गुरदासपुर उपचुनाव: अंतिम चरण में पहुंचा प्रचार, नहीं आए बाजवा

Home›   City & states›   Gurdaspur Loksabha bypoll, electon campaign in final phase

अखिल तलवार/अमर उजाला, चंडीगढ़

Gurdaspur Loksabha bypoll, electon campaign in final phasePC: File Photo

गुरदासपुर लोकसभा उप चुनाव में प्रचार अंतिम चरण में पहुंच चुका है। लेकिन इस हलके की नुमाइंदगी करने वाले राज्यसभा सदस्य प्रताप बाजवा अब तक नहीं आए हैं। सियासी माहिरों का मानना है कि चुनाव के समय गुरदासपुर से गैर-मौजूदगी सियासी तौर पर बाजवा के लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकती है। बाजवा गुरदासपुर सीट के कादियां विधानसभा हलके का प्रतिनिधित्व करते थे। 2009 में वह गुरदासपुर से सांसद बने। फिर उनकी पत्नी चरनजीत कौर बाजवा कादियां से विधायक बनीं। 2014 में बाजवा, विनोद खन्ना से हार गए। उन्हें राज्यसभा सदस्य बना दिया गया। कादियां से अब उनके भाई फतेह बाजवा विधायक हैं। सुनील जाखड़ की जगह अपनी पत्नी चरनजीत कौर बाजवा के लिए टिकट मांग रहे बाजवा का अब तक प्रचार को नहीं आना पहेली बना है। जाखड़ की उम्मीदवारी पर हाईकमान ने मोहर लगाई है। अगर बाजवा अपने ही परंपरागत हलके में जाखड़ के लिए प्रचार नहीं करते हैं तो उन पर बागी का लेबल लगेगा। दूसरे, बाजवा के न आने से सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह गुट को बहुत नुकसान होता नहीं नजर आ रहा है। शुरूआत में जरूर परेशानियां आईं कि अगर बाजवा नहीं चले तो कैसे होगा। लेकिन कैप्टन के रणनीतिकार कैप्टन संदीप संधू ने सारी कमान संभाल ली। जाखड़ ने सभी हलकों का एक दौरा किया और सभी चल पड़े। बाजवा के भाई फतेह बाजवा समेत उनके सभी करीबी इस समय जाखड़ की खुल कर मदद कर रहे हैं। जिनमें रमन भल्ला, अमित विज, जोगिंदर पाल, अशोक चौधरी आदि शामिल हैं। आजाद चुनाव लड़े नरेश पुरी ने भी जाखड़ के समर्थन का एलान कर दिया है। अब बाजवा समर्थक गिने-चुने जिले के पदाघिकारी हैं, जो अभी तक नहीं चले हैं। जिनसे कैप्टन गुट को खास खतरा नहीं है। अगर बाजवा समर्थक विधायक नहीं चलते तो दिक्कत हो सकती थी। सियासी माहिरों का कहना है कि दशहरा बाजवा के लिए उपयुक्त मौका था। वह कैप्टन के साथ मंच सांझा न करते, लेकिन गुरदासपुर में किसी भी समागम में शामिल होकर उपस्थिति दर्ज करा सकते थे।
आगे पढ़ें >>

आप में पंजाब टीम पर ही पूरा दारोमदार

Share this article
Tags: gurdaspur by election , by election , bjp candidate , cm captain amrinder singh , gurdaspur loksabha election , punjab election , gurdaspur election , punjab politics , elections 2017 , गुरदासपुर उपचुनाव , लोकसभा चुनाव ,

Also Read

नाम चर्चा घर से राम रहीम की कीमती ड्रेस चोरी, कई और महंगे सामान भी उड़ा ले गए चोर

इंटरनेट पर दिनभर क्या-क्या करता है आपका बच्चा, 'पैरेंटल कंट्रोल' से सबकुछ रोकिए

कई ATM खाली, आज भी बंद रहेंगे बैंक, कैश की किल्लत है तो ऐसे निपटें

देर रात पार्टी के बाद तीसरी मंजिल से गिरकर जिम केयर टेकर की मौत, हादसा या हत्या?

Most Popular

हनीप्रीत को लेकर नई जानकारी आई सामने, राम रहीम के बारे में कह गई बड़ी बात

10 साल से एक हिट के लिए तरस रहे थे बॉबी देओल, सलमान खान ने खोल दी किस्मत

Dhanteras : भूलकर भी इस ‌दिन न खरीदें ये 4 चीजें, होता है अशुभ

जानिए आखिर कैसे टूटी हनीप्रीत, कैसे कबूला जुर्म, असली सच आया सामने?

बेटी के पिता हैं तो ये वाला बैंक अकाउंट खुलवा लें, करोड़पति बन सकते हैं

Dhanteras 2017: भूलकर भी न खरीदें ये 5 चीजें, मालामाल की जगह हो जाएंगे कंगाल