया है, वहीं क्लीनिक को सील करके जांच शुरू कर दी है। स्वास्थ्य विभाग की टीम के औचक निरीक्षण के बाद चिकित्सक व उसके कथित स्टाफ में हड़कंप मच गया। हालांकि कार्रवाई के दौरान स्टाफ भागने में कामयाब हो गया, जबकि स्वंभू चिकित्सक टीम के हत्थे चढ़ गया। विभागीय टीम ने कथित डॉक्टर को हिरासत में ले लिया है। यूं हुई कार्रवाईबुधवार शाम पौने 4 बजे के जिले के डिप्टी सीएमओ डॉ. गिरीश कुमार व जिला ड्रग इंस्पेक्टर विजय राजे तथा सीएचसी भूना के एसएमओ डॉ. रुस्तम की टीम ने पुराना पंजाब नेशनल बैंक के निकट पिछले कई वर्षों से लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे भजन कंबोज नामक स्वयंभू चिकित्सक के क्लीनिक पर दबिश दी। कथित क्लीनिक का पूरा रिकार्ड खंगाला। लाइसेंस अथवा डिग्री की मांग करने पर स्वयंभू चिकित्सक कोई प्रमाणित अथवा मान्यता प्राप्त डिग्री भी पेश नहीं कर पाया। बिहार की किसी गैर मान्यता प्राप्त डिग्री को टीम ने सिरे से नकार दिया। जिसके बाद टीम ने संदेह के आधार पर क्लीनिक में रखी दवाओं को भी कब्जे में ले लिया। 56 प्रकार की दवाईयां बरामद, क्लीनिक सीलजिला ड्रग इंस्पेक्टर डॉ. विजय राजे ने बताया कि क्लीनिक से अलग-अलग 56 प्रकार की दवाईयां बरामद की गई है, जिन्हें बिना डिग्री के चिकित्सक मरीजों को दे रहा था। वहीं चिकित्सा संबंधी उपकरण, दवाईयां की खाली व भरी बोतलें, सीरिंज तथा अन्य समान भी टीम ने बरामद कर लिया है। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने क्लीनिक को सील कर दिया और झोलाछाप चिकित्सक भजन कंबोज को हिरासत में ले लिया है। 8 वर्षों से कर रहा था लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़बिना किसी डिग्री व बिना किसी लाइसेंस अथवा परमिट के उक्त चिकित्सक पिछले करीब 8 वर्षों से सस्ती दवाईयों व सस्ते उपचार के नाम पर मरीजों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहा था। क्लीनिक के नाम पर रोजगार चला रहे चिकित्सक की शिकायत स्वास्थ्य विभाग फतेहाबाद की टीम को मिली तो सीएमओ व स्टाफ हरकत में आ गया। बुधवार को सांय पौने 4 बजे एसएमओ व ड्रग इंस्पेक्टर के नेतृत्व में गठित टीम जब मौके पर पहुंची तो रोजगार का माध्यम बने क्लीनिक पर करीब आधा दर्जन मरीज थे। टीम को देखकर झोलाछाप डॉक्टर ने मरीजों को चुपके से निकाल दिया। शिकायत के बाद हुई कार्रवाई : डिप्टी सीएमओ डिप्टी सीएमओ डॉ. गिरीश कुमार ने बताया कि पुराना बाजार में पुराना पंजाब नेशनल बैंक के निकट झोलाछाप डॉक्टर हरभजन कंबोज की ओर से अवैध रूप से बिना डिग्री क्लीनिक चलाए जाने व लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ किए जाने की शिकायत स्वास्थ्य विभाग फतेहाबाद की टीम को मिली थी। जिसके बाद टीम ने औचक निरीक्षण किया और दवाईयां, सीरिंज व अन्य उपकरण बरामद करके क्लीनिक को सील कर दिया है। उन्होंने बताया कि कथित झोलाछाप डॉक्टर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

Dhanteras 2017: भूलकर भी आज न खरीदें ये 4 चीजें, होता है अशुभ

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

पहली बार मिलने आई पत्नी से राम रहीम ने कही ऐसी बात, फूट-फूट कर रोई वो

10 साल से एक हिट के लिए तरस रहे थे बॉबी देओल, सलमान खान ने खोल दी किस्मत

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?