आकर्षक और फिट दिखना चाहते हैं तो काम के हैं ये गहनें

Home›   Fashion tips›   bio magnetic jewellery in trend

टीम डिजिटल/अमर उजाला

bio magnetic jewellery in trendPC: getty images

अगर कोई आभूषण सौंदर्य के साथ-साथ सेहत भी सुधारे, तो इस ज्‍वेलरी को शायद आप भी पहनना पसंद करें। बायो-मैग्‍नेटिक ज्‍वेलरी उन्हीं में से एक है। वैकल्पिक चिकित्सा पद्धति में चुम्बकों का प्रयोग बहुत पुराना है। तब यूनानी लोग चुम्बक दिमाग पर लगाकर सिरदर्द ठीक किया करते थे। किसी अंग के मांस या मसल्स की सूजन को कम करने के लिए उस पर चुम्बक रखा जाता था। आज भी कई जगहों पर इस पद्धति के प्रयोग से जोड़ों के दर्द, गठिया आदि का इलाज किया जा रहा है। इसके लिए चुम्बकीय पेंडेंट, चुम्बकीय जूते, चुम्बकीय ब्रेसलेट, नेकलेस आदि का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसे बायो-मैग्‍नेटिक यानी चुंबकीय ज्वेलरी कहते हैं। इसके माध्यम से अदृश्य चुम्बकीय रेखाएं परोक्ष रूप में हमारे शरीर पर पॉजिटिव प्रभाव डालती हैं। चुंबकीय गुणों से युक्‍त ये गहनें अनिद्रा, कब्ज, सिरदर्द, गठिया, पीठ दर्द जैसी समस्याओं में राहत ही नहीं देते, बल्कि देख्‍ाने में ये सुंदर भी लगते हैं, जिसे आप स्टाइल के तौर पर भी पहन सकती हैं। unltdoffers.com के सीईओ चिराग हरिया कहते हैं कि न केवल बड़े शहरों, बल्कि छोटे शहरों में भी लोग इसे पसंद कर रहे हैं। विशेषकर यंग लड़कियां और कामकाजी महिलाएं इसे खूब पसंद कर रही हैं। फैशन के साथ यूथ की पसंद को मिलाकर खास तरह की बायो-मैग्नेटिक ज्वेलरी डिजाइन की गई है, जिसमें मैग्नेट का भी प्रभाव रहता है।′ वैसे भी बाजार में बिकने वाली ज्‍यादातर आर्टिफीशियल ज्वेलरी में लेड और नुकसानदायक पेंट होते हैं, जो त्वचा में एलर्जी का कारण भी होते हैं। लेकिन इस ज्‍वेलरी का कोई नुकसान नहीं है। इस तरह की ज्‍वेलरी को कुछ वेबसाइट ऑनलाइन उपलब्‍ध करवा रहे हैं जैसे-unltdoffers.com, snapdeal.com आदि।
Share this article
Tags: ,

Also Read

अगर दिखते हैं मोटे तो अपने स्टाइल से छुपाएं मोटापा

अपने लुक से मुमताज की याद ताजा करेंगी अनुष्का

यू-ट्यूब पर मेकअप टिप्स देकर ये हसीना बनी स्टार

Most Popular

बिहार की लड़की ने प्रेमी की डिमांड पर पार की सारी हदें, दंग रह गए लोग

आप रद्द करवा सकते हैं किसी भी पेट्रोल पंप का लाइसेंस, अगर नहीं मिलीं ये सेवाएं

पर्स में नहीं होनी चाहिए ये 5 चीजें, रखने पर होता है धन का नुकसान

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज