23 साल से कैकेयी का रोल निभा रहे हैं आरिफ हुसैन

Home›   City & states›   23 साल से कैकेयी का रोल निभा रहे हैं आरिफ हुसैन

Rohtak Bureau

23 साल से कैकेयी का रोल निभा रहे आरिफ को कंठस्थ हैं संस्कृत में संवादलोहारू। आदर्श रामलीला के मंचन में कैकेई का रोल अदा करने वाले आरिफ हुसैन पर दर्शकों की खास नजर रहती है। रामलीला मंचन में आरिफ हिंदी के साथ-साथ संस्कृत के श्लोक कंठस्थ हैं। 1994 में आरिफ ने शहर के बाल कलाकारों द्वारा की जा रही रामलीला में कैकेयी के रोल में अपनी एंट्री की। आरिफ का कहना है कि 1994 से वह लगातार शहर की मुख्य रामलीला में केकैयी का रोल करता आ रहा है और जरूरत पड़ने पर वह सीता और अन्य पात्रों का रोल भी निभाता है। आरिफ हुसैन मुस्लिम समुदाय से होते हुए जिस प्रकार से रामलीला के संस्कृत के संवाद बोलते हैं तो इनमें एक मंजे हुए कलाकार का रूप दिखाई देता है। आरिफ हुसैन ने बताया कि उसे बचपन से ही रामलीला का शौक था। उनके मन की इच्छा को उस समय पंख लगे जब लोहारू की रामलीला में लंबे समय तक राम का रोल अदा करने वाले स्व. नंदलाल छाबड़ा की प्रेरणा से मिली। आरिफ का कहना है कि इस दौरान लोहारू की रामलीला मंच के डेकोरेशन के काम को भी किया है। दो वर्ष पूर्व ही 2015 में इन्होंने सीता हरण के सीन को अपनी स्वयं की तकनीक से जमीन से तीन फिट ऊपर हवा में मंचन कराया।स्थानीय सब्जी मंडी में कृषि उपकरणों की दुकान चलाने वाले आरिफ मोहम्मद ने बताया कि दिन के समय वह अपनी दुकान पर काम करता है और रात्रि में रामलीला मंचन का कार्य पूरे उत्साह और उमंग से करता है। आरिफ का कहना था कि वह आठवीं कक्षा तक पढ़ पाया है परंतु रामलीला के संवाद बोलने में उसे कोई परेशानी नहीं होती। केकैयी के पात्र के सारे संवाद उसे कंठस्थ याद है।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

रिलायंस जियो के बदल गए सभी प्लान, रिचार्ज कराने से यहां देखें पूरी लिस्ट

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

दिवाली पर ये हैं लक्ष्मी पूजन के तीन शुभ मुहूर्त, इस विधि से करेंगे पूजा तो हो जाएंगे मालामाल

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा