Baadshaho Movie Review: शाही अंदाज के धोखे में ना रहें

Home›   Movie Review›   movie review of ajay devgn and emran hashmi film baadshaho

रवि बुले

movie review of ajay devgn and emran hashmi film baadshaho

-निर्माताः भूषण कुमार/कृषन कुमार -निर्देशकः मिलन लुथरिया -सितारेः अजय देवगन, इमरान हाशमी, इलियाना डिक्रूज, विद्युत जामवाल, ईशा गुप्ता, संजय मिश्रा रेटिंग **   वो इश्क ही क्या जो बर्बाद न करे। वाकई सिनेमा से इश्क भी बर्बाद करता है। वक्त और पैसा दोनों। खास तौर पर जब फिल्म बादशाहो जैसी हो। जिसमें राइटर-डायरेक्टर को पता न हो कि आखिर क्या कहना है? क्या वह कहना चाहते हैं कि इमरजेंसी के दौर में एक विधवा महारानी का खजाना सरकार ने लूट लिया या लूटने की कोशिश की थी? वह महारानी अपने जगप्रसिद्ध सौंदर्य का इस्तेमाल लोगों को अपना प्यादा बनाने में करती थी? वह दिखावे के लिए अपनी जनता के प्रति रहम दिल थी मगर असल में उनका खून पीती थी? इतिहास के पन्ने खून और धोखे से सने हैं। चूंकि इस कहानी के प्रेरणा-सूत्र कयासों की धुंध में है तो लेखक-निर्देशक ने अपनी कल्पना से ऐसा रायता फैलाया कि अंत में उन्हीं से समेटते नहीं बना। किसी फिल्म का बादशाहो जैसा खराब क्लाइमेक्स वर्षों में आपने नहीं देखा होगा। इसके लिए आप जरूर यह फिल्म देख सकते हैं।
आगे पढ़ें >>

Share this article
Tags: baadshaho , ajay devgn , emran hashmi , movie review , bollywood ,

Also Read

बादशाहो के संगीत की कहानी, मनोज मुंतशिर की जुबानी

Movie Review: सेकंड हाफ में बहकी 'शुभ मंगल सावधान'

इंतजार हुआ खत्म! कल आएगा राजकुमार राव की फिल्म 'न्यूटन' का ट्रेलर

Movie Review: निशाने पर नहीं लगी 'बाबूमोशाय' की गोली

Most Popular

13 साल की उम्र में एक राजा ने बेगम अख्तर को दिया था ऐसा जख्म, हादसे के बाद बन गई थीं मां

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब

हेमा मालिनी ने पहली बार खोला सौतेले बेटे सनी देओल के साथ संबंधों का राज

26 अक्टूबर को शनि बदलेंगे अपनी चाल, 3 राशि से हटेंगी शनि की तिरछी नजर

पार्टी में अमिताभ बच्चन की पोती से मिलीं रेखा, ऐश्वर्या ने कहा कुछ ऐसा जिससे बिग बी को होगा गर्व

Dhanteras 2017: भूलकर भी न खरीदें ये 5 चीजें, मालामाल की जगह हो जाएंगे कंगाल